Tag Archive: #GBN

शिवरात्रि मेले को लेकर उप जिला अधिकारी जेवर ने मेला स्थल पर शांति समिति की बैठक का किया आयोजन

शिवरात्रि मेले को लेकर उप जिला अधिकारी जेवर ने मेला स्थल पर शांति समिति की बैठक का किया आयोजन

जिलाधिकारी बीएन सिंह  के निर्देश पर  जनपद में  आयोजित होने वाले शिवरात्रि मेला को सकुशल संपन्न कराने के उद्देश्य से  विभागीय अधिकारियों द्वारा  अपने अपने स्तर पर कार्यवाही सुनिश्चित की जा रही है। इस क्रम में आज गुंजा सिंह उप जिलाधिकारी जेवर द्वारा शिव मन्दिर भाईपुर ब्रहमनान पर शिवरात्रि के उपलक्ष्य श्रद्धालूओं द्वारा किये जाने वाले जलाभिषेक एवं लगने वाले मेले के दृष्टिगत शान्ति व्यवस्था हेतु मेला कोतवाली शिवमन्दिर पर बैठक की गई एवं मन्दिर परिसर का भ्रमण किया तथा राजस्व कर्मचारियों एवं पुलिस प्रशासन को यथावश्यक दिशा निर्देश दिये। इस अवसर पर शरदचन्द शर्मा क्षेत्राधिकारी पुलिस जेवर,  श्यामजीत शाही नायब तहसीलदार जेवर, थानाध्यक्ष रबूपुरा एवं अन्य अधिकारीगण/कर्मचारीगण उपस्थित रहे। यह जानकारी उप जिलाधिकारी जेवर गुंजा सिंह के द्वारा दी गई है।

एनजीटी के नियमों का उल्लंघन करने पर सुपरटेक के दो प्लांट किए गए सीज, 5 लाख रूपये का लगाया गया जुर्माना

एनजीटी के नियमों का उल्लंघन करने पर सुपरटेक के दो प्लांट किए गए सीज, 5 लाख रूपये का लगाया गया जुर्माना

जनपद में एनजीटी के नियमों का उल्लंघन करने के सापेक्ष जिलाधिकारी बीएन सिंह के निर्देश पर नगर मजिस्ट्रेट नोएडा शैलेंद्र कुमार मिश्र के द्वारा बड़ी कार्यवाही सुनिश्चित करते हुए सुपर टेक कंपनी के दो प्लांट को सीज कर दिया गया है। सीज किए गए प्लांटों पर 5 लाख रूपये का जुर्माना भी एनजीटी के नियमों का उल्लंघन करने के सापेक्ष लगाया गया है।

नगर मजिस्ट्रेट के द्वारा की गई कार्यवाही में दोनों प्लांट पर चार अधिकारियों को भी गिरफ्तार करने की कार्यवाही सुनिश्चित की गई है। जिसमें नरेश यादव क्वालिटी इंजीनियर, सीके त्यागी प्लानिंग मैनेजर, अनिल कुमार प्रोडक्शन मैनेजर तथा राकेश पाल सिंह फायर टेक्नीशियन को गिरफ्तार कर जेल भेजने की कार्यवाही सुनिश्चित की गई है। यह जानकारी नगर मजिस्ट्रेट नोएडा शैलेंद्र कुमार मिश्रा के द्वारा दी गई है। उन्होंने बताया कि जनपद में कहीं पर भी यदि एनजीटी के नियमों का उल्लंघन करते हुए पाया जाएगा तो इसी प्रकार की कार्यवाही भविष्य में भी की जाएगी।

राजस्व वसूली में दादरी तहसील के अधिकारियों की बड़ी कार्यवाही, 1 करोड़ रुपए की वसूली की गई

राजस्व वसूली में दादरी तहसील के अधिकारियों की बड़ी कार्यवाही, 1 करोड़ रुपए की वसूली की गई
उप जिलाधिकारी दादरी अंजनी कुमार सिंह एवं उनके सहयोगी अधिकारी तहसीलदार आलोक प्रताप सिंह, नायब तहसीलदार दुर्गेश सिंह, नायब तहसीलदार आरती यादव के द्वारा राजस्व वसूली के लिए निरंतर रूप से शक्ति के साथ अभियान चलाकर कार्यवाही सुनिश्चित की जा रही है।
दादरी तहसील के अधिकारियों द्वारा आज बड़ी उपलब्धि प्राप्त करते हुए जे.एस.एस. कंपनी से रेरा का एक करोड रुपए वसूल किया गया है। तहसीलदार आलोक प्रताप सिंह ने बताया है कि तहसील के बकायेदारों के विरुद्ध विभागीय अधिकारियों द्वारा निरंतर रूप से वसूली की कार्यवाही सुनिश्चित की जा रही है। उन्होंने सभी बकायेदारों को सचेत करते हुए कहा है कि बकायदार अपने बकाए की धनराशि तहसील में जमा कराना सुनिश्चित करें अन्यथा की स्थिति में उनके विरूद्ध वसूली की कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।

