Greater Noida Latest News

उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए 1 थाने में 4 पुलिस इंस्पेक्टर तैनात किए जाएंगे। हर थाने पर अतिरिक्त 3 एसएचओ भी तैनात किए जाएंगे।

उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए 1 थाने में 4 पुलिस इंस्पेक्टर तैनात किए जाएंगे। हर थाने पर अतिरिक्त 3 एसएचओ भी तैनात किए जाएंगे।

Gautam Buddha Nagar villages get playgrounds, Volleyball kits as part of sports encouragement initiative

Turning Chief Minister’s desire into reality District Gautam Buddha Nagar has marked and reserved lands in different villages for play grounds.

Going a step ahead the administration has also introduced volleyball as sports at these places encouraging villagers to take part in this sport activity.

The simultaneous inauguration of volleyball grounds was commenced by the Tehsildar’s along with local residents.

The inauguration was done at about 9AM in different villages. The Poles, Net and Volleyball were provided by District administration through funds from Khel Protsaahan Samiti.

People also appreciated this initiative and said that this was a good step towards the revival of sports in rural areas.

कलेक्ट्रेट परिसर की वाहन पार्किंग एवं कै ंटीन के लिए आज होगी नीलामी

अतिरिक्त मजिस्ट्रेट राजेश कुमार ने जानकारी देते हुए अवगत कराया है कि जिला अधिकारी के निर्देशन में आज कलेक्ट्रेट परिसर की वाहन पार्किंग एवं कैंटीन नीलाम की नीलामी की जा रही है। अधिकतम बोली दाता को

पार्किंग एवं कैंटीन जाएगा। उन्होंने जनसामान्य का आह्वान किया है कि इच्छुक व्यक्ति इस कार्यक्रम में भाग लेकर लाभ उठा सकते हैं।

धांधलेबाज राशन डीलर के खिलाफ ग्रामवासियो ने एसडीएम सदर से की कार्यवाई की मांग

एक बार फिर सरकारी राशन डीलर द्वारा की जा रही धांधलेबाजी का मामला प्रकश में आया है। घटना गाँव मकनपुर बांगर की है जहा कुछ ग्रामवासियों ने अपने यहां सरकारी राशन डीलर के द्वारा हो रही धांधलेबाजी के चलते उसकी सरकारी राशन की दुकान के लाइसेंस के निरस्तीकरण के लिए एसडीएम सदर को लिखित में शिकायत दी है।

ग्रामवासियों ने आरोप लगया कि पिछले 20 वर्षों से यह सरकारी कोटा उसी के परिवार के सदस्यों के बीच अदलता बदलता रहता है। केई बार ग्रामवासियों द्वारा प्रशासन में शिकायत करने के बाबजूद उसकी दंबगई और प्रशासन में मिली भगत के चलते दुकान का लाइसेंस निरस्त नही हो सका। और साथ ही यह भी बतया की अधिकांश राशन कार्ड कार्डधारक को ना देकर अपने पास रखता है और कागजी कार्यवाही खुद पूरा कर के सरकारी राशन के सामान को दुकानों पर बेचता है।

ग्रामवासियों ने एसडीएम सदर राजपाल सिंह  से गुहार लगाई है कि कोटे धारक के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करते हुए तत्काल प्रभाव से कोटे का लाइसेंस निरस्त करे ताकि राशन सही व जरूरतमंदों के हाथों तक पहुंच सके।

भाकियू धरने में प्रशासन व पुलिस ने डाला अड ंगा तो होगा बडा आंदोलन

सुरजपूर स्थित कलेक्ट्रेट पर भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले धरना जारी है। एनसीआर मीडिया प्रभारी नरेश शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि भीष्ण गर्मी के आगे किसान पस्त नहीं पडे हैं। आज की पंचायत की अध्यक्षता बाबा देवी राम जी की व संचालन पवन खटाना नं किया किसानों की आज भी उतने ही बुलंद हैं जितना 21 मई को थे।

भाकियू ने स्पष्ट कर दिया है कि यदि प्रशासन ने किसानों के जिले में किसी भी मुद्दे पर चल रहे धरने मे यदि प्रशासन व पुलिस ने अडंगा डाला तो भाकियू बडा आंदोलन करने पर मजबूर होगी और इसके लिए प्रशासन ही जिम्मेदार होगा। हर सोमवार की तरह आज भी धरने में महापंचायत का आयोजन किया गया। जिसमें किसानों ने अपनी मांग 64.7 प्रतिशत अतिरिक्त प्रतिकर मयब्याज शासन द्वारा घोषित समय से व 10 प्रतिशत आवासीय भूखंड दिलाना, नोएडा प्राधिकरण द्वारा 1976 से 1997 तक के किसानों के साथ हो रहे सौतेले व्यवहार को खत्म करके उनके किसान कोटे के प्लॉट भी अधिग्रहण रेट के आधार पर दिलाया जाना, यमुना प्राधिकरण के अंतर्गत पड़ने वाले जगनपुर, अफजलपुर, अट्टा फतेहपुर एंव दनकौर गांव के किसानों को 4 वर्ष बीतने के बाद भी एक किसान को अतिरिक्त कर नहीं दिया गया है जबकी उपरोक्त तीनों गांव की पूर्णरूप से जमीन प्राधिकरण अपने कब्जे में ले चुका है उसका भुगतान, तीनों गांवों में बच्चों व परिवार के लिये सुविधा व निजी स्कूलों व अस्पतालों की लूट को बंद किया जाना चाहिए रखी।

