नेफोमा का प्रतिनिधि मंडल दादरी विधायक ते जपाल नागर से मिलाकर ज्ञापन सौपा

ग्रेटर नोएडा। मंगलवार को फ्लैट बायर्स की संस्था नेफोमा का प्रतिनिधि मंडल दादरी विधायक तेजपाल नागर से मिलाकर इन दिनों बायर्स की स्थिति पर चर्चा करते हुए कहा कि ग्रेटर नोएडा वेस्ट आपका ही छेत्र है। जहां लाखों फ्लैट खरीददार इधर- उधर की ठोकरें खा रहे हैं। बायर्स लगातार कभी मंत्री के पास जा रहे हैं तो कभी प्राधिकरण के पास और कभी सड़को पर धरना प्रदर्शन करने पर मजबूर हो रहे हैं।
इस दौरन नेफोमा अध्यक्ष अन्नू खान ने विधायक को चार सूत्रीय ज्ञापन सौंपते हुए कहा कि जिस तरह बायर्स ने प्रधानमंत्री पर विश्वास करते हुए उनकी पार्टी को विजयी बनाया था। बॉयर्स ने यह सोचकर भाजपा को वोटे दिया था कि सत्ता में आने पर उन्हें उनके घर जल्दी मिल जाएंगे। लेकिन चुनाव के बाद और सभी पार्टियों की तरह यह ही यह सरकार भी सब भूल गई।
हम सरकार से मांग करते है कि वह बायर्स के हक के लिए गंभीरता से सोचे और उनके द्वारा बैंकों को दी जाने वाली ईएमआई तुरंत बंद की जाए। साथ ही जिन बायर्स को पजेशन लेट मिला है उन्हें लेट पैनल्टी दी जाए।
इस दौरान विधायक के सामने चार सवाल रखे गए। यहां उनसे पूछा गया कि क्या हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा ग़ाज़ियाबाद की चुनावी सभा मे किए गए वादों को भूला दिया गया है। जिसमें उन्होंने लाखों फ्लैट/घर बनाने की बात कही थी। लेकिन आज लाखों बायर्स 9 साल से अपने फ्लैट का इंतजार कर रहे हैं।
यूपी में सरकार बने 6 महीने बीत गए और मंत्री भी प्राधिकरण में कई बार मीटिंग कर चुके हैं। जिसके बाद मुख्यमंत्री योगी द्वारा बिल्डरों को आदेश दिया गया कि तीन महीने में बायर्स को 50 हजार फ्लैट की पजेशन दिया जाए। लेकिन यह स्पष्ट नहीं किया गया कि पजेशन कैसे दिया जाएगा। इसके अलावा रेरा कानून पर सरकार का कोई स्पस्टीकरण नहीं है। अभी तक यह साफ नहीं हुआ है कि लाखों फ्लै बायर्स को इसका कैसे फायदा मिलेगा।

Leave a Reply