Daily Archive: October 11, 2017

गौतम बुद्ध नगर बार एसोसिएशन ने उठाया न्याय िक शुल्क वृद्धि एवम हाई कोर्ट बेंच का मुद्दा

गौतम बुद्ध नगर बार एसोसिएसन ने मेरठ में हो रही पश्चमी उत्तर प्रदेश संघर्ष समिति की बैठक में हाईकोर्ट बेंच का मुद्दा उठाया।

आज मेरठ में पश्चमी उत्तर प्रदेश संघर्ष समिति की बैठक बुलाई गई जिसमे गौतम बुद्ध नगर बार एसोसिएसन का एक प्रतिनिधि मंडल भी बैठक में शामिल हुआ ।
बैठक में अपनी बात रखते हुए न्यायिक शुल्क में वृद्धि विरोध किया साथ ही पश्चमी उत्तर प्रदेश में हाई कोर्ट बेंच का भी मुद्दा रखा ।

उत्तर प्रदेश हाईकोर्ट बेंच केंद्रीय संघर्ष समिति के अनुरोध पर पश्चमी उत्तर प्रदेश के सभी 22 जिले उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा बढ़ाये गए न्यायिक शुल्क के विरोध में 12 व 13 अक्टूबर को हड़ताल करेंगे।
इस मौके पर राहुल चौधरी, राम शरण नागर (पूर्व अध्यक्ष), के. एच. जैदी, जयचंद्र गौड़, रवि डागुर(सहसचिव), आदित्य भाटी एडवोकेट आदि भी बैठक में उपस्थित रहे ।

ग्रेटर नोएडा पुलिस ने पकड़ा पचास हजार का इन ामी बदमाश सोनू पंडित को।

ग्रेटर नोएडा और इकोटेक 3 की पुलिस में जॉइंट ऑपरेशन चला कर पचास हजार के इनामी बदमाश सोनू पंडित को लोनी क्षेत्र से गिरफ्तार कर बड़ी कामयाबी हासिल की है
सोनू पंडित वह अपराधी है जो की बीते 20 सितंबर को इकोटेक 3 थाना क्षेत्र में हुई शराब कलेक्शन वैन से लूट और दो लोगो के मर्डर में वांछित था हलाकि पुलिस ने इसके दो साथी को पुलिस मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया था जबकि सोनू का एक साथी सुमित गुर्जर को पुलिस मुठभेड़ में मार गिराया था और यह पुलिस को चख्मा दे कर फरार हो गया था जिसके बाद पुलिस सोनू पंडित को तलाश कर रही थी जो आज पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

Robbers Loot GM’S car on Gunpoint in Greater Noida

In Ecotech 3 police station area near Khairapur Chowk . A Breeza Car & laptop was robbed from the General Manager of Hero Company Anil Kumar on Gun Point.
The robber gang had 3 Criminals who came in black Swift. After the robbery, criminals also opened fired in air and ran away. After the incident victim approached the police and registered the complaint.
Anil Kumar hails from Noida sector 50 commutes from Noida to greater Noida’s Badalapur for duty. Similarly on Monday evening he was returning to his home around 7pm when the swift being driven by criminals overtook his vehicle. Before victim could understand anything robbers immediately sprang into action and he was robbed of his Brezza on gun point. He also had his laptop in the car which also went away with the robbers.
In Greater Noida after a leap of one month car robbery has again started. Despite repeated encounters, Criminals remain fearless and conduct Crime. SP (RA) Suniti said that as per complaint of the victim the search teams have been formed and attempts are on to nab the criminals at earliest.

