दुनिया की सबसे बड़ी सैमसंग मोबाइल फैक्टरी का उद्घाटन – विशेष न्यूज़ report

*1-माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने भारत में किया दुनिया की सबसे बड़ी सैमसंग मोबाइल फैक्टरी का उद्घाटन, ‘मेक फॉर द वर्ल्ड’ का किया शुभारंभ।*
*2-भारत को मेक इन इण्डिया बनाने में दक्षिण कोरिया की अहम भूमिका उसी के फलस्वरूप विश्व की सबसे बड़ी सेमसंग मोबाईल कम्पनी की उत्तर प्रदेश को मिली बड़ी शौगातः श्री नरेन्द्र मोदी।*
*3-भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री के नेतृत्व में मेक इन इण्डिया एवं रोजगार सर्जन मे निरन्तर रूप से आगे बड़ रहा है उत्तर प्रदेशः मुख्यमंत्री।*
*4-दक्षिण कोरिया के माननीय राष्ट्रपति मून जई इन का मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश योगी आदित्य नाथ ने विश्व की सबसे बड़ी मोबाईल कम्पनी सेमसंग की नोएडा में स्थापना करने पर किया धन्यवाद। हजारों की संख्या में कम्पनी के माध्यम से मिलेगा प्रदेश के नौजवानांे को रोजगार, दोनांे देशों के 2 हजार वर्ष पुराने है सम्बन्ध।*

*गौतमबुद्धनगर 9 जुलाई, 2018*

*भारत के माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी तथा दक्षिण कोरिया के माननीय राष्ट्रपति मून जई इन ने आज संयुक्त रूप से सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स की नई मोबाइल फोन निर्माण इकाई दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्टरी का नोएडा में उद्घाटन किया। इस अवसर सैमसंग इंडिया ने अपने ‘मेक फॉर द वर्ल्ड’ इनीशियेटिव को भी लॉन्च किया, जिसका लक्ष्य भारत में बनाए गए मोबाइल हैंडसेट को विदेशी बाजारों में निर्यात करना है। माननीय प्रधानमंत्री ने कहा कि इस नई फैक्टरी के साथ, सैमसंग नोएडा में अपनी मोबाइल फोन निर्माण की वर्तमान क्षमता को सालाना 6.8 करोड़ फोन युनिट से 12 करोड़ युनिट तक बढ़ाकर दोगुना करने का काम करेगा, जिसका विस्तार चरणबद्ध तरीके से 2020 तक पूरा होगा। सैमसंग द्वारा भारत में मोबाइल फोन का निर्माण 2007 से किया जा रहा है और यह अकेला ऐसा ब्रैंड है जो पूरी तरह से मेड इन इंडिया है। सैमसंग इंडिया अपनी स्थापना से ही प्रिंटेड सर्किट बोर्ड (पीसीबी) को पॉप्युलेट कर रहा है और यह भारत सरकार के फेस्ड मैन्युफैक्चरिंग प्रोग्राम (पीएमपी) के लक्ष्यों के साथ जुड़ा है। उन्होंने कहा कि विगत 7 जून 2017 को सैमसंग ने उत्तर प्रदेश सरकार की मेगा पॉलिसी के तहत 4,915 करोड़ रुपये के निवेश के साथ नोएडा प्लांट की क्षमता बढ़ाने की घोषणा की थी, जो सपना आज पूरा हुया है। माननीय प्रधानमंत्री ने कहा कि आज बहुत ही सुखद अनुभव एवं गर्व का विषय है कि दक्षिण कोरिया की भारत के साथ संयुक्त तत्वाधान में विश्व की सबसे बड़ी नवनिर्मित मोबाईल कम्पनी का शुभ्भारम्भ करने का उन्हें अवसर प्राप्त हुआ है। उन्हांेने कहा कि भारत को मेक इन इण्डिया बनाने मंे कोरिया का महत्वपूर्ण योगदान है और वर्तमान में भारत के प्रत्येक घर में कोरिया का प्रोडक्ट प्रयोग किया जा रहा हैं। उन्होने कहा कि आज इस कम्पनी के आरम्भ होने से भारत के हजारांे लोगों को रोजगार प्राप्त होगा और देश को मेक इन इण्डिया बनाने में सेमसंग कम्पनी का अधिकतम योगदान रहेगा।*

*उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने इस अवसर पर दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जई इन की भूरी भूरी प्रंशसा करते हुये कहा कि आज उनके सहयोग से उत्तर प्रदेश को एक बडे़ तौहफे के रूप में विश्व की सबसे बड़ी सेमसंग मोबाईल कम्पनी का शुभ्भारम्भ देश के यशस्वी प्रधानमंत्री के द्वारा किया गया है, जिससे प्रदेश में जहाॅ एक ओर हजारों की संख्या में जनसामान्य को रोजगार प्राप्त होगा, वही दूसरी ओर उत्तर प्रदेश मेक इन इण्डिया की दिशा में अग्रेतर प्रगति करेगा। उन्हांेेने कहा कि विगत 7 जून, 2017 को इनवेस्टर सबमिट में दक्षिण कोरिया के द्वारा यह निर्णय लिया गया था और एमओयू साइन के उपरान्त एक वर्ष के भीतर सेमसंग कम्पनी के द्वारा यह मोबाईल कम्पनी जितने कम समय में तैयार की गयी है, यह अपने आप मे एक गौरव का विषय है। उन्हांेने कहा कि सम्बन्धित कम्पनी को इतने कम समय में तैयार कराने में प्रदेश सरकार की अहम भूमिका रही है, जिसमें प्रदेश सरकार के द्वारा 22 किलो मीटर विद्युत लाईन तैयार कराते हुये 50 मैगावाट का कनैक्शन सेमसंग को प्रदान कराया गया है। उन्होंने सेमसंग कम्पनी के अधिकारियांे को आश्वस्त किया कि प्रदेश सरकार के द्वारा आगे भी उन्हें इसी प्रकार सहयोग प्रदान किया जायेगा।*

