प्राधिकरण ने भेजा सात बिल्डरों के खिलाफ न ोटिस

ग्रेटर नोएडा वेस्ट में होम बायर्स का घर का सपना अभी तक पूरा नही हो पाया। जिसको लेकर अब प्राधिकरण ने अपनी कसनी शरू कर दी है। वही सालों पहले प्राधिकरण से जमीन लेने के बावजूद बिल्डरों ने अभी तक होम बायर्स को फ्लैट बना कर नहीं दिये हैं। जिसके चलते अब प्राधिकरण उन बिल्डरों के खिलाफ कार्यवाही करने जा रहा हैं । वही इस मामले को लेकर प्राधिकरण ने सात बिल्डरों को नोटिस भी जारी कर दिया हैं। प्राधिकरण ने समय में फ्लैट का निर्माण न करने पर बिल्डरों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया हैं। अगर पंद्रह दिन के अंदर इन सात बिल्डरों को जवाब देना होगा नहीं तो प्राधिकरण इनके भूखंड आवंटन रद किया जा सकता है। यही नहीं साथ ही बिल्डरों की जमा धनराशि को भी प्राधिकरण जब्त कर लेगा। आपको बता दें कि इन सात बिल्डरों के प्रोजेक्ट पर करीब पांच हजार बायर्स का पैसा फंसा हुआ हैं। पांच साल में फ्लैट बनाकर देने का वादा करने वाले बिल्डरों ने अभी तक प्रोजेक्ट साइट पर निर्माण कार्य भी शुरु नहीं किया हैं। ऐसे में इन बिल्डरों के पास फ्लैट बुक करने वाले बायर्स का पैसा फंस चुका हैं। वही ग्रेटर नोएडा वेस्ट के बिल्डरो पर प्राधिकरण का भी करोड़ो रुपये भी बकाया है। ये वही बिल्डर है जिन्होंने ग्रेटर नोएडा वेस्ट के सेक्टर 10 और 12 में 2010 में प्राधिकरण से जमीन ली थी। बिल्डरो ने फ्लैट बनाकर बायर्स को फ्लैट देना था। लेकिन ऐसा हुआ ही नही बस बिल्डर ने उस जमीन की चारदीवारी करवा कर बायर्स से बुकिंग करवा ली। वही इस मामले को प्राधिकरण ने बड़ी गम्भीरता से निर्णय लिया और उन बिल्डरो के खिलाफ नोटिस जारी कर दिया। अगर बिल्डर उस नोटिस का जबाब 15 दिन के अंदर नही देता है तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। वही दूसरी और अगर बिल्डर ने तय समय पर बायर्स को फ्लैट नहीं दिए तो प्राधिकरण भूखंड आवंटन रद कर देगा।