Monthly Archive: May 2018

धूम दादरी विद्युत उपकेंद्र पर मरम्मत कार् य हेतु सुबह 7 बजे से सायं 7 तक विद्युत आपूर्ति र हेगी बाधित

आगामी 27 मई को धूम दादरी के उपकेंद्र पर मरम्मत कार्य होने के कारण सुबह 7:00 बजे से सायं 7:00 बजे तक विद्युत आपूर्ति रहेगी बाधित। इस संबंध में विद्युत विभाग के माध्यम से एक सूचना तैयार की गई है। जिसे डीएम वार रूम के माध्यम से आम नागरिकों तक भेजा जा रहा है। जिसका अवलोकन कर इस संबंध में जानकारी प्राप्त कर सकते है।

आईआईएमटी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में पांच दि वसीय एफडीपी का हुआ आयोजन


आईआईएमटी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के इलेक्ट्रा निक्स एंड कम्यू निकेशन विभाग में एकेटीयू लखनउ द्वारा प्रायोजित एम्बे्डेडे सिस्टडम एवं आईओटी विषय पर 21से 25 मई तक का पांच दिवसीय फैकल्टीे डेवलपमेंट प्रोग्राम का आयोजन किया गया | पांच दिवसीय इस कार्यक्रम में देश के कई प्रतिष्ठिेत संसथानो के प्रोफ़ेसरों ने अपने विचार व्यिक्तर किये जिनमें मुख्यष रुप से जामिया मिलिया इस्लाेमिया के प्रो तारिकुल इस्ला‍म ,एन पी एल दिल्लीष के वैज्ञानिक प्रो महेश कुमार,सीरी पिलानी के मुख्यु वैज्ञानिक डा शशीकांत आदि थे।इसमें ग्रेटर नोएडा के एनआईईटी ,जीएल बजाज ,एनआईयू आदि कालेजों के 70 शिक्षकों ने भाग लिया। एफडीपी का उद्देश्य शिक्षकों और शोधकर्ताओं का व्यावसायिक विकास कर उनके कैरियर को नई उचाई देना है।

सीरी पिलानी के मुख्यक वैज्ञानिक डा शशीकांत ने सभी प्रतिभागियों को बधाई देते हुए कहा कि इस कार्यक्रम की सीख प्रतिभागियों को निश्चित रूप से परिस्थितियों को अधिक व्यावहारिक रूप से देखने में सहायक होगी |

जामिया मिलिया इस्ला्मिया के प्रो तारिकुल इस्लाेम ने भी सभी प्रतिभागियों को शोध के उपकरणों को प्रभावी तरीके से प्रयोग करने की सलाह भी दी |
प्रतिभागियों ने कहा कि कार्यक्रम के द्वारा उन्हें स्पष्टीकरण मिला कि वास्तव में अनुसंधान क्या है और इसे संसाधनपूर्ण, आसान और प्रभावी तरीके से कैसे पूरा किया जा सकता है | उन्होंने संस्थान द्वारा कार्यक्रम के निर्बाध संचालन की सराहना की और कहा कि पांच दिवसीय एफडीपी दौरान उन्हें बहुत कुछ सीखने को मिला।

कार्यक्रम के समापन समारोह में आईआईएमटी कॉलेज समूह के प्रबंध निदेशक मयंक अग्रवाल ने कार्यक्रम को सफलतापूर्वक पूरा करने पर सभी प्रतिभागियों को बधाई दी और उनके उज्ज्वल भविष्यट कि कामना की। कार्यक्रम की मुख्ये संयोजिका डा सीमा नायक ने अन्त मे आये हुए सभी वक्ताकओं और प्रतिभागी शिक्षकों का धन्य‍वाद किया ।

