Monthly Archive: February 2018

ग्रेटर नॉएडा : मजदूरों की मांगो को लेकर माक पा ने कलेक्ट्रट पर दिया धरना

ग्रेटर नॉएडा : उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में इतनी धोषणाओ के बाद भी आज मजदुर की हालत बद से बदतर हो गयी है अधिकारियो के गलत रवैये व् मनमानी से गरीब लोग काफी परेशान है अगर मजदुर आदमी कोई शिकायत लेकर जाता है तो उसकी सुनवाई को अनसुना कर दिया जाता है। ग्रेटर नॉएडा जनपद में यही हाल रहा है मजदुर के साथ , मजदुर को उसका दिलाने के लिए मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के बैनर तले सैकड़ो मजदूरों के साथ सूरजपुर कलेक्ट्रट पर मजदूरों की मांगो लेकर धरना दिया। विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगो ने बताया कि व्याप्त समस्याओं व् राशन डीलरों एव अधिकारियो के द्वारा की जा रही मनमानी साथ ही जनपद में होरही कालाबाजारी कम खिलाफ धरना दिया है। और प्रशासन से हमारी मांग है राशनिंग व्यावस्था में सुधर करके सबके राशनकार्ड बनाकर सस्ता राशन देने और जिले के मजदुरो को दिल्ली की तर्ज पर बराबर न्यूनतम वेतन देने श्रम कानूनों का प्रतिपालन करवाने सहित कई मांगो पर ध्यान दिया जाये

ग्रेटर नॉएडा : एम्बुलेंस में टक्कर से लगी आ ग , तीन की मौत

ग्रेटर नॉएडा : अक्सर एम्बुलेंस लोगो की जान बचाने के काम आती है लेकिन जब

एम्बुलेंस ही मौत का काल बन जाये , तो फिर समय का दुर्भाग्य ही कहेंगे , ऐसी दिल दहलाने वाली घटना आज दादरी के पास घटित हुई जिसमे एम्बुलेंस की ट्रॉला से जोरदार टक्कर में एम्बुलेंस में आग लग गयी जिसमे तीन लोगो की जलकर मौत हो गयी। पुलिस जानकारी के अनुसार थाना बादल पुर क्षेत्र के केवीआर चावल मिल के सामने एक एम्बुलेंस जो दिल्ली के गुरुतेग बहादुर अस्पताल से लौट रही थी इस दूसर तरफ से ट्रॉला आ रहा था , जैसे ही केवीआर चावल मिल के पास दोनों में जोरदार टक्कर हुई , जिसमे टक्कर के बाद ही एम्बुलेंस में आग लग गयी जिसमे तीन लोगो की मोके पर मौत हो गयी। जबकि अन्य दो घायल हो गए , पुलिस ने घायलों की पहचान मनीष जेवर निवासी व् नन्द मोरिया निवासी बदांयू की बताई जा रही है साथ ही मुर्तको की शिनाख्त अभीतक नहीं हो पायी है।

ग्रेटर नॉएडा : अपनी मांगो को लेकर किसानो न े प्राधिकरण के खिलाफ खोला मोर्चा

नोएडा : किसानो की मांगो का मुद्दा काफी आरसे से लटका पड़ा है जिसको लेकर किसान आये दिन किसान अपनी मांगो को लेकर प्राधिकरण के बहार धरना प्रदर्शन करते है। लेकिन प्राधिकरण किसानो की अधिकतर मांगो अनसुना कर देता है , प्राधिकरण की इसी बात खफा होकर सभी किसानो ने एकजुट होकर प्राधिकरण के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है । सेक्टर 167-168 स्थित गांव दोस्तपुर मंगरौली के सभी किसानों ने एकत्रित होकर एक पंचायत की गयी जिसमे किसानों ने घोषणा कि जब तक नोएडा प्राधिकरण उनके गांव की आबादी का निस्तारण और वर्तमान दर से बढ़ी मुआवजा की राशि किसानों के बीच वितरित नहीं करता, तब तक गांव के आसपास किसी भी तरह का विकास प्राधिकरण को नहीं करने दिया जाएगा। इसके लिए वे नोएडा के गांव-गांव जाकर सभी किसानो को जागरूक भी करेंगे साथ उनका समर्थन भीं लेंगे , अगर प्राधिकरण उनकी बात पर कोई अमल नहीं करता है तो एक बड़े आंदोलन की रूपरेखा तय की जाएगी।