आबकारी विभाग को मिली बड़ी सफलता, ग्रेटर नोएडा से 9 लाख कीमत की दो सौ पेटी से अधिक अवैध शराब बरामद

आबकारी विभाग को मिली बड़ी सफलता, ग्रेटर नोएडा से 9 लाख कीमत की दो सौ पेटी से अधिक अवैध शराब बरामद
पुलिस एवं आबकारी विभाग के द्वारा चलाए जा रहे विशेष अभियान के अंतर्गत हरियाणा राज्य से तस्करी कर लाई गई 218 पेटी इम्पैक्ट रम बरामद की गई हैं। जिला आबकारी अधिकारी राकेश कुमार सिंह ने बताया कि आज 15 फ़रवरी की सुबह सूचना मिली कि पुलिस लाइन की तरफ़ से हरियाणा से तस्करी कर एक कैंटर में शराब लाई जा रही है सूचना पर विश्वास कर सुरेन्द्र यादव आबकारी निरीक्षक अपनी टीम के साथ खेडा चौगान पुर गोल चक्कर के पास पुलिस लाइन की तरफ़ से आने वाले वाहनों की चेकिंग करने लगे।
सुबह लगभग साढ़े सात बजे एक आइसर कैंटर पुलिस लाइन की तरफ़ से आता हुआ दिखाई दिया, जिससे टीम के सदस्यों ने रुकने का इशारा किया परन्तु आयशर कैंटर चालक ने गाड़ी रोकने के बजाय और तेज भगाने लगा। जिससे यह विश्वास हो गया इसके अंदर कुछ न कुछ गड़बड़ है। आबकारी टीम के सदस्यों ने कैंटर का पीछा किया कुछ दूरी पर जाकर ड्राइवर गाड़ी छोड़ कर भाग गया। गाड़ी की तलाशी लेने पर उसके डाले में सब्ज़ी रखने वाले ख़ाली क्रेट रखे हुए थे जब ख़ाली क्रेट को हटाया गया तो उसके पीछे 218 पेटी इंपैक्ट Rum बरामद हुई है।
तलाशी लेने पर प्रत्येक पेटी के अन्दर बारह बोतल पायी गयी । इस प्रकार कुल 2616 बोतल 750 ml की अवैध शराब बरामद हुई।अवैध शराब के साथ आइसर कैंटर HR38 P 9833 को क़ब्ज़े में लिया गया। बरामद शराब की क़ीमत लगभग नौ लाख रुपया है। इकोटेक -3 थानें में संबंधित के विरुद्ध आबकारी अधिनियम एवं आईपीसी की सुसंगत धाराओं में एफ़आइआर कराई जा रही है। जिला आबकारी अधिकारी राकेश कुमार सिंह ने यह भी बताया कि जनपद में अवैध शराब के विरूद्ध जिलाधिकारी के निर्देश पर लगातार अभियान संचालित है। उन्होंने स्पष्ट किया है कि जनपद में यदि कहीं पर भी कोई भी व्यक्ति अवैध शराब के धंधे में संलिप्त पाया जाता है तो उसके विरूद्ध भी इसी प्रकार कठोरतम कार्रवाई प्रस्तावित की जाएगी।

जनपद में पुलिस एवं आबकारी विभाग के द्वारा संयुक्त रूप से चलाया गया अभियान, अवैध शराब बरामद