जब तक यह मांगे पूरी नहीं हो जाती है किसान धरने से हटने वाला नहीं है। भाकियू आश्वासन से अपना धरना समाप्त नहीं करेगी यह बात प्रशासन को स्पष्ट हो चुकी है। बनी .रोहतास .गौतम सिंह .अशोकनागर इमलिया सिंह बाबा बलराज, राधे प्रधान, अक्के भाटी, नरेश शर्मा, पवन खटाना, सुभाष चौधरी, अनिल चौधरी, गजेन्द्र चौधरी, महेन्द्र मुखिया, बाबा लज्ज राम, रविन्द्र भाटी, सुनील प्रधान, हरेन्द्र बैसोया, सुरेन्द्र नागर आदि मौजूद थे।

भाकियू का 21वें दिन भी कलैक्ट्रेट पर जारी र हा धरना

सुरजपुर कलैक्ट्रेट कार्यालय में चल रहा भारतीय किसान यूनियन का धरना आज 21 वें दिन भी जारी रहा। एनसीआर मीडिया प्रभारी नरेश शर्मा ने बताया कि आज 21वें दिन भी किसान अपनी जगह पर डटे रहे। धरने में किसानों ने प्राधिकरण अधिकारियों के भ्रष्टाचार मामले की निंदा की। उन्होंने कहा कि किसानों को लूट कर प्राधिकरण अधिकारी अपने घर भर रहे हैं। जिस तरह से अभी अधिकारियों का खुलासा हुआ है उसी तरह अभी आगे भी उनके काले कारनाम सामने आएंगे। किसान अपनी जायज मांग को लेकर धरने पर बैठे हैं लेकिन अधिकारी उनकी सुन नहीं रहे। किसानों को उग्र करने का काम कर रहे हैं अधिकारी। आज के धरने मे सुभाष चौधरी, राजे प्रधान, सुरेन्द्र नागर, रविंद्र भाटी जोगिंदर भाटी।

कन्यादान हेतु भवन निर्माण श्रमिकों को सरक ार द्वारा से 55000 का अनुदान

जिलाधिकारी गौतम बुद्ध नगर बीएन सिंह ने समस्त जनपद वासियों को जानकारी देते हुए उनका आह्वान किया है कि भवन निर्माण से संबंधित श्रमिकों की पुत्रियों की शादी के लिए प्रदेश सरकार द्वारा 55000 का अनुदान प्रदान किया जा रहा है। यह अनुदान श्रमिकों को दो पुत्रियों तक दिया जा सकता है। उन्होंने बताया कि सरकार की इस योजना का लाभ श्रमिकों को प्राप्त करने के लिए अपना पंजीकरण श्रम विभाग में कराना आवश्यक है। अतः जो श्रमिक भवन निर्माण से संबंधित कार्य में लगे हैं अपना-अपना पंजीकरण श्रम विभाग में आवश्यक रूप से करा दें, ताकि सरकार द्वारा अनेकों योजनाओं का लाभ उन्हें प्राप्त हो सके।

भाकियू का धरना जारी, निजी स्कूलों पर बोला ह ल्ला

?ui=2&ik=6ea9cf41ab&view=att&th=163e46ef0867becf&attid=0.1&disp=safe&realattid=ii_ji7cqoij0_163e46ef0867becf&zw

प्राधिकरण व प्रशासन के आश्वासन के बाद भी भारतीय किसान यूनियन ने अपना सूरजपुर कलेक्ट्रेट पर चल रहा धरना जारी रखा है। शनिवार को किसान अपनी पांच मांगों को लेकर धरने में बैठे रहे। एनसीआर मीडिया प्रभारी नरेश शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि किसानों ने धरने के पहले ही दिन स्पष्ट कर दिया था कि वो किसी भी प्रकार के आश्वासन से अपना धरना समाप्त नहीं करेंगे। किसानों को अपनी समस्याओं का हल चाहिए।

जब तब अधिकारी उनकी मांगों व समस्याओं का निस्तारण नहीं करते हैं तब तक किसान धरने पर बैठे रहेंगे। अध्यक्षता जेवर तहसील विजयपाल भाटी ने की। उन्होंने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि किसानों की मांगें उचित हैं। निजी स्कूलों को जमीनें कौडी के भाव इसलिए दी गई थी कि किसान का बच्चा भी उसमें पढ़ सके और अपना भविष्य बना सके ना कि अधिकारियों व स्कूल संचालकों की जेंबें भरने के लिए। आज के धरने मेें शमशाद सैफी, जगबीर सिंह चौहान, नरेश शर्मा, आदि कार्यकता मौजूद रहे।