*इस अवसर पर दक्षिण कोरिया के माननीय राष्ट्रपति मून जई इन ने आर्थिक दिशा में दोनों देशांे को संयुक्त रूप से आगे बढनंे के लिए भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का बारम बार धन्यवाद किया और कहा कि भारत के सहयोग से आज विश्व की सबसे बड़ी मोबाईल कम्पनी का शुभ्भारम्भ नोएडा में हुआ है । उन्हांेने कहा कि दोनो देश आपसी सहयोग से आर्थिक उन्नती के क्षेत्र में जिस प्रकार आगे बढ़ रहे इसके लिए उन्हांेने भारत के सभी नागरिकों का सम्मान किया और दांेनो देशों का 2 हजार वर्ष पुराना आपसी रिश्ता होना भी बताया। उन्होंने कहा कि आज भारत और कोरिया विश्व में सबसे अच्छे दोस्त है और यह दोस्ती आगे भी इसी प्रकार कायम रहेगी और आर्थिक उन्नती के क्षेत्र मे आगे बढ़ेगे। सैमसंग इंडिया के सीईओ श्री एचसी हॉन्ग ने कहा, ‘हमारी नोएडा फैक्टरी, जो दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्टरी है, भारत के लिए सैमसंग की मजबूत प्रतिबद्धता का प्रतीक है, और सरकार के ‘मेक इन इंडिया’ कार्यक्रम की सफलता का बेहतरीन उदाहरण है। सैमसंग भारत का लॉन्ग-टर्म पार्टनर है। हम ‘मेक इन इंडिया’, ‘मेक फॉर इंडिया’ के बाद अब ‘मेक फॉर द वर्ल्ड’ पर काम करेंगे। हम सरकार की पॉलिसी के अनुरूप काम कर रहे हैं और भारत को मोबाइल फोन के लिए ग्लोबल एक्सपोर्ट हब बनाने के अपने सपने को पूरा करेंगे।*
*नोएडा फैक्टरी, जिसे 1996 में स्थापित किया गया था, भारत में स्थापित की गई पहली ग्लोबल इलेक्ट्रॉनिक निर्माण सुविधाओं में से एक है। 129,000 वर्ग मीटर के क्षेत्र में फैला हुआ यह नया और बड़ा प्लांट, सैमसंग को देशभर में अपने इनोवेटिव प्रोडक्ट्स और सेवाओं की बढ़ती मांग को पूरा करने और भारत को दुनिया का एक्सपोर्ट हब बनाने के सपने को साकार करने में मदद करेगा। एक सच्चे मार्केट लीडर के रूप में, सैमसंग भारतीय उपभोक्ताओं को नोएडा संयंत्र में निर्मित मोबाइल फोन के साथ अत्याधुनिक तकनीक और समृद्ध अनुभव प्रदान करता आ रहा है, जो कि दिल्ली-एनसीआर के आपूर्तिकर्ताओं के बड़े ईकोसिस्टम और देशभर के पार्टनर के समर्थन से किया जा रहा है। फ्लैगशिप गैलेक्सी और गैलेक्सी नोट 8 सहित सभी सैमसंग मोबाइल फोन नोएडा संयंत्र में ही बनते हैं। 1995 में भारत में प्रवेश के बाद से सैमसंग ने इनोवेशन से जुड़े निर्माण और कंस्यूमर मार्केटिंग के क्षेत्र में नए मानक स्थापित किए हैं, और अपने आप को एक सच्चे राष्ट्रीय ब्रैंड के तौर पर स्थापित किया है। नोएडा और चेन्नई के नजदीक स्थित श्रीपेरंबुदुर की दो फैक्टरी, पांच आरएंडडी सेंटर और एक डिजाइन सेंटर स्थापित करके सैमसंग ने देश में अपनी मार्केट लीडरशिप को मजबूत किया है। साथ ही 1.5 लाख से अधिक रिटेल आउटलेट्स और 3,000 कस्टमर सर्विस प्वाइंट्स के नेटवर्क ने भी कंपनी को मजबूती दी है, जो कि देश में किसी भी कंपनी द्वारा स्थापित किया गया सबसे बड़ा नेटवर्क है। सैमसंग अपनी ‘मेक इन इंडिया’ प्रतिबद्धता के साथ और ‘मेक फॉर इंडिया’ के वादे को पूरा करके, दिल से एक सच्ची भारतीय कंपनी बनकर सामने आई है। जिला सूचना कार्यालय गौतम बुद्ध नगर।*

Leave a Reply