Daily Archive: April 1, 2017

आईटीएस डेंटल कॉलेज में तीन दिवसीय ऑक्लूजन में खो खो खेलती छात्राएं

’आई0 टी0 एस0 डेंटल कॉलेज में आयोजित अन्तर कॉलेज वार्षिक समारोह ’’ऑक्लूजन- 2017’’ के पहले और दूसरे दिन विभिन्न खेलों का आयोजन’’

आई0 टी0 एस0 डेंटल कॉलेज, ग्रेटर नोएडा में आयोजित तीन दिवसीय अंतर कॉलेज वार्षिक समारोह ’’ऑक्लूजन- 2017’’ के पहले दिन क्रिकेट, फुटबाल, खो-खो, वॉलीवॉल , दौड, बास्केटबॉल, टेबलटेनिस, कैरम तथा चेस आदि खेलों की धूम रही।
संस्थान के प्रधानाचार्य डॉ पुनीत आहुजा ने बताया कि उपरोक्त खेलों में दिल्ली- एन सी आर, उत्तराखंड, हिमाचलप्रदेष, मध्य प्रदेष तथा उ0 प्र0 के 20 से अधिक डेंटल कॉलेजों के छात्रों ने भाग लिया।कैरम में जहां पर बाबू बनारसीदास के शुभम ने श्री बांके बिहारी के मुंडू को हराकर बाजी मारी वहीं पर बास्केटबॉल में आई0 टी0 एस0 डेंटल कॉलेज, ग्रेटर नोएडा के छात्रों ने आई0 टी0 एस0 मुरादनगर के छात्रों को हराकर खिताब अपने नाम किया, 100 मीटर पुरूष दौड में सिद्धार्थ अव्वल रहे तथा महिलाओं की दौड में आई टी0 एस0 डेंटल कॉलेज, ग्रेटर नोएडा की अंजू ने अपना परचम लहराया वहीं पर 400 मीटर की दौड में आई0 टी0 एस0 डेंटल कॉलेज, ग्रेटर नोएडा के छात्रों ने बाजी मारी।टेबल टेनिस सिंगल्स एवं डबल्स में आई0टी0एस0 मुरादनगर के छात्रों ने अपना वर्चस्व जमाया तो वहीं पर चेस में पीपल्स डेंटल कॉलेज के छात्रों ने अपना लोहा मनवाया।

39वीं वाहिनी भा ति सी पुलिस में योग कैम्प का हुआ आयोजन

भारत की सर्वोत्कृष्ट सीमा प्रहरी भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल जो कि 1962 से भारत-चीन सीमा पर प्राकृतिक विषमताओं में दुनिया की सबसे उॅची बर्फीली चोटियों पर सजग तैनात है। श्री राजेष कुमार तोमर, सेनानी श्री राजेष कुमार तोमर, के अथक प्रयास से वाहिनी कैम्प परिसर में श्री कौषल कुमार, विख्यात योगाचार्य द्वारा दिनांक-01.04.17 को योग षिविर का आयोजन करवाया गया। श्री राजेष कुमार तोमर, सेनानी द्वारा श्री कौषल कुमार, योगाचार्य से परिचय कराने के उपरान्त बताया गया कि योगाचार्य से योग सीखें व अपने जीवन काल में अमल करें। श्री कौषल कुमार द्वारा कहा गया कि हमारे षारीरिक, मानसिक, भावनात्मक और आत्मिक विकास कर सकें इस विधा का नाम योग है। योगाचार्य ने यह भी बताया कि योग से षरीर मे लचक आती है तथा मनुश्य तनाव मुक्त रहता है तथा साथ ही योग षरीर में रक्त प्रवाह को बढाता है जिससे षरीर को ज्यादा ऑक्सीजन मिलती है साथ ही उन्होने यह भी कहा कि योग केवल योग दिवस पर ही करने के लिये नही हैं अपितु समय-समय पर योग का आयोजन उच्च स्तर पर किया जाना चाहिये जिससे सभी की योग में रुचि बनी रहें। सभी पदाधिकारियों से उत्साह के साथ सूक्ष्म व्यायाम, आसन, प्राणायाम, ध्यान एवं विभिन्न प्रकार के योगासन करवाये गये जिससे जवानों के मनोबल में वृद्धि हो सके। षारीरिक चुस्त दुरूस्त रहने हेतु एक उपाय योग भी है जिस कारण वाहिनी मे योग षिविर लगा कर जवानो को योग करवायें गये जिसमें हदृय, बल्ड प्रेषर, फेफडों सम्बन्धी बीमारियों से लाभ मिलता हैं। अन्त में सेनानी श्री राजेष कुमार तोमर,सेनानी 39वी वाहिनी द्वारा बताया गया कि वाहिनी कैम्प परिसर में योग का कैम्प समय-समय पर आयोजन करवाया जाता ही है परन्तु इस योग को सभी पदाधिकारी अपने जीवनकाल में हमेषा प्रयोग करते रहें, सेनानी 39वी वाहिनी द्वारा श्री कौषल कुमार, योगाचार्य को चिन्ह स्वरुप कैप भेंट किया गया और वाहिनी के सभी पदाधिकारियों के साथ ग्रुप फोटोग्राफी करवाई गई।

Innovision 2017” Technical Project Competition at Dronacharya Group of Institutions, Greater Noida

Dronacharya Group of Institutions, Greater Noida organized a Technical Project Competition “Innovision 2017” on 1st April 2017 at the Institution Campus, wherein students showcased their prowess of technology diffusion and inter branch innovations. Around 40 Projects from various departments of the institution were competing.

The event was graced by Mr. B. R. Bhati – Chairman, IIA, Greater Noida, Mr. A. K. Ojha – Assistant Director MSME, Rtn. Kapil Gupta – President, Rotary Club of Green Greater Noida and Ms. Reema Garg – Head Business Development, iCONEX Exhibition Pvt. Ltd. as Guests of Honour.

A panel of experts evaluated the projects for its Quality, Innovativeness, Societal Value, Commercial Viability and Scaling. Meaningful projects having future potential were given a financial support of Rs.10,000/15,000 to meet the expenditure towards developing and fabricating the projects.

DGI Director-Prof. (Dr.) S. K. Bagga lauded the efforts of the students.