गलगोटियाज यूनिवर्सिटी में