गोरक्षक के नाम पर किसानो से की मारपीट

योगी सरकार ने जब से गोरक्षक का नियम लागु किया है है तब से हिन्दू संगठन के कुछ लोग ने गोरक्षक के नाम पर राजनीती करने में लगे है खुद ही कानून को अपने हाथो में लेकर फैसला करने में लगे है और वो सही गलत नहीं समझते है ऐसा ही एक मामला जेवर का है जो खुद को गोरक्षक बताकर किसानों से मारपीट करने के मामले में जेवर पुलिस ने 4 नामजद समेत 10 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। आरोप है कि ये लोग कुछ समय से सक्रिय होकर जेवर इलाके में गौशाला कब्जाने की फिराक में थे।
गुरुवार दोपहर सिरसा मांचीपुर निवासी किसान जबर सिंह व भूपसिंह अपने बच्चों को दूध पिलाने के लिए गांव मेहंदीपुर से गाय खरीद कर गांव लौट रहे थे। आरोप है कि जेवर के करीब 10 से 12 लोगों ने खुद को गौ रक्षा दल का सदस्य बताते हुए उनसे गाय को लेकर उल्टे-सीधे सवाल करने के बाद मारपीट करने लगे। इसके बाद उनकी गाय को लूट कर ले जाने लगे। एसपी देहात सुनीति ने बताया कि रात में ही सीओ जेवर और एसडीएम जेवर ने घटना स्थल का दौरा किया। महेश, अशोक, गौरव व ओमप्रकाश निवासी जेवर समेत 10 लोगों के खिलाफ जेवर कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज की गई है।
वहीं गौ रक्षा हिंदू दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष वेद नागर ने कहा है कि इन लोगों से उनके संगठन का कोई लेना-देना नहीं है। वहीं, पीड़ित भूप सिंह का कहना है कि हमला करने वाले तो उन्हें मार ही देते। भीड़ में से किसी ने उनकी मदद नहीं की। जिला अस्पताल में डॉक्टर का कहना है कि घायलों की हालत खतरे से बाहर है।