Greater Noida Latest News

जीबियू में विदेशी छात्रों को परीक्षा में तलाशी से थी छूट, नियम बदलते ही धरे गए 3

परीक्षा हॉल में जाँच को लेकर होता था देशी – विदेशी छात्रों में भेद भाव

गौतमबुद्ध विश्ववविद्यालय में इन दिनों मिड टर्म की परीक्षाएं चल रही है। शुक्रवार को हुई परीक्षा के दौरान विद्यार्थियों की जाँच करने पहुंचे उड़न दस्ते की टीम ने जाँच करना शुरू किया और विदेशी छात्रों की भी जाँच की इच्छा जताई तो वहां मौजूद कुछ शिक्षकों ने उन्हें ऐसा करने से रोकने लगे और कहा कि इससे पहले कभी भी विदेशी छात्रों की जाँच नहीं हुई है और शिक्षक दो गुटों में बट गए एक गुट विदेशी छात्रों की जाँच विरोध कर रहा था तो शिक्षकों का दूसरा गुट जाँच के पक्ष में था उनका कहना था कि नियम सब छात्रों के लिये एक जैसा होना चाहिए चाहे वो स्थानीय हो या फिर विदेशी।

विवि में पता करने पर सूत्रों से पता चला की 2008 से संचालित जीबीयू में कभी भी विदेशी छात्रों की परीक्षा के दौरान जाँच नहीं की गई है। सूत्रों ने यभी बताया कि यह सब एड्मिसन शीट के लिया किया जाता रहा है।

उड़न दस्ते ने शिक्षकों का तर्क सुन यह फैसला लिया की विदेशी छात्रों की भी जाँच हो गी और परीक्षा में बैठे विदेशी छात्रों की जाँच की तो 3 विदेशी छात्र नक़ल करते पकडे गए जिनमे से 2 विदेशी छात्रों को परीक्षा नहीं देने दिया गया जबकि 1 विदेशी छात्र को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया। नक़ल करते पकड़े गए विदेशी छात्रों में 2 छात्रों जिसमें की पहला छात्र बीए इन बुद्धिज़्म व दूसरा एमफिल इन बुद्धिज़्म छात्र है इनके पास से नक़ल वाली पर्ची मिली थी जिसके कारण इनको परीक्षा देने से रोक दिया गया था तीसरा छात्र हाँथ में प्रश्न के उत्तर लिख कर लाया था ।
यह पहली बार हुआ था जब जीबीयू में परीक्षा के दौरान कोई विदेशी छात्रों की जाँच हुई हो और जाँच में नक़ल करते हुए 3 छात्र पकडे गए हों।

जब विवि के रजिस्टार से विदेशी छात्रों के नक़ल करते हुए पकड़े जाने के मामले में पूंछा गया तो ये कहते हुए किनारा कर लिया की मुझे इस मामले में कोई जानकारी नहीं है

जीबियू में विदेशी छात्रों को परीक्षा में तलाशी से थी छूट, नियम बदलते ही धरे गए 3

परीक्षा हॉल में जाँच को लेकर होता था देशी – विदेशी छात्रों में भेद भाव

गौतमबुद्ध विश्ववविद्यालय में इन दिनों मिड टर्म की परीक्षाएं चल रही है। शुक्रवार को हुई परीक्षा के दौरान विद्यार्थियों की जाँच करने पहुंचे उड़न दस्ते की टीम ने जाँच करना शुरू किया और विदेशी छात्रों की भी जाँच की इच्छा जताई तो वहां मौजूद कुछ शिक्षकों ने उन्हें ऐसा करने से रोकने लगे और कहा कि इससे पहले कभी भी विदेशी छात्रों की जाँच नहीं हुई है और शिक्षक दो गुटों में बट गए एक गुट विदेशी छात्रों की जाँच विरोध कर रहा था तो शिक्षकों का दूसरा गुट जाँच के पक्ष में था उनका कहना था कि नियम सब छात्रों के लिये एक जैसा होना चाहिए चाहे वो स्थानीय हो या फिर विदेशी।