गांव के प्रधान चमन सिंह ने कहा कि नोएडा प्राधिकरण ने गलत तरीके से ग्रामीणों को अंधेरे में रखकर भूमि का अधिग्रहण 2009-10 में कर लिया था। लेकिन गांव के किसी किसान को इसकी भनक तक नहीं लगने दी। अब आठ वर्षों बाद प्राधिकरण को यहां विकास दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा कि हमारा गांव नोएडा के विकास से काफी पिछड़ गया है। गांववासी एकजुट हैं और हम अपने अधिकार को ले कर ही दम लेंगे। इस पंचायत में आसपास गांव के काफी किसान मौजूद थे

नॉएडा : गड्ढेमुक्त सड़को के लिए लोगो ने किया हवन

ग्रेटर नॉएडा :उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कुछ महीने ऐलान किया था की पुरे प्रदेश को गड्ढामुक्त सड़के बनाने का ,लेकिन इसका उल्टा ही हुआ ये कारवाई केवल सरकारी दफ्तरों के फाइलो के कागजो में समेटकर रहे गयी है अब लोगो ने कागजी कारवाई से ऊबकर सड़को पर आने का फैसला किया है मामला है सूरज पुर व् दादरी के मुख्य मार्ग साथ ही आसपास के कस्बे का। यहाँ के लोगो ने अधिकारियो के कई बार चक्कर लगाने के बाद नाकाम होने पर लोगो ने विरोध करने का नया तरीका अपनाया है ताकि अधिकारियो का ध्यान इस समस्या पर जाये। जिले की तीनों अथॉरिटी और पीडब्ल्यूडी ने अपने-अपने क्षेत्र को कागजों में गड्ढामुक्त घोषित कर दिया है। हालांकि इस सड़क पर पिछले कई महीनों से गड्ढे हैं और इन्हें भरा भी नहीं गया। इसी के विरोध में सूरजपुर कस्बे के रहने वाले जितेंद्र कुमार अपने साथियों के साथ चारपाई लेकर हवन करने यहां पहुंचे। इसकी जानकारी मिलने पर पहुंची सूरजपुर पुलिस ने उन्हें हटाने की कोशिश की लेकिन वे हवन करते रहे। लोगो का कहना है, कि दादरी व सूरजपुर औद्योगिक क्षेत्र से नोएडा जाने के लिए यह मुख्य रास्ता है। इससे हर रोज हजारों वाहन गुजरते हैं। सूरजपुर कस्बे के पास यह सड़क पूरी तरह टूट चुकी है। सड़क के गड्ढों में नालियों का गंदा पानी भरा है। गड्ढों में फंस कर कई बाइक सवार पानी में गिर चुके हैं। कुछ वाहन यहां फंस भी गए। फसे हुए वाहनों को यहाँ के स्थानीय लोगो ने इन वाहनों को निकलवाया। साथ कस्बे के लोगो ने बताया कि ग्रेटर नॉएडा

अथॉरिटी और पीडब्ल्यूडी

गड्ढों की शिकायत कई बार की जा चुकी है, लेकिन कोई सुनने को तैयार नहीं है।

गड्ढों के कारण यहां के लोग परेशान हैं। यहां पास ही जिला मुख्यालय भी है। आए दिन इस सड़क पर हादसे हो रहे हैं, लेकिन कोई सुध नहीं ले रहा।

इसलिए हवन करके अधिकारियों को जगाने का प्रयास किया गया है।

ग्रेटर नॉएडा: एक्सप्रेस वे पर बदमाशों ने क ारोबारी से नकदी के साथ लूटी कार

ग्रेटर नोएडा: बीती रात बदमाशों ने एक्सप्रेसवे पर बन्दुक की नोक पर एक कारोबारी को अपनी लूट का निशाना बनाया। बदमाशों ने कारोबारी से नकदी व् कार भी लूटकर फरार हो गए ,पीड़ित ने बदमाशों से लूट का विरोध किया तो बदमाशों ने कारोबारी के साथ मारपीट की।
पुलिस जानकारी के मुताबिक

आगरा के हरि पर्वत इलाके में रहने वाले कारोबारी संदीप गोयल रविवार को नोएडा से लौट रहे थे। यमुना एक्सप्रेसवे के जीरो पॉइंट के पास ऑल्टो कार सवार तीन बदमाशों ने उन्हें ओवरटेक कर रोक लिया। उनसे मारपीट कर जेब में रखे 10 हजार रुपये और कार लूटकर ले गए। पीड़ित