ग्रेटर नॉएडा स्थित सुपरटेक जार सोसाइटी मे ं जन संबाद कार्यक्रम

आवश्यक सूचना एवं आमंत्रण पत्र आदरणीय पत्रकार बंधुओं , सादर नमस्कार आप सभी सम्मानित पत्रकार बंधुओं को सूचित किया जाता हे , कि ग्रेटर नॉएडा स्थित सुपरटेक जार सोसाइटी में जन संबाद कार्यक्रम के तहत सोसाइटी की समस्त समस्याओं के समाधान हेतु गौतम बुद्ध नगर के माननीय सांसद , एवं केन्द्रीय मंत्री भारत सरकार डॉक्टर महेश शर्मा जी का ग्रेटर नॉएडा विकाश प्राधिकरण ( Authority ) के बरिष्ठ अधिकारियों एवं बरिष्ठ प्रसाशनिक अधिकारियों के साथ 26 मई 2018 दिन शनिवार दोपहर 1 बजे आगमन हो रहा हे / आप सभी सम्मानित पत्रकार बंधू सादर आमंत्रित हे / धन्यवाद , इंजीनियर पवन मिश्रा अध्यक्ष AOA सुपरटेक जार , ग्रेटर नॉएडा

Ryan Greater Noida Felicitated as top school of India

It was indeed a proud moment for Ryan International School, Greater Noida to received the award "Top Schools of India" for being ranked as one of the best school in the Top School of India Ranking Survey, conducted by digital LEARNING magazine at the Elets Education Conclave 2018, 23rd May, Lucknow.

The school was chosen for the award on the survey which was done to focus and deliberate on the concerns and challenges in diverse areas of education. The award was evaluated by the panel of esteemed Jury representing leaders from the field of Industry/Academia for providing excellent education and different platforms to enhance various skills of the students, helping them to nurture their talent and skills.

The award was presented to the school Principal, Mrs Sudha Singh for Ryan International School, Greater Noida by Dr. Hari Om, Secretary General Administration Department, Govt. of Uttar Pradesh. The award ceremony was graced by Dr. Dinesh Sharma, Hon’ble Deputy Chief Minister, Government of Uttar Pradesh as Chief Guest and Shri Sandeep Singh, Hon’ble Minister of State for Basic, Secondary, Higher, Technical & Medical Education, Government of Uttar Pradesh .

The school thanked its mentors Dr. A F Pinto and Managing Director Madam Grace Pinto for their vision and support in bringing up the school.

Four builders finned of 6 lakh for violating NGT guidelines

On the charge of violating the rules of National Green Tribunal (NGT), the Uttar Pradesh Pollution Control Board (UPPCB) found four builders of Greater Noida to be guilty of storing the material in open and not sprinkling water on the dust mud. The bord has written a letter to City Magistrate Noida and has recommended the penalty of six lakh fifty thousand rupees. NGT rules are being violated openly and due to lack of proper arrangement over construction sites the environment is getting polluted.

अपराधों पर अंकुश लगाने हेतु डीएम की अध्यक ्षता में कानून व्यवस्था पर हुई बैठक


जिलाधिकारी गौतम बुद्ध नगर ब्रजेश नारायण सिंह ने समस्त पुलिस, प्रशासन एवं अन्य संबंधित अधिकारियों का आह्वान करते हुए कहा कि जनपद में उत्तर प्रदेश सरकार के माननीय मुख्यमंत्री एवं उत्तर प्रदेश शासन की मंशा के अनुरूप अपराधों पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से समस्त विभागीय अधिकारियों के द्वारा एक कार्य योजना बनाकर प्रत्येक स्तर पर कार्य किया जाए ताकि जनपद में मानको के अनुसार कानून व्यवस्था कायम रहे।

जिलाधिकारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कार्यालय सभागार में कानून व्यवस्था की बैठक में अध्यक्षता करते हुए अपने उद्गार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के अधिकारियों के द्वारा अपराधों पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से संयुक्त रुप से कार्यवाही अमल में लाई जाए ताकि जनपद में कानून व्यवस्था कायम रहे।