विवि में पता करने पर सूत्रों से पता चला की 2008 से संचालित जीबीयू में कभी भी विदेशी छात्रों की परीक्षा के दौरान जाँच नहीं की गई है। सूत्रों ने यभी बताया कि यह सब एड्मिसन शीट के लिया किया जाता रहा है।

उड़न दस्ते ने शिक्षकों का तर्क सुन यह फैसला लिया की विदेशी छात्रों की भी जाँच हो गी और परीक्षा में बैठे विदेशी छात्रों की जाँच की तो 3 विदेशी छात्र नक़ल करते पकडे गए जिनमे से 2 विदेशी छात्रों को परीक्षा नहीं देने दिया गया जबकि 1 विदेशी छात्र को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया। नक़ल करते पकड़े गए विदेशी छात्रों में 2 छात्रों जिसमें की पहला छात्र बीए इन बुद्धिज़्म व दूसरा एमफिल इन बुद्धिज़्म छात्र है इनके पास से नक़ल वाली पर्ची मिली थी जिसके कारण इनको परीक्षा देने से रोक दिया गया था तीसरा छात्र हाँथ में प्रश्न के उत्तर लिख कर लाया था ।
यह पहली बार हुआ था जब जीबीयू में परीक्षा के दौरान कोई विदेशी छात्रों की जाँच हुई हो और जाँच में नक़ल करते हुए 3 छात्र पकडे गए हों।

जब विवि के रजिस्टार से विदेशी छात्रों के नक़ल करते हुए पकड़े जाने के मामले में पूंछा गया तो ये कहते हुए किनारा कर लिया की मुझे इस मामले में कोई जानकारी नहीं है

ग्रेटर नोएडा में श्री रामलीला में बोले प् रवीण तोगड़िया,”संसद में कानून बना हो राम मंदि र का निर्माण”!

ग्रेटर नोएडा में श्री रामलीला कमेटी द्वारा आयोजित की जा रही भव्य रामलीला में विश्व हिन्दू परिषद के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने बोला कि,"संसद में कानून बना हो राम मंदिर का निर्माण"!

“जो करना है सो करें आप, ये धनुष हमने ही तोडा है”, रामलीला कमेटी साइट 4 ग्रेटर नॉएडा में लक्ष ्मण-परशुराम संवाद का हुआ जिवंत चित्रण

आशीष केडिया

ग्रेटर नॉएडा के साइट-4 में चल रही रामलीला कमेटी के रामलीला मंचन में आज भव्य सीता स्वयंवर के साथ लक्षमण- परशुराम संवाद का जिवंत चित्रण हुआ।

आपको बता दे की रामलीला का यह अभिन्न अंग राम-लक्ष्मण-परशुराम संवाद’ बालकांड से लिया गया है। यह तुलसीदास द्वारा रचित है। इस काव्यांश में सीता-स्वयंवर के समय का वर्णन है। शिव धनुष भंग होने का समाचार सुनकर परशुराम क्रोधित होकर सभा में उपस्थित हो जाते हैं। वह उस व्यक्ति पर बहुत क्रोधित होते हैं, जिसने उनके आराध्य देव शिव का धनुष तोड़ा है। वह उसे दण्ड देने के उद्देश्य से सभा में पुकारते हैं। यहीं से राम-लक्ष्मण-परशुराम संवाद का आरंभ होता है। स्थिति को बिगड़ती देखकर राम विनम्र भाव से उनका क्रोध शान्त करने का प्रयास करते हैं। परशुराम को राम के वचन अच्छे नहीं लगते। लक्ष्मण अपने भाई के साथ ऋषि का ऐसा व्यवहार देखकर स्वयं को रोक नहीं पाते। इस तरह इस संवाद में उनका आगमन भी हो जाता है। वह परशुराम जी पर नाना प्रकार के व्यंग्य कसते हैं।

