Daily Archive: October 25, 2017

#ExclusivePicture : Missing Greater Noida Girls Traced in Patna Village, AlMA Facilitating Return Formalities!

Ashish Kedia / Saurabh Shrivastava

(25/10/2017) Greater Noida :

Two girls who went missing on Monday night from Greater Noida have been traced near Patna.

As per reliable sources they are now in Dhanapur village (12 km from Patna town) and are likely to catch a flight back to Delhi around 9:00 PM.

As per the request of family members, 4 representatives from (AIMA) All India Malayalee Association (Mr.Gokulam Gopalan is the President of this organisation) have also reached the spot and leading the formalities.

The relatives of the girls said that they are likely to land at Delhi by 10.30 pm and will reach Greater Noida before 12.00 am (tonight).

More details awaited.

जब्त हुई कौशल्या वर्ल्ड स्कूल की तीन बसें !

ग्रेटर नॉएडा : गौतम बुध नगर के डीएम बीएन सिंह ने स्कूली बच्चो की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सभी स्कूल प्रशासन को निर्देश दिया था की दस अक्टूबर तक स्कूल बसों का फिटनेस सर्टिफिकेट बनवाना अनिवार्य है इसके साथ ही सितम्बर महीने में स्कूल प्रशासन को नोटिस भी भेजा गया था | पर लगता है की कई स्कूल प्रशासन के ऊपर इसका कोई असर नहीं हुआ | दरसल आप को बता दे की आज कौशल्या वर्ल्ड स्कूल की बसों का परिवहन, अग्निशमन तथा शिक्षा विभाग की संयुक्त टीम ने निरीक्षण किया | मौके पर उपलब्ध वाहनों में से 3 बसों की फिटनेस सर्टिफिकेट समाप्त हो गए थे किंतु स्कूल प्रशासन ने सभी निर्देशों को दरकिनार करते हुए विद्यालय द्वारा इन बसों के स्वास्थ्य प्रमाण पत्र जारी कराने में कोई दिलचस्पी नहीं ली गई थी। परिवहन, अग्निशमन और शिक्षा विभाग की सयुंक्त टीम ने इन 3 वाहनों को जप्त कर कासना कोतवाली को सौप दिया गया ।

एक्यूरेट छात्र ने (ए के टी यू ) यूनिवर्सिटी वरीयता सूचि में पाया आठवां स्थान

नॉलेज पार्क स्थित एक्यूरेट इंस्टिट्यूट ऑफ़ आर्किटेक्चर एवं प्लानिंग के सत्र 2012 -17 के छात्र समीर ढांडा ने प्रदेश के सभी कॉलेज के छात्रों में से चयनित प्रथम दस में से आठवे स्थान पर अपना कब्ज़ा बनाया । डॉ. ए पी जे अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी (ए के टी यू ) , लखनऊ के अंतर्गत चल रहे आर्किटेक्चर एवं प्लानिंग कोर्स में श्री समीर ढांडा ने 82 .40 % अंक अर्जित कर यह स्थान प्राप्त किया ।

श्री समीर ढांडा एक्यूरेट संस्थान के आर्किटेक्चर एवं प्लानिंग कोर्स के प्रथम बैच के छात्र रहे हैं, वे शुरू से ही मेघावी छात्र रहे और अध्यापकों के मध्य अपने कठिन परिश्रम एवं एकाग्रता के लिए चर्चित रहे । श्री समीर ढांडा धरोहर आर्किटेक्ट , जसोला विहार , नई दिल्ली की कम्पनी में आर्किटेक्ट के पद पर कार्यरत हैं उन्हें यह जॉब संस्थान द्वारा आयोजित प्लेसमेंट गतिविधि के चलते हुए मिली है ।

बी आर्क नाम से प्रचलित एक्यूरेट संस्थान का यह कोर्स छात्रों के मध्य काफी प्रचलित है । एक्यूरेट संस्थान ने अपने इस कोर्स की शुरुआत 2012 से की थी जिसके बाद अपनी गुणवत्ता के चलते भारत के छात्रों के मध्य अपनी एक अलग पहचान बनाने में सफल रहा है । श्री श्री समीर ढांडा ने अपनी सफलता से न सिर्फ अपना नाम रौशन किया है अपितु अपने शिक्षकों के साथ अपने संस्थान का नाम भी बुलंदियों पर पहुंचा दिया है ।