उन्होंने कहा कि इसके लिए क्षेत्राधिकारी पुलिस एवं उप जिलाधिकारी दोनों अधिकारियों के माध्यम से अपने अपने क्षेत्र में व्यापक स्तर पर भ्रमण करते हुए छोटी से छोटी घटनाओं को संज्ञान लेकर कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। इसी प्रकार उन्होंने समस्त थानाध्यक्षों का आह्वान किया कि उनके द्वारा भी अपने-अपने थाना क्षेत्र में कानून व्यवस्था को लेकर शासन एवं सरकार की मंशा के अनुसार अपनी कार्यप्रणाली में सुधार लाकर कार्य किया जाए ताकि अपराधियों पर अंकुश लग सके। इस अवसर पर उन्होंने स्पष्ट कहा था कि सभी अधिकारियों के द्वारा कानून का अक्षर से पालन सुनिश्चित कराया जाए और अपराधियों पर अंकुश लगाने के संबंध में किसी के दबाव मे कार्य न किया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि अभियोजन विभाग से संबंधित अधिकारियों के माध्यम से ऐसी कार्य योजना बनाकर कार्य को अंजाम दिया जाए कि अधिक से अधिक अपराधियों को सजा मिल सके। इस संबंध में आपसी सामंजस्य स्थापित करते हुए सभी अधिकारियों के द्वारा एक ही उद्देश्य के साथ अपने कार्य को किया जाए कि अपराधियों के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई प्रत्येक स्तर पर सुनिश्चित की जाए ताकि अपराधी प्रवृत्ति के व्यक्ति जनपद से बाहर जाने पर मजबूर हो जाए।

जिलाधिकारी ने यहां यह भी उल्लेख किया कि जो सफेदपोश अपराधी हैं उनका चिन्हीकरण करते संबंधित अपराधी प्रवृत्ति के व्यक्तियों पर गुंडा एक्ट, गैंगस्टर आदि सख्त कार्यवाही प्रस्तावित की जाए ताकि आम नागरिकों को कानून व्यवस्था का संपूर्ण लाभ प्राप्त हो सके। इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉक्टर अजय पाल शर्मा के द्वारा भी समस्त पुलिस अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान करते हुए कानून व्यवस्था को मानकों के अनुसार बनाए रखने में कार्रवाई करने के लिए निर्देश दिए गए।

इस महत्वपूर्ण बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन कुमार विनीत अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व केशव कुमार पुलिस अधीक्षक नगर ए के सिंह पुलिस अधीक्षक ग्रामीण सुनीति समस्त उप जिलाधिकारी गण क्षेत्राधिकारी पुलिस थाना अध्यक्ष गण एवं अभियोजन से संबंधित अधिकारियों के द्वारा भाग लिया गया।

138 करोड़ 60 लाख की लागत से होंगे विकास कार्य, प ्रभारी मंत्री की अध्यक्षता में हुआ बजट पास

?ui=2&ik=89f58f1071&view=att&th=1638cc118139148f&attid=0.1&disp=safe&realattid=ii_jhj0xrm40_1638cc118139148f&zw
उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वपूर्ण योजना जिला योजना वित्तीय वर्ष 2018 -19 के अंतर्गत पूरे जनपद गौतम बुद्ध नगर में 138 करोड़ 60 लाख रूपय के बजट से विभागीय अधिकारियों द्वारा जनपद गौतम बुद्ध नगर में विकास कार्यक्रम संपादित कराए जाएंगे।

जिला योजना समिति की बैठक में उत्तर प्रदेश सरकार के माननीय आबकारी मंत्री एवं जनपद के प्रभारी मंत्री जय प्रताप सिंह की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में जिला योजना को आज अंतिम रूप प्रदान किया गया है। जिसके माध्यम से पूरे जनपद में वित्तीय वर्ष में विकास कार्यक्रमों को संपादित कराया जाएगा।