जनपद में पुलिस एवं आबकारी विभाग के द्वारा संयुक्त रूप से चलाया गया अभियान, अवैध शराब बरामद
जिलाधिकारी बीएन सिंह एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्ण के निर्देशानुसार जनपद मे अवैध शराब के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान के क्रम मे आबकारी विभाग व  पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा जनपद के विभिन्न जगहों  से अलग अलग ब्रांड के अभी तक कुल 298  पौवा हरियाणा मार्का शराब बरामद की गयी। छापेमारी की कार्यवाही बहलोलपुर, छिजारसी पुस्ता, चोट पुर, व सेक्टर 107 हाजीपुर मे की गयी।
इसके साथ दादरी के क्षेत्र मे ढाबो की चेकिंग की गयी व ग्रामीण क्षेत्रों मे बडपुरा, सैंथली, कलौदा, छायसा साधोपुर की झाल मे दबिश/ छापेमारी की कार्यवाही की गयी। शराब  जब्त कर सम्बंधित के खिलाफ आबकारी अधिनियम के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया ।
यह जानकारी जिला आबकारी अधिकारी राकेश कुमार सिंह के द्वारा दी गई है। उन्होंने यह भी बताया कि यह अभियान जनपद में अवैध शराब के विरूद्ध निरंतर रूप से संचालित है और यदि कहीं पर भी कोई व्यक्ति अवैध शराब के धंधे में संलिप्त पाया जाएगा तो उसके विरुद्ध भी इसी प्रकार की कठोरतम कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

एनजीटी के नियमों का उल्लघंन करने पर 5 संस्थाओं को जुर्माने का नोटिस जारी

एनजीटी के नियमों का पालन कराने के उद्देश्य से विभागीय अधिकारियों के द्वारा अपने अपने स्तर पर कार्यवाही की जा रही है ताकि पूरे जनपद में एनजीटी के नियमों का पालन सुनिश्चित हो सके। इसी क्रम में नगर मजिस्ट्रेट नोएडा के द्वारा 05 संस्थाओं को क्षेत्रीय प्रदूषण विभाग की रिपोर्ट के आधार पर जुर्माना लगाते हुये 10-10 हजार रूपये के नोटिस जारी किए हैं, और 1 सप्ताह के अंदर जवाब तलब किया गया है। अन्यथा की दशा में संबंधित फर्मों के माध्यम से जुर्मानें की राशि वसूलने की कार्यवाही की जाएगी।
नगर मजिस्ट्रेट के द्वारा जिन संस्थाओं पर जुर्माना लगाया गया है उसमें स्वामी/प्रबन्धक प्लाॅट नं0 सी-13, स्वामी/प्रबन्धक प्लाॅट नं0 ई-40, स्वामी/प्रबन्धक प्लाॅट नं0 डी0-45, स्वामी/प्रबन्धक प्लाॅट नं0 डी-47, सेक्टर-07 नोएडा, स्वामी/प्रबन्धक सुनील शर्मा बिल्डि़ंग मेटेरियल सप्लायर कासना ग्रेटर नोएडा, जिला गौतमबुद्धनगर सम्मलित है।
नगर मजिस्ट्रेट के द्वारा यह सभी नोटिस संबंधित फर्मों को एनजीटी के नियमों का उल्लंघन करने पर क्षेत्रीय प्रदूषण अधिकारी की रिपोर्ट के आधार पर जारी किए गए है। उन्होंने बताया कि यदि 1 सप्ताह के भीतर संबंधित व्यक्ति एवं फर्मों के माध्यम से रिपोर्ट प्राप्त नहीं होती है तो उनके विरूद्ध वसूली की कार्यवाही की जाएगी।

आबकारी विभाग व पुलिस की संयुक्त ने भारी मात्रा में अवैध शराब की बरामद

आबकारी विभाग व पुलिस की संयुक्त ने भारी मात्रा में अवैध शराब की बरामद
जिलाधिकारी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार जनपद मे अवैध शराब के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान के क्रम मे आबकारी विभाग व पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा जनपद के विभिन्न जगहों  से अलग अलग ब्रांड के कुल 498 पौवा हरियाणा मार्का शराब बरामद की गयी।
छापेमारी की कार्यवाही ममूरा, सेक्टर-62 औद्योगिक क्षेत्र, हैबतपुर, हाजीपुर व ग्रामीण क्षेत्र के नीमका, चिरौली, जहांगीरपुर, चकवीरम पुर गांवों मेे की गयी। सेक्टर 62 से 204 पौवा इम्पैक्ट ब्रांड, हाजीपुर से 54 पौवा इम्पैक्ट ब्रांड व चकवीरम पुर से 240 पौवा क्रेजी रोमियो ब्रांड की शराब जब्त कर सम्बंधित के खिलाफ आबकारी अधिनियम के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया।
यह जानकारी जिला आबकारी अधिकारी राकेश कुमार सिंह के द्वारा दी गई है। उन्होंने बताया कि यह अभियान जनपद में निरंतर रूप से संचालित रहेगा और यदि कहीं पर भी अवैध शराब के कारोबार में कोई भी व्यक्ति पकड़ा जाएगा तो उसके विरुद्ध इसी प्रकार कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।