व्यंग और कटाक्ष के बाड़ों से परिपूर्ण यह परशुराम-लक्ष्मण संवाद देश-विदेश की रामलीलाओं में बेहद उत्सुकता के साथ देखा जाता है।

ग्रेटर नॉएडा के साइट 4 में आयोजित हो रही इस रामलीला में आज विश्व हिन्दू परिषद् के फायर ब्रांड नेता प्रवीण तोगड़िया शिरकत कर रहे हैं।

उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री राजे ंद्र प्रताप सिंह ने श्री धार्मिक रामलीला ग्र ेटर नोएडा को बताया अत्यंत भव्य एवं अद्भुत ।

श्री धार्मिक रामलीला कमेटी ग्रेटर नोएडा में चल रही भव्य रामलीला में आज मुख्य अतिथि के तौर पर उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह (मोती सिंह), ग्रामीण अभियंत्रण सेवा विभाग ने शिरकत की !

गोस्वामी सुशील जी महाराज के सानिध्य में होने वाली इस रामलीला में पहुंच कर अभिभूत मंत्री राजेंद्र ने भगवान राम के आदर्शों को जन जन तक पहुंचाने के लिए आयोजकों की प्रसंशा की ।

इस अवसर पर जेवर विधायक ठाकुर धीरेंद्र सिंह के साथ साथ आनंद भाटी शेरसिंह भाटी, अजय नागर, ममता तिवारी, राजकुमार नागर, चैनपाल प्रधान आदि विशिष्ट जन भी मौजूद रहे ।

रामलीला कमेटी साइट 4 में आज होगा सीता-स्वयं वर, विहिप नेता प्रवीण तोगड़िया रहेंगे मुख्य अत िथि

Ashish Kedia

श्री रामलीला कमेटी द्वारा विजयमहोत्सव 2017 का आयोजन साइट 4 स्थित सेन्ट्रल पार्क ग्रेटर नोएडा में रोज की तरह आज भी किया जाएगा ।

आज के कार्यक्रम के मुख्य अथिति डॉ परवीन भाई तोगड़िया अंतरराष्ट्रीय कार्यकारणी अध्यक्ष विश्व हिंदू परिषद व राजेन्द्र प्रताप सिंह मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार होंगें ।

मीडिया प्रभारी विनोद कसाना ने बताया आज रामलीला का मंचन धनुष यज्ञ, सीता स्वयंवर,परशुराम -लक्ष्मण संवाद जनकपुरी में स्वागत,चारों का विवाह और विदाई समारोह का मंचन किया जायेगा।

(फाइल फोटो : कल रामलीला में पधारे थे उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा )

ग्रेटर नॉएडा अथॉरिटी जीएम राजीव त्यागी न े किया सेक्टर बीटा-1 का निरिक्षण !

कल ग्रेटर नॉएडा में आयोजित हुई परीचौक.कॉम चाय पे चर्चा कार्यक्रमके दौरान ग्रेटर नॉएडा अथॉरिटी के जी एम प्रोजेक्ट राजीव त्यागी के समक्ष एक्टिव सिटीजन टीम के सदस्य और बीटा-1 सेक्टर निवासी हरिंदर भाटी ने सेक्टर की समस्याओं को उनके सामने उठाया था और उनसे सेक्टर में भ्रमण करने का अनुरोध किया था।

उस क्रम में तत्पर कार्यवाही करते हुए वरिष्ठ अधिकारी राजीव त्यागी ने आज सेक्टर निवासियों के साथ सेक्टर का दौरा किया और वहां की समस्याओं को सुना।

