धरने के 17वें दिन भाकियू की चेतावनी, “नहीं सु नी मांग तो उग्र हो सकता है आंदोलन”!

(06/06/2018) :

नोएडा। सुरजपूर कलेक्ट्रेट पर पिछले 17 दिनों से धरने पर बैठे किसानों का सब्र अब टूटने की कगार पर है। यदि किसानों का सब्र टूटा और आंदोलन हुआ तो इसके लिए प्रशासन व प्राधिकरण जिम्मेदार होगा यह कहना था भाकियू के बैनर तले धरना दे रहे किसानों का। जिला मीडिया प्रभारी सुनील प्रधान ने बताया कि किसानों ने धरने के दौरान प्राधिकरण व प्रशासन के खिलाफ नाराजगी जाहिर की और कहा कि कुछ अधिकारी जमीन से इतना दूर हो गए हैं कि उन्हें गरीब किसान की आवाज तक सुनाई नहीं दे रही है। किसानों ने आज तक देश का पेट पाला है लेकिन जब किसान अपने पेट की बात कर रहा है तो उनको अनदेखा किया जा रहा।

धरना दे रहे किसानों ने आज चेतावनी देते हुए कहा की प्राधिकरण अपने रवैये क चलते किसानों को उग्र कर रहा है। जब तक सब्र है तब तक है जिस दिन सब्र टूट गया तो उसका जिम्मेदार भी प्राधिकरण व प्रशासन होगा।

आज के धरने में एनसीआर अध्यक्ष सुभाष चौधरी, पवन खटाना, राजे प्रधान, सुरेन्द्र नागर,सरजीत नागर, रोशन नागर, अशोक इमलिया, रामसिंह,बलबीर,अमित,सतबीर, पवन,नागर, नरेश शर्मा, अनिल चौधरी, लज्जा राम, बलराज, महेश नागर, महेन्द्र मुखिया, सुनील प्रधान, जोगिंदर कसना,बिल्लू अवाना,रविंदर भाटी,बिजेन्दर प्रधान,मोहर सिंह, समेत तमाम किसान मौजूद थे।

Leave a Reply