इस अवसर पर प्रभारी मंत्री जय प्रताप सिंह ने कहा कि जिन विभागीय अधिकारियों के द्वारा अपने अपने विभागीय कार्यक्रमों में जिला योजना के अंतर्गत बजट प्रस्तावित किया गया है उनके द्वारा अपनी-अपनी विभाग की कार्य योजना पूर्व से ही तैयार कर ली जाए और शासन से धन अवमुक्त होने के उपरांत सभी कार्यक्रमों को पूर्ण गुणवत्ता एवं समय बद्धता के साथ संपादित कराया जाए ताकि सरकार के इन विकास कार्यक्रमों का जन सामान्य को अधिक से अधिक सीधा लाभ प्राप्त हो सके।

माननीय मंत्री जी कलेक्ट्रेट के सभागार में जिला योजना समिति की बैठक में अध्यक्षता करते हुए विभागीय अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सभी विभागीय अधिकारियों के द्वारा धन अवमुक्त कराने के लिए अपने उच्च स्तरीय विभागीय प्रयास किए जाएं यदि इस कार्य में उनके सहयोग की आवश्यकता हो तो जिलाधिकारी के माध्यम से उसे प्राप्त करते हुए जिला योजना में विकास कार्यक्रमों को समय पर पूर्ण कराने की कार्यवाही सभी अधिकारियों के द्वारा की जाए, ताकि इन विकास कार्यक्रमों का लाभ जनता को अधिक से अधिक प्राप्त हो सके। उन्होंने यह भी कहा कि समस्त अधिकारीगण अपने-अपने विभाग में अधीनस्थ अधिकारियों एव कर्मचारियों को स्पष्ट निर्देश करते हुए उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री एवं सरकार की मंशा के अनुसार अपनी कार्यप्रणाली में सुधार लाते हुए जनता को अधिक से अधिक कार्यक्रमों को लाभ पहुंचाने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।

आयोजित महत्वपूर्ण बैठक में जेवर विधानसभा क्षेत्र के माननीय विधायक ठाकुर धीरेंद्र सिंह दादरी के माननीय विधायक तेजपाल नागर जिलाधिकारी गौतम बुद्ध नगर बीएन सिंह माननीय सांसद प्रतिनिधि संजय बाली अन्य जनप्रतिनिधि एवं जिला योजना समिति के सदस्य गण तथा अन्य समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा भाग लिया गया।

आईजीआरएस रैंकिंग में गौतम बुद्ध नगर की छल ांग 67वें स्थान से 22 वें पायदान पर पंहुचा

जिलाधिकारी बीएन सिंह के निर्देशन में जनता की समस्याओं के निस्तारण के संबंध में की जा रही कार्यवाही का सकारात्मक रुख प्रदर्शित होने लगा है। इस कार्यक्रम के नोडल अधिकारी एवं अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व केशव कुमार के द्वारा जानकारी देते हुए अवगत कराया गया है कि उत्तर प्रदेश सरकार के महत्वपूर्ण कार्यक्रम आईजीआरएस में जनपद वर्तमान तक 67वें स्थान पर था।

अब विभागीय अधिकारियों के द्वारा निस्तारण में कार्यवाही तेजी करने के फलस्वरुप जनपद 22 वें स्थान पर पहुंच गया है। उन्होंने समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों को स्पष्ट किया है कि जिन विभागीय अधिकारियों के प्रकरण अभी डिफाल्टर की श्रेणी में हैं उन अधिकारियों के वेतन रुके रहेंगे। उन्होंने समस्त अधिकारियों का यह भी आह्वान किया है कि सभी विभागीय अधिकारियों के द्वारा आईजीआरएस पोर्टल का प्रतिदिन अध्ययन किया जाए और जो शिकायतें उस पर प्राप्त हो रही हैं उनका निस्तारण तत्काल प्रभाव से कराया जाना सुनिश्चित किया जाए ताकि जनपद और ऊपर पायदान पर पहुंच सके।