Greater Noida Latest News

DM N P SINGH ON MATADATA JAGRUKTA RALLY

जिलाधिकारी गौतम बुद्ध नगर नागेंद्र प्रसाद सिंह के निर्देश पर आगामी 18 अक्टूबर को पूरे जनपद में स्कूली बच्चों के माध्यम से एक विस्तृत रैली का आयोजन किया जाएगा। जिसमें मतदाता जागरुकता के लिए आयोजित रैली का विशेष उद्देश्य होगा। जिलाधिकारी श्री सिंह ने इस संबंध में जिला विद्यालय निरीक्षक मुनेश कुमार को निर्देशित किया है कि उनके द्वारा जनपद के समस्त इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य को निर्देश निर्गत कर दिये जाएं। जिलाधिकारी ने कहा कि 18 अक्टूबर को निकलने वाली रैली बच्चों के माध्यम से अपने अपने क्षेत्र में निकाली जाएगी और उनके द्वारा यह संदेश दिया जाएगा कि जिन व्यक्तियों की आयु आगामी 1 जनवरी को 18 वर्ष या उससे अधिक पूर्ण हो रही है और उनका नाम मतदाता सूची में दर्ज नहीं है ऐसे सभी व्यक्तियों के फॉर्म 6 भर दिए जाएं और उन्हें अपने बूथ के बीएलओ को उपलब्ध करा दिया जाए ताकि उनका नाम मतदाता सूची में दर्ज हो सके । आयोजित रैली में बच्चों के माध्यम से निर्धारित स्लोगन एवं नारोँ द्वारा जनसामान्य को वोट की महत्ता के संबंध में भी एक संदेश दिया जाएगा ताकि सभी लोग अपने मत की महत्ता को समझ सके और छुटे हुए व्यक्ति अपना नाम मतदाता सूची में दर्ज करा सकें। राकेश चौहान सूचना अधिकारी गौतम बुद्ध नगर।

SAVITRIBAI PHULE INTER SCHOOL – GIRL STUDENTS CLEANING DRIVE

Sir ! Our girls from Savitribai had taken out rallies at Kasna vill not only for making the people aware as how to keep the surrounding clean but had themselves carried broomsticks to join hands with them.morover since mere saying no to plastic bags was not that effective our children had made n distributed paper bags to the shopkeepers with special request to use them. Its a challenge and we will keep on trying.

SCHOOL STUDENTS CAN SENSITIZE MARKETS TO KEEP IT CLEAN

By Vanita Srinuwas

Plz permit me to propose an initiative in this intensely interactive group of academicians and socially vigilant members.

This weekend I had been to a market place which was littered. And such is the scene in most of the places..

I propose that the students should be encouraged to sensitize people regarding civic senses and they should also speak to the body of shop owners to make suitable arrangements for cleaner surroundings.
My suggestion is that instt/schools may adopt particular areas and students should through placards or nukkad naatak sensitize people.

The elite member in this group may further add suggestions as to how this can be implemented.

Thanks for patient reading 🙏🏻