संजय ने एक ट्रक ड्राइवर की मदद से अपने बेटे को कॉल करके घटना के बारे में बताया। उनके बेटे ने यमुना एक्सप्रेस-वे के टोल फ्री नंबर पर कॉल करके एक्सप्रेसवे प्रबंधन को सारी बात बताई। इसके बाद प्रबंधन ने कासना पुलिस को सूचना दी। कासना पुलिस ने पीड़ित से घटना की जानकारी लेने के बाद बदमाशों को तलाश किया गया पुलिस को बदमाशों कोई सुराग नहीं लग पाया है , लेकिन कारोबारी से लूटी हुई कार मथुरा के इलाके से बरामद हो गयी है घटना को संधिक मान रही है साथ ही पहलु पर जाँच कर रही है

जनपद दीवानी एव फौजदारी बार एसोसिएशन नोएडा ने मनाई विजय सिंह पथिक जयंती

आज जनपद दीवानी एव फौजदारी बार एसोसिएशन नोएडा दुवरा महान क्रांतिकारी विजय सिंह पथिक की जयंती एव चंद्रशेखर आजाद की पुण्यतिथि मनाई गयी।
जिसमे बार के अध्य्क्ष राजीव तोंगड एव कार्यकरिणी के साथ बाकी सभी अधिवक्तागण भी मौजूद रहे जिसपर *पूर्व सचिव डी. राहुल चौधरी एडवोकेट ने बताया कि विजय सिंह पथिक उर्फ़ भूप सिंह गुर्जर का जन्म 27 फ़रवरी 1882, एव भारत के एक प्रमुख स्वतंत्रता सेनानी थे। उन्हें राष्ट्रीय पथिक के नाम से भी जाना जाता है। उनका जन्म बुलन्दशहर जिले के ग्राम गुठावली कलाँ के एक गुर्जर परिवार में हुआ था। उनके दादा इन्द्र सिंह बुलन्दशहर स्थित मालागढ़ रियासत के दीवान थे जिन्होंने 1857 के प्रथम स्वतन्त्रता संग्राम में अंग्रेजों से लड़ते हुए वीरगति प्राप्त की थी।

पथिक जी के पिता हमीर सिंह गुर्जर को क्रान्ति में भाग लेने के आरोप में सरकार ने गिरफ्तार किया था। पथिक जी पर उनकी माँ कमल कुमारी और परिवार की क्रान्तिकारी व देशभक्ति से परिपूर्ण पृष्ठभूमि का बहुत गहरा असर पड़ा। युवावस्था में ही उनका सम्पर्क रास बिहारी बोस और शचीन्द्र नाथ सान्याल आदि क्रान्तिकारियों से हो गया था।1915 के लाहौर षड्यन्त्र के बाद उन्होंने अपना असली नाम भूपसिंह गुर्जर से बदल कर विजयसिंह पथिक रख लिया था। मृत्यु पर्यन्त उन्हें इसी नाम से लोग जानते रहे। मोहनदास करमचंद गांधी के सत्याग्रह आन्दोलन से बहुत पहले उन्होंने बिजौलिया किसान आंदोलन के नाम से किसानों में स्वतंत्रता के प्रति अलख जगाने का काम किया था।

ईशान इंस्टीट्यूट, ग्रेटर नॉएडा में मनी स् वतंत्रता सेनानी विजय सिंह पथिक की 134वी जयंती

महान स्वतंत्रता सेनानी विजय सिंह पथिक की 134वी जयंती नॉलेज पार्क स्थित ईशान इंस्टीट्यूट में मनाई गई। समारोह में शंकर सहाय सक्सेना द्वारा लिखित पथिक जी की जीवनी और डॉ लाल रत्नाकर द्वारा निर्मित चित्र का लोकार्पण किया गया।

इस अवसर पर "सामाजिक न्याय के योद्धा विजय सिंह पथिक" विषय पर विचार गोष्ठी का आयोजन भी किया गया। गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए पिछड़ा वर्ग आयोग के पूर्व अध्यक्ष जस्टिस वी ईश्वरैया ने कहा कि लंबे संघर्ष के बाद भी देश के दबे कुचले लोगों को सामाजिक न्याय नहीं मिल पाया है। इन वर्गों के साथ हर स्तर पर भेदभाव किया जाता है। वरिष्ठ पत्रकार उर्मिलेश ने कहा कि देश में राजनीतिक न्याय तो लागू हो गया है किंतु सामाजिक और आर्थिक न्याय अभी लागू होना बाकी है। हालात इतने खराब हैं कि देश के 73 फीसदी संसाधनों पर एक फीसदी लोगों का कब्जा है।