NANAJI DESHMUKH – AN IDEAL PERSON OF INDIAN POLITY – AWDESH PANDEY

भारतीय राजनीति के आदर्श पुरुष: नाना जी देशमुख

11 अक्टूबर 1916 को महाराष्ट्र के परभणी के कडोली गाँव मे जन्मे और अपना सम्पूर्ण जीवन देश को समर्पित करने वाले संघ के वरिष्ठ प्रचारक रहे नाना जी देशमुख का नाम किसी परिचय का मोहताज़ नहीं है. बचपन में ही माता पिता को खोने के बाद उनका लालन-पालन अपने मामा जी के यहाँ हुआ. संघ संस्थापक डा. हेडगेवार के संपर्क में आने के बाद उन्हे जैसे जीवन का लक्ष्य मिल गया. उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में संघ कार्य का विस्तार करने के साथ ही उन्होने देश के बच्चों में राष्ट्र-समाज और भारतीय संस्कृति के प्रति जागृ्ति फैलाकर उत्तम गुणवत्ता वाली शिक्षा देने के लिये गोरखपुर में ही प्रथम सरस्वती शिशु मंदिर की स्थापना की. आज देशभर में ऐसे अनगिनत विद्यालय चल रहे हैं और इन विद्यालयों से शिक्षा प्राप्त करके निकले विद्यार्थी राष्ट्र और समाज के विकास के लिये कीर्तिमान स्थापित कर रहे हैं.

1952 में भारतीय जनसंघ की स्थापना के बाद नाना जी को उत्तर प्रदेश का दायित्व सौंपा गया. भारत में पहली गैर काँग्रेसी सरकार बनवाने का श्रेय नाना जी को ही है. जेपी, लोहिया जैसे नेताओं के साथ मिलकर उन्होने इन्दिरा गाँधी के कुशासन और आपातकाल को चुनौती दी. बाद में 1977 में बनी पहली गैर काँग्रेसी सरकार में उन्हे मंत्रीपद का दायित्व संभालने का अवसर मिला, किन्तु उनका यह मानना था कि 60 वर्ष के पश्चात व्यक्ति को समाज का ही कार्य करना चाहिये न कि राजनीति और उन्होने स्वयं मंत्री पद अस्वीकार करके इसका उदाहरण पेश किया. आज जब आयु के 80वें पड़ाव में खड़े लोग जब राजनीति में अपनी महात्वाकांक्षा के कारण कुछ भूमिका तलाशते हुए नज़र आते हैं तब नाना जी के त्याग का अनायाश स्मरण हो जाता है.

उत्तर प्रदेश के सबसे पिछड़े जिलों में शुमार बलरामपुर के जानकीनगर को नाना जी अपनी कर्मस्थली चुना था. वहाँ पहुँचने के पश्चात उन्होने वहाँ के निवासियों को देव स्वरूप बता उनकी सेवा में अपना जीवन बिताने का निश्चय किया. उस समय वह बलरामपुर के सांसद थे और चुनाव के पूर्व उन्होने बलरामपुर के लोगों को वचन दिया था कि वह अब उन लोगों का जीवन स्तर सुधार कर ही अन्यत्र कहीँ जायेंगे. अभी बीते दिनों बलरामपुर के जयप्रभा ग्राम (जानकीनगर) जाने का सौभाग्य मिला. 80 के दशक में जो कार्य वहाँ नाना जी ने किया उसे देखकर नाना जी की आधुनिक एवं वैग्यानिक सोच का पता चलता है. नाना जी जयप्रभा ग्राम में सरकारी बैंक, डाकघर, टेलीफोन, सरस्वती विद्यालय एवं कृषि एवं पशुपालन के क्षेत्र में अनुकरणीय प्रयोगों को स्थापित किया. नाना जी ने पाया कि उस क्षेत्र की मूल समस्या सिंचाई सुविधा का न होना था. अत: उन्होने बैंक से किसानों को कर्ज़ दिलाकर जमीन में 70-80 हज़ार नलकूप लगवाये, जिससे किसानों की मेहनत उनकी फसल बिन पानी बर्बाद न हो. आज भी बलरामपुर गन्ने के उत्पादन में अग्रणी है, जिससे वहाँ के किसानों की आर्थिक स्थिति सुधरी है. किसानों में आध्यात्मिक चेतना जगाने के लिये नाना जी ने वहाँ एक सुंदर मंदिर भी बनवाया, जिसमें भारत के सभी तीर्थस्थलों का लघु चित्रण किया गया है. आज भी जय-प्रभा ग्राम संघ व अन्य समाज से जुड़े संगठनों के लिये प्रेरणाश्रोत है.