हरिंदर भाटी ने बताया की , "आज दिनांक 25/09/2017 को हमारे अनुरोध पर प्राधिकरण के जी॰एम॰ श्री राजीव त्यागी जी ने हमारे सेक्टर बीटा -एक का निरीक्षण किया और बहुत ध्यान से सभी समस्याओ को देखा और उनको हल कराने का आश्वासन दिया वो काफ़ी समय पैदल घूम कर ख़ुद जनता की परेशानी का अवलोकन किया ..
जिन समस्याओं को बताया गया वो निम्न है …
१ ) सेक्टर में रोड की स्ट्रीट लाइट ख़राब है और ज़्यादातर पेड़ों के बीच में आने से असुविधा होती है
२ ) सेक्टर में सफ़ाई की व्यवस्था संतोषजनक नहीं है
३ ) सेक्टर के पार्कों की हालत बहुत ही दयनीय स्थिति में है घास व गंदगी सभी जगह है
४ ) रिलायंस फ़ेस वाले मार्केट में गंदगी और अतिक्रमण के कारण बहुत असुविधा का सामना करना पड़ता है
५ ) प्राधिकरण के आवासीय कॉलोनी के सामने पड़े रिक्त स्थान को पार्क के रूप में बनाने का अनुरोध किया
६ ) सेक्टर में अनेकों जगह मलबे के कारण बहुत असुविधा होती है उसे हटाने और मेन हाल के कवर कराने का भी अनुरोध किया
७ ) सेक्टर के बरात घर की सफ़ाई और उसके चारों तरफ़ की चारदीवारी कराने की मॉग की है
हम सभी सेक्टरवासियों की तरफ़ से जी॰एम॰ साहब और उनकी टीम का आभार व्यक्त करते है और उनसे पुनः सेक्टर की समस्याओं को हल कराने की प्रार्थना करते है "!

जी ऍम प्रोजेक्ट राजीव त्यागी ने समस्याओं को जल्द से जल्द निस्तारित करने का भरोषा दिलाया है।

जीबियू में विदेशी छात्रों को परीक्षा में तलाशी से थी छूट, नियम बदलते ही धरे गए 3

परीक्षा हॉल में जाँच को लेकर होता था देशी – विदेशी छात्रों में भेद भाव

गौतमबुद्ध विश्ववविद्यालय में इन दिनों मिड टर्म की परीक्षाएं चल रही है। शुक्रवार को हुई परीक्षा के दौरान विद्यार्थियों की जाँच करने पहुंचे उड़न दस्ते की टीम ने जाँच करना शुरू किया और विदेशी छात्रों की भी जाँच की इच्छा जताई तो वहां मौजूद कुछ शिक्षकों ने उन्हें ऐसा करने से रोकने लगे और कहा कि इससे पहले कभी भी विदेशी छात्रों की जाँच नहीं हुई है और शिक्षक दो गुटों में बट गए एक गुट विदेशी छात्रों की जाँच विरोध कर रहा था तो शिक्षकों का दूसरा गुट जाँच के पक्ष में था उनका कहना था कि नियम सब छात्रों के लिये एक जैसा होना चाहिए चाहे वो स्थानीय हो या फिर विदेशी।

विवि में पता करने पर सूत्रों से पता चला की 2008 से संचालित जीबीयू में कभी भी विदेशी छात्रों की परीक्षा के दौरान जाँच नहीं की गई है। सूत्रों ने यभी बताया कि यह सब एड्मिसन शीट के लिया किया जाता रहा है।

उड़न दस्ते ने शिक्षकों का तर्क सुन यह फैसला लिया की विदेशी छात्रों की भी जाँच हो गी और परीक्षा में बैठे विदेशी छात्रों की जाँच की तो 3 विदेशी छात्र नक़ल करते पकडे गए जिनमे से 2 विदेशी छात्रों को परीक्षा नहीं देने दिया गया जबकि 1 विदेशी छात्र को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया। नक़ल करते पकड़े गए विदेशी छात्रों में 2 छात्रों जिसमें की पहला छात्र बीए इन बुद्धिज़्म व दूसरा एमफिल इन बुद्धिज़्म छात्र है इनके पास से नक़ल वाली पर्ची मिली थी जिसके कारण इनको परीक्षा देने से रोक दिया गया था तीसरा छात्र हाँथ में प्रश्न के उत्तर लिख कर लाया था ।

यह पहली बार हुआ था जब जीबीयू में परीक्षा के दौरान कोई विदेशी छात्रों की जाँच हुई हो और जाँच में नक़ल करते हुए 3 छात्र पकडे गए हों।

जब विवि के रजिस्टार से विदेशी छात्रों के नक़ल करते हुए पकड़े जाने के मामले में पूंछा गया तो ये कहते हुए किनारा कर लिया की मुझे इस मामले में कोई जानकारी नहीं है

श्री धार्मिक रामलीला में हुआ राम-वनवास, उप -मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा रहे मुख्य अतिथि !