सुप्रीम कोर्ट के एडवोकेट ओमवीर सिंह मंडार ने कहा कि सरकार ने बड़ी चालाकी से पिछड़ा वर्ग के आरक्षण को कमजोर कर दिया है। 54 प्रतिशत पिछड़े वर्गों को 27 प्रतिशत सीटों तक सीमित कर दिया गया है जबकि 15 प्रतिशत सामान्य वर्ग के लिए 51 प्रतिशत सीटें आरक्षित कर दी गई हैं। विजय सिंह पथिक शोध संस्थान के अध्यक्ष राजकुमार भाटी ने अतिथियों का स्वागत किया और पथिक की के जीवन दर्शन पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ सुरेश पाटिल ने और संचालन यशवीर गुर्जर ने किया।

इस अवसर पर वीरेंद्र डाढ़ा, अजित दौला, वीरेन्द्र गुड्डू, दिनेश गुर्जर, प्रमोद भाटी, मनजीत सिंह, मनोज गर्ग, हरेन्द्र भाटी, इलम सिंह नागर, कर्मवीर सिंह, जयकरन भाटी, नरेंद्र नागर, बेगराज गुर्जर, श्याम वीर भाटी, राजू भाटी, इंद्र प्रधान, सुभाष प्रधान, हरपाल चौहान, कुलदीप मलिक, ओम रायजादा, बिजेन्द्र आर्य, जयवीर भाटी, दीपक भाटी, राजेश भाटी, सलमु सैफी और सुनील फौजी आदि शामिल थे।

सूरजपुर दादरी मुख्य मार्ग पर गड्ढों से परेशान लोगों का अनूठा विरोध, चारपाई डाल किया हव न!

आशीष केडिया

(27/02/2018) ग्रेटर नॉएडा : मुख्यमंत्री योगी के कमान सँभालने के बाद से ही प्रदेश सरकार ने सड़कों को गड्ढा मुक्त करने का अभियान छेड़ा हुआ है। कुछ माह पूर्व जिला प्रसाशन की तरफ से भी सभी निवासियों से इस सम्बन्ध में ब्यौरा माँगा गया था और कई सम्बंधित समस्याओं का त्वरित निवारण करते हुए गौतम बुद्ध नगर में सड़कों को गड्ढा मुक्त करने के अभियान को बेहद सफल बताया गया था। हालाँकि इस अभियान के कुछ समय पश्चात ही सड़कों पर उभरे बड़े-बड़े गड्ढे लोगों की असुविधा का कारण बने हुए हैं।

ऐसा ही कुछ दुर्भाग्यपूर्ण हाल है दादरी – सूरजपुर मुख्य मार्ग का जहाँ से प्रतिदिन हजारों वाहन गुजरते हैं। विशाल गड्ढों में पानी भरे होने के कारण राहगीरों और वाहन चालकों को इस सड़क से गुजरने में भारी असुविधा का सामना करना पड़ता है। पास लगे इलाकों में बड़ी संख्या में इंडस्ट्रीज होने के कारण यहाँ आवागमन लगातार लगा रहता है और आम जनता समेत कंपनी मालिकों, कर्मचारियों, कामगारों को भी इन खस्ताहाल सड़कों से होकर प्रतिदिन गुजरना पड़ता है।

मंगलवार को इस समस्या से पीड़ित लोगों ने विरोध करने का अनूठा तरीका अपनाया। निवासियों ने गड्ढे के पास ही चारपाई डाल , इस सड़क के ठीक हो जाने के लिए हवन किया। पोस्टर्स ले कर बैठे लोगों ने सम्बंधित अधिकारी का नाम और नंबर भी गड्ढे से लगे खम्बे पर चस्पा किया हुआ है।

लोगों का आरोप है की कई दिनों से लगातार अवगत कराने के बावजूद इस समस्या पर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है और वह दिन ब दिन बढ़ती जा रही है।

जेवर में पुलिस कस्टडी में मौत पर हंगामा, हा लात संभालने पहुंचे जेवर विधायक।

आज देर रात पुलिस हिरासत में लिए गए एक सख्स कि अकस्मात मृत्यु ने बवाल का रूप ले लिया है। जेवर में स्थिति गंभीर बनी हुई है। भारी पुलिस फोर्स की मौजूदगी में जेवर विधायक धीरेंद्र सिंह मौके पर पहुंच स्थिति सामान्य करने में जुटे है। जहां एक तरफ पुलिस का कहना है कि युवक ने जीप से कूद आत्महत्या कर ली है वहीं स्थानीय ग्रामीण कस्टडी में मौत का आरोप लगा रहे है। स्थिति तनावपूर्ण है परन्तु प्रशाशन ने नियंत्रण बरकरार रखा है ।

(विस्तृत खबर कुछ समय पश्चात )