महाराष्ट्र के बीड और उत्तर प्रदेश के गोण्डा-बलरामपुर में कार्य करने के पश्चात जब उन्होने पूर्ण राजनीतिक वनवास लिया तो उन्होने मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की वनवास स्थली चित्रकूट को अपने कार्य के लिये चुना और जीवन के शेष वर्ष वहीं बिताने का निश्चय किया. उनका कहना था कि हम अपने लिए नही, अपनों के लिए हैं, अपने वे हैं जो पीडि़त व उपेक्षित हैं. चित्रकूट में उन्होने देश के प्रथम ग्रामोदय विश्वविद्यालय की स्थापना की. उनका स्वप्न था हर हाथ को काम और हर खेत को पानी.

ग्रामीण भारत को आत्मनिर्भर बनाने को स्वप्न आँखों में सँजोये नाना जी का देहावसान 27 फरवरी 2010 को चित्रकूट में हुआ. अपना जीवन भारत के लोगों और तत्पश्चात मृत शरीर भी अखिल भारतीय आर्युविग्यान संस्थान को दान कर उन्होने भारत की ऋषि परंपरा का अनुपम उदाहरण हमारे सामने रखा.

मौन तपस्वी साधक बनकर हिमगिरि सा चुप चाप गले. इन पक्तियों को अपने जीवन में उतार राष्ट्र का कार्य करने वाले नाना जी से जब थोड़ा बहुत कार्य कर प्रचार पाने वाले समाजसेवियों को देखता हूँ, तो नाना जी की महानता को अनगिनत बार नमन करने को मन करता है.

अवधेश पाण्डेय
सी-185, सेक्टर-37, ग्रेटर नोएडा.
मो. 91-99580-92091

GREATER NOIDA FACTORY CATCHES FIRE – POLICE AND FIRE MADE VIDEO

RAVI BANSAL
UDYOG VYAPAR MANDAL

ग्रेटर नोएडा में फैक्ट्री में हुई अग्नि दुर्घटना लखनऊ तक का फोन खटखटाने के बाद 45 मिनट के बाद एक फायर गाड़ी लाई और 1000 लिटर से ज्यादा पानी नहीं था उसके पास लखनऊ फोन करते के साथ ही पुलिस की गाड़ी आ गई और वह वीडियो रिकॉर्डिंग करने लगे फिर फायर ब्रिगेड की गाड़ी आने शुरू हुई पानी खत्म होने के बाद में वीडियो रिकॉर्डिंग करने लगे
40 40 किलो के LPG गैस सिलेंडर जिनकी संख्या 80 के करीब थी प्लांट में थे और पब्लिक नजदीक से उनको देख रही है वीडियो बना रही है अगर चार पांच सिलेंडर एक साथ ब्लास्ट कर जाते तू वीडियो बनाने वालों का भी वीडियो बन जाता

पुलिस ने पब्लिक को भी पीछे हटाने की कोई कोशिश नहीं की उसके लिए भी लखनऊ पर फोन करना पड़ा CO पहुंचे
परंतु रिकॉर्डिंग जा रही थी

पुलिस स्टाफ fire सब टाइम पास कर रहे थे
कुछ तो आनंद भी हो रहे थे क्या यह है हमारा समाज बड़ा दुख होता है सब देखकर मोदी जी का मेक इन इंडिया कैसे चलेगा कहीं बंद हो रहा है मेक इन इंडिया कहीं फेल हो रहा है और जल् रहा है

.