विकास कार्यों में तेजी लाने के लिए डीएम ने दिए अधिकारीयों को निर्देश
जिलाधिकारी गौतम बुद्ध नगर बीएन सिंह ने विकास से जुड़े हुए समस्त अधिकारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा है कि समस्त विभागीय अधिकारियों के द्वारा अपने अपने विकास कार्यक्रमों में जल्द कार्रवाई करते हुए चल रहे विकास कार्यक्रमों में तेजी लाने की कार्रवाई करें ताकि सरकार की मनसा का लाभ जनता को प्राप्त हो सके।
डीएम ने कलेक्ट्रेट के सभागार में विकास कार्यों की समीक्षा बैठक में अनुश्रवण एवं समीक्षा करते हुए अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान कर रहे थे उन्होंने समस्त अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सभी के द्वारा अपनी अपनी योजनाओं की जानकारी आसानी एवं सरलता के साथ आम जनता तक पहुंचाए। इस प्रकार तैयार करते हुए जिला सूचना विज्ञान अधिकारी को तत्काल प्रभाव से उपलब्ध कराएं। जिला सूचना विज्ञान अधिकारी के द्वारा जनपद की वेबसाइट पर सभी विभागीय योजनाओं को आकर्षित रूप से अपलोड किया जाए ताकि आमजन सरकार की योजनाओं का आसानी के साथ लाभ उठा सकें।
उन्होंने यह भी कहा कि वार रूम के माध्यम से जो ऑडियो वीडियो एवं अन्य के द्वारा प्रचार-प्रसार किया जा रहा है, अधिकारी गण उसे भी जनपद की वेबसाइट पर अपलोड करने की कार्रवाई सुनिश्चित करेंगे, ताकि जनता को अधिकतम सरकार की योजनाओं का लाभ प्राप्त हो सके। उन्होंने आपूर्ति विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए विभागीय अधिकारियों को 100% पात्र लाभार्थियों को राशन वितरण कराने के निर्देश दिए और कहा कि जिन पात्र लाभार्थियों की राशन कार्ड आधार से लिंक नहीं हुए हैं उसमें त्वरित कार्रवाई करते हुए उन्हें राशन उपलब्ध कराने की कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।
लोक निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा में जिलाधिकारी ने गड्ढा मुक्त कार्यक्रम को गहनता के साथ चलाने के निर्देश दिए। इस संबंध में अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग के द्वारा अवगत कराया गया कि तीनों प्राधिकरण के माध्यम से गड्ढा मुक्त कार्यक्रम में प्रगति बहुत कम है इस संबंध में जिलाधिकारी ने सभी प्राधिकरण को पत्र आलेख भेजने के निर्देश दिए। कृषि विभाग के कार्यों की समीक्षा में जिलाधिकारी ने स्पष्ट रूप से कहा कि किसानों के हितार्थ सरकार की जो योजनाएं चल रही हैं उनका लाभ पूर्ण पारदर्शिता के साथ किसानों को पहुंचाया जाए तथा किसानों की आमदनी दोगुनी करने के संबंध में सरकार की डीबीटी योजना, बीज एवं उर्वरक उपलब्ध कराना तथा मृदा परीक्षण के आधार पर किसानों के द्वारा अपने खेतों में उर्वरक का प्रयोग, वर्मी कंपोस्ट आदि का लाभ किसानों को पहुंचाते हुए उनकी आय दोगुनी करने की कार्यवाही अधिकारियों द्वारा  सुनिश्चित की जाए, ताकि सरकार की मनसा का लाभ किसानों को प्राप्त हो सके।
उद्यान विभाग के अधिकारियों को जिलाधिकारी ने निर्देशित करते हुए कहा कि स्थानीय आवश्यकता के आधार पर किसानों को प्रेरित करते हुए पाली हाउस की सुविधा प्रदान की जाए, ताकि यहां के किसान कम जमीन में अच्छा लाभ प्राप्त कर सकें ।उन्होंने शिक्षा विभाग के कार्यों की समीक्षा में पाया कि बच्चों को 100% किताबों का वितरण हो चुका है स्वेटर वितरण मात्र 91% किया गया है इसे तत्काल पूरा कराने के लिए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया गया। उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जनपद के किसानों एवं उद्यमियों को अनवरत रूप से विद्युत आपूर्ति कराने की कार्यवाही विभागीय अधिकारियों के द्वारा सुनिश्चित की जाए और इस कार्य में किसी भी स्तर पर शिथिलता ने बरती जाए वहीं दूसरी और उन्होंने विद्युत वसूली के संबंध में भी अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश प्रदान किए।
जिलाधिकारी ने विकास कार्यक्रमों का जन-जन तक लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अधिकारियों के द्वारा जब भी ग्रामीण क्षेत्र में भ्रमण किया जाए उनके द्वारा अपने विभाग के कार्यक्रमों के साथ-साथ अन्य विभाग के कार्यक्रमों की जांच करते हुए संबंधित रिपोर्ट मुख्य विकास अधिकारी को उपलब्ध कराई जाए, ताकि किसी विभाग के कार्यों में कमी पाए जाने पर उन्हें ठीक कराया जा सके और सरकार के विकास कार्यक्रमों का लाभ ग्रामीण जनता को और अधिक प्राप्त हो सके। बैठक का संचालन मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह के द्वारा किया गया।
बैठक में परियोजना निदेशक डीआरडीए अवधेश कुमार, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी हेमंत कुमार, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग विमल कुमार, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी बालमुकुंद प्रसाद, जिला कार्यक्रम अधिकारी डीके सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी आनंद कुमार सिंह तथा अन्य जिला स्तरीय अधिकारियों के अलावा निर्माण एजेंसियों के अधिकारी मौजूद रहे।