एक्यूरेट इंस्टिट्यूट ऑफ़ आर्किटेक्चर एवं प्लानिंग के डायरेक्टर डॉ. देवल कुमार राजवंशी ने श्री समीर ढांडा को उनके उल्लेखनीय कार्य के लिए बधाई दी और उन्हें अपने जीवन में निरंतर आगे बढ़ते रहने का आशीर्वाद दिया । संस्थान की समूह निदेशिका सुश्री पूनम शर्मा ने श्री समीर ढांडा को उत्साहित करते हुए आश्वासन दिया की उनकी सफलता को हमेशा याद रखा जायेगा और संस्थान उन्हें विशेष रूप से पुरस्कृत करेगा ।

Galgotias Engineering College Gets NBA Accreditation for Mechanical and Electronic Communication courses!

Galgotias College of Engineering & Technology has added another feather to its cap of achievements. The Mechanical Engineering course and Electronics and Communication Engineering courses of this institute has been accredited by National Board of Accreditation for three years.

The accreditation will be in effect from academic year 2017-2018.

The NBA undertakes the assessment of quality standards, of various educational institutions, and they does that with the help of a well-written objectives and guidelines.

Accreditation granted by NBA qualifies the institution for benefits from AICTE.

1 नवम्बर को नॉएडा प्राधिकरण के खिलाफ एतिहा सिक होगा ट्रांस्पोर्टरों का आंदोलन

नोएडा। नोएडा प्राधिकरण द्वारा नोएडा ट्रांस्पोर्ट नगर की घोषणा में देरी से नाराज ट्रांस्पोर्टर अपने वाहनों के साथ आगामी 01 नवंबर 2017 को नोएडा प्राधिकरण के खिलाफ शांतिप्रिय प्रदर्शन करने की तैयारी कर ली है। इसी विषय को लेकर ट्रांस्पोर्टर बुधवार को सिटी मजिस्ट्रेट से मिले और उन्हें होने वाले प्रदर्शन से अवगत करवाया। ज्ञापन देने के दौरान मोर्चा के अध्यक्ष वेदपाल सिंह ने बताया कि नोएडा को औद्योगिक नगरी के रूप में बसे हुये लगभग 41 वर्ष हो गये हैं परंतु नोएडा ट्रांस्पोर्टस के साथ प्राधिकरण सौतेला व्यवहार करते आ रहा है। ट्रांस्पोर्ट नगर केवल ट्रांस्पोर्ट की नहीं वरन पूरे शहर की जरूरत बन गया है। जनहित में इस मुद्दे को देखते हुये ट्रांस्पोर्टर अपने वाहनों के साथ प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा कि यह प्रदर्शन एतिहासिक होगा। इसके लिये अब ट्रांस्पोर्टर जनसंपर्क करेंगे और ज्यादा से संगठनों को अपने से जोडेंगे। इसके लिये टीमें भी गठित कर दी गई है। अनिल दीक्षित, बस एशोसियेशन के महासचिव ने इस प्रदर्शन को सफल बनाने के लिये कहा कि ज्यादा से ज्यादा लोग प्रदर्शन से जुडें। क्योंकि ये मामला केवल ट्रांस्पोर्टरों का नहीं पूरे नोएडा का है। आज जाम से हर एक आदमी परेशान है। वेदपाल चौधरी ने कहा कि मामला उच्च न्यायलय ले जाया गया जहां एक साल के बाद 3 मई 2017 को उच्च न्यायलय ने योजना में शामिल ट्रांसपोर्टरों को 6 महीने के भीतर आवंटन करने व जो इच्छुक नहीं है उन्हें 6 प्रति ब्याज लगाकर पैसा वापस करने के निर्देश दिये। इसी के साथ योजना को फिर से निकालने के लिये कहा। लेकिन प्राधिकरण इस बात को नहीं मान रहा है और योजना लाने में देरी कर रहा है। जिससे साफ है कि प्राधिकरण रेट बढ़ाने की तैयारी में है। लेकिन अब ट्रांस्पोर्टर इंतजार नहीं करेगा। उनकी प्राधिकरण से मांग है कि नोएडा ट्रांस्पोर्ट नगर में प्लॉटों का एलाटमेंट जल्द से जल्द दिया जाये, नोएडा के स्थानिय लोगों को जो ट्रांस्पोर्ट का कार्य कर रहे हैं उन्हें प्लॉट दिये जाये,सन् 2014 में नोएडा प्राधिकरण की बोर्डट में 18180रू प्रति मीटर के रेट तय किए गये उनके आधार पर प्लॉट दिये जाये, नोएडा में जो लोग ट्रक, बस, क्रेन,टैम्पो आदि सभी को योजना में शामिल किया जाये व नोएडा प्राधिकरण द्वारा सन् 2015 में जो योजना में सम्मलित सभी ट्रांस्पोर्टर को प्राथमिकता के आधार पर प्लॉट दिया जाये। यदि उनकी मांगों को 31 अक्टूबर तक नहीं माना गया तो एक नवंबर को पूरे शहर की ट्रांस्पोर्ट सेवा को ठप्प कर दिया जायेगा। जिसमें ट्रक, स्कूल बस आदि शामिल होंगे। शिव कुमार शर्मा ने कहा कि उन्हें सभी सामाजिक संगठनों का सर्मथन मिला है। मुलाकात के दौरान उपाध्यक्ष अनिल दीक्षित, जय भगवान, सतपाल अवाना, मंगलसैन शर्मा, बलजीत उर्फ बिट्टू, ओमप्रकाश गुर्जर, गजेन्द्र बंसल, शिव कुमार चौधरी, जगवीर जेके रामकेश चौधरी,हाजी हिसामुद्यीन, सुभाष शर्मा, रणजीत सिंह, पीएस चौधरी, अशोक शर्मा (क्रेन), धर्मवीर सिंह, कौशल शर्मा,योगेश बंसल, हरि कुमार, पंकज चौधरी, इन्दल प्रधान, विनोद कुमार सोनी समेत कई ट्रांस्पोर्ट मौजूद थे