उत्तर प्रदेश में 26, गौतमबुद्धनगर में 5 पुलिसकर्मियों का किया गया तबादला

उत्तर प्रदेश में 26 जबकि गौतमबुद्धनगर में 5 पुलिसकर्मियों का किया गया तबादला
2019 के लोकसभा चुनावों से पहले प्रदेश में तबादले का दौर शुरू हो गया है। निर्वाचन आयोग के निर्देश पर डीजीपी मुख्यालय ने उत्तर प्रदेश में 26 इंस्पेक्टरों का तबादला किया है। इनमें गौतमबुद्धनगर जिले के 5 इंस्पेक्टर भी शामिल हैं।
इनमें साइबर सेल प्रभारी जहीर खान, श्रीधर मिश्रा, मुकेश कुमार, सुबोध कुमार और प्रह्लाद सिंह यादव शामिल हैं। जहीर खान को गाजियाबाद और बाकी को मेरठ ट्रांसफर किया गया है। मेरठ में तैनात इंस्पेक्टर प्रशांत कपिल और नेहा चौहान को गौतमबुद्धनगर में तैनाती दी गई है। ये इंस्पेक्टर अपने-अपने जिलों में 3 साल से अधिक का कार्यकाल पूरा कर चुके हैं।

एनजीटी के नियमों का उल्लघंन करने पर 3 संस्थाओं को जुर्माने का नोटिस जारी

एनजीटी के नियमों का पालन सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से विभागीय अधिकारियों के द्वारा अपने अपने स्तर पर कार्यवाही की जा रही है ताकि पूरे जनपद में एनजीटी के नियमों का पालन सुनिश्चित हो सके। इसी क्रम में नगर मजिस्ट्रेट नोएडा के द्वारा 2 संस्थाओं को क्षेत्रीय प्रदूषण विभाग की रिपोर्ट के आधार पर जुर्माना लगाते हुए 10-10 हजार रूपये के नोटिस जारी किए हैं, और 1 सप्ताह के अंदर जवाब तलब किया गया है।

अन्यथा की दशा में संबंधित फर्मों के माध्यम से जुर्मानें की राशि वसूलने की कार्यवाही की जाएगी। नगर मजिस्ट्रेट के द्वारा जिन संस्थाओं पर जुर्माना लगाया गया है, उसमें स्वामी/प्रबन्धक प्लाॅट नं0 सी-44, सेक्टर-06 नोएडा, स्वामी/प्रबन्धक प्लाॅट नं0 ई0-26 सेक्टर 06 नोएडा जिला गौतमबुद्धनगर सम्मलित है। इसी प्रकार नगर मजिस्ट्रेट के द्वारा 1 संस्था स्वामी/प्रबन्धक मैसर्स विन्डसर कोर्ट, सेक्टर 74 नोएडा को 50 हजार रूपये का नोटिस जारी किया गया।

नगर मजिस्ट्रेट के द्वारा यह सभी नोटिस संबंधित फर्मों को एनजीटी के नियमों का उल्लंघन करने पर क्षेत्रीय प्रदूषण अधिकारी की रिपोर्ट के आधार पर जारी किए गए है। उन्होंने बताया कि यदि 1 सप्ताह के भीतर संबंधित व्यक्ति एवं फर्मों के माध्यम से रिपोर्ट प्राप्त नहीं होती है तो उनके खिलाफ वसूली की कार्यवाही की जाएगी।

कलेक्ट्रेट बार असोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष ने सीएम से की डीएम के लिए की जेड प्लस सुरक्षा की मांग

कलेक्ट्रेट बार असोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष ने सीएम से की डीएम के लिए की जेड प्लस सुरक्षा की मांग कलेक्ट्रेट बार असोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष ने सीएम से की डीएम के लिए की जेड प्लस सुरक्षा की मांग
कलेक्ट्रेट बार असोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष अतुल शर्मा ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र भेजकर गौतमबुद्धनगर के जिलाधिकारी बीएन सिंह के लिए जेड प्लस सुरक्षा की मांग की है। साथ ही आम लोगों के लिए हथियारों के लाइसेंस पर लगी रोक को हटाने की भी मांग की है।
अतुल शर्मा ने अपने पत्र में लिखा है कि डीएम ने हाल ही में अपनी जान को खतरा बताते हुए सुरक्षा बढ़ाने की मांग की है। इसमें उन्होंने भू-माफिया और बदमाशों पर लगातार की जा रही कार्रवाई के कारण अपनी जान का खतरा जताया था। अतुल शर्मा ने कहा है कि खतरे को देखते हुए उन्हें जेड प्लस सुरक्षा दी जाए।