कल रात श्री धार्मिक रामलीला कमेटी सेक्टर पाई 1बिरोडा ग्रेटर नोएडा श्री धार्मिक रामलीला के संस्थापक सुशील गोस्वामी जी के दिशा निर्देशन में रामलीला के मंचन में विद्या अभ्यास ताड़ का व मारीच वध सीता स्वयंवर राम बरात का मंचन किया गया आज श्री धार्मिक रामलीला में मुख्य अतिथि उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री माननीय डॉक्टर दिनेश शर्मा जी वह क्षेत्र के लोकप्रिय सांसद भारत सरकार में केंद्रीय मंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉक्टर महेश शर्मा जी वह जेवर विधायक श्रीमान धीरेंद्र ठाकुर जी दादरी विधायक माननीय श्री तेजपाल नागर जी भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीमान विजय भाटी जी की गरिमा उपस्थित रही इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री जी ने भगवान राम सीता और लक्ष्मण जी की आरती की और बताया रामलीला जनमानस की श्रीराम में सनातन आस्था का प्रतीक है श्री धार्मिक रामलीला समिति के अध्यक्ष आनंद भाटी व कमेटी की ओर से मुख्य अतिथियों को अंग वस्त्र रामचरितमानस की प्रतीक बाण धनुष तथा प्रतीक चिन्ह भेंट किए गए।

श्री धार्मिक रामलीला सेक्टर पाई1 बिरोडा ग्रेटर नोएडा में रामलीला के संस्थापक श्री सुशील गोस्वामी जी महाराज के कुशल निर्देशन में रामलीला का मंचन किया गया सीता विदाई राम वनवास व चित्रकूट की कथाओं का मंचन किया गया।

श्रीराम को 14 वर्ष का वनवान हुआ। इस वनवास काल में श्रीराम ने कई ऋषि-मुनियों से शिक्षा और विद्या ग्रहण की, तपस्या की और भारत के आदिवासी, वनवासी और तमाम तरह के भारतीय समाज को संगठित कर उन्हें धर्म के मार्ग पर चलाया। संपूर्ण भारत को उन्होंने एक ही विचारधारा के सूत्र में बांधा, लेकिन इस दौरान उनके साथ कुछ ऐसा भी घटा जिसने उनके जीवन को बदल कर रख दिया। रामायण मैं अनुसार जब भगवान राम को वनवास हुआ तब उन्होंने अपनी यात्रा अयोध्या से प्रारंभ करते हुए रामेश्वरम और उसके बाद श्रीलंका में समाप्त की। इस दौरान उनके साथ जहां भी जो घटा उनमें से 200 से अधिक घटना स्थलों की पहचान की गई है श्रीराम और सीता के जीवन की घटनाओं से जुड़े ऐसे 200 से भी अधिक स्थानों का पता लगाया है, जहां आज भी तत्संबंधी स्मारक स्थल विद्यमान हैं,

इस अवसर पर आनंद भाटी शेरसिंह भाटी अजय नागर ममता तिवारी राजकुमार नागर ईलमसिंह ब्रजपाल नागर चैनपाल प्रधान बालकिसन शफीपुर सुशील नागर मनवीर नागर देवेश चौधरी सुभाष भाटी धर्मेंद्र भाटी राकेश नागर प्रदीप पण्डित गजेंद्र दत्त महेश शर्मा बदोली नीलम यादव अर्चना शर्मा शांति पिंकी