GAUTAM BUDH NAGAR DIVYANG JAN TO GET GRANTS IN AID

जनपद के दिव्यांगों को प्राप्त होगा अनुदान।

गौतम बुद्ध नगर 25 अक्टूबर 2017

मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह ने जनपद के समस्त दिव्यांग जन का आहवान करते हुये, उन्हंे जानकारी दी है कि जनपद के ऐसे दिव्यांग जिनका विवाह 1 अप्रैल 2016 के बाद हुआ हो, उन्हें युवक के दिव्यांग होने पर 15 हजार रूपये तथा युवती के दिव्यांग होने पर 20 हजार रूपये तथा युवक व युवती दोनों के दिव्यांग होने पर 20 हजार रूपये की धनराशि अनुदान प्रोत्साहन के रूप में प्रदान की जायेगी एवं जिनका विवाह 8 जून 2017 के बाद हुआ हो, उन्हें युवक के दिव्यांग होने पर 15 हजार रूपये तथा युवती के दिव्यांग होने पर 20 हजार रूपये तथा युवक व युवती दोनों के दिव्यांग होने पर 35 हजार रूपये की धनराशि अनुदान प्रोत्साहन के रूप में प्रदान की जायेगी। उन्होंने बताया कि ऐसे सभी पात्र दिव्यांग जन आगामी 10 नवम्बर तक कार्यालय जिला दिव्यांग जन विकास विभाग सूरजपुर कमरा नम्बर 107 या अपने खण्ड विकास अधिकारी से आवेदन पत्र प्राप्त कर, अपना आवदेन पत्र भरकर प्रथम आवत प्रथम पावत के आधार पर योजना का लाभ उठा सकतें है।

श्री सिंह ने यह भी बताया कि जनपद के ऐसे दिव्यांग जन जिनकों विभाग द्वारा संचालित पंेशन योजना का लाभ मिल रहा है। सभी अपना आधार कार्ड, बैक पासबुक की छायाप्रति, दिव्यांगता प्रमाण पत्र व अपनी दो फोटो अविलम्ब कार्यालय जिला दिव्यांग जन विकास विभाग सूरजपुर कमरा नम्बर 107 में जमा करा दें। अन्यथा की स्थिति में पंेशन की धनराशि उनके खातो में नही भंेजी जायेंगी। जिसकी पूर्ण जिम्मेदारी लाभार्थी की होेगी। उन्होंने यह भी बताया कि जिन पेंशनरों का खाता जिला सहकारी बैक में है, वे सभी अपना खाता किसी राष्ट्रीयकृत बैक में खुलवाकर खाता संख्या कार्यालय में अविलम्ब उपलब्ध करा दें, ताकि पेंशन की राशि अविलम्ब उनके खातो में भंेजी जा सकें।

DISTRICT ADMINISTRATION TIGHTENS BELT ON KAUSHALYA WORLD SCHOOL GREATER NOIDA

आज कौशल्या वर्ल्ड स्कूल का परिवहन, अग्निशमन तथा शिक्षा विभाग की संयुक्त टीम द्वारा निरीक्षण किया गया । मौके पर उपलब्ध वाहनों में से 3 बसों की फिटनेस सर्टिफिकेट समाप्त हो गए थे , जिनके संबंध में सितंबर के अंतिम सप्ताह में विद्यालय को नोटिस भी दिया गया था। किंतु इस नोटिस को दरकिनार करते हुए विद्यालय द्वारा इन बसों के स्वास्थ्य प्रमाण पत्र जारी कराने में कोई दिलचस्पी नहीं ली गई थी। इन 3 वाहनों को मौके से जप्त कर, कोतवाली कासना, ग्रेटर नोएडा में निरुद्ध कर दिया गया ।

Police Teams Conduct Inspection at Kaushalya World School, CCTV Footage Seized!

Following sexual assault allegations of a Nigerian student, police teams today conducted investigations at Kaushalya World School, Greater Noida and collected CCTV footage of the premises.

The classroom of victim student was also inspected and although whole floor was under CCTV surveillance including the entrance corridor of Girls washroom, it was found that CCTV’s do not cover the corridor leading to boys washroom.

The accused is already in custody and is being probed for further details. School administration has extended full cooperation to investigating authorities and Principal Mukta Mishra answered to various queries of police officials.

(Detailed Story to Follow)

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ ने अवैध नि र्माण को ध्वस्त करने का दिया निर्देश !

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ देवाशीष पांडा ने परियोजना, शहरी सेवा व भूमि विभाग के साथ बैठक कर कहा कि अधिसूचित क्षेत्र में विभागी प्रबंधकों के लचीले रवैये के चलते अवैध निर्माण बढ़ता चला जा रहा है जिससे आगे चल कर प्राधिकरण को जमीन मिलने में मुश्किल होगी । सीईओ देवाशीष पांडा ने परियोजना विभाग के प्रबन्धको की लचीली कार्यशैली पर नाराजगी जताते हुए निर्देश दिया की वो अपने क्षेत्र में जा कर निरिक्षण करे और अवैध निर्माण को चिन्हित कर उन्हें रोका जाए और अवैध निर्माण करने वालो के खिलाफ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई जाए ।

प्राधिकरण इस सप्ताह के अंत में अवैध निर्माण को ध्वस्त करने के लिये अभियान शुरू करेगा ।
प्राधिकरण ने जिलाधिकारी और एसएसपी को पत्र भेज पुलिस बल की मांग की है जिससे अवैध निर्माण को हटाने में कोई समस्या खड़ी न हो और आसानी से अवैध निर्माण को हटाया जा सके।

देखा जाये तो ग्रेटर नोएडा वेस्ट में अवैध निर्माण करने वालो ने प्रधिकरण की जमीन पर सेंध लगाई हुई है प्राधिकरण की उन जमीनों पर भी अवैध निर्माण हो रहा है जिसपर किसानों को मुआवजा दिया जा चुका है। सूत्रों के मुताबिक प्रधिकरण के प्रबन्धको के साथ साठ गांठ के बिना अवैध निर्माण संभव ही नहीं है और यही कारण है की ग्रेटर नॉएडा सीईओ बैठक में बेहद तल्ख़ लहजे में नजर आए । अवैध निर्माण की गति इसी रफ़्तार से बढ़ती गई तो प्रधिकरण को जमीन मिलनी मुश्किल हो जायेगी ।

अवैध निर्माण को गंभीरता से लेते हुए प्रधिकरण के सीईओ ने परियोजना विभाग को जिम्मेदारी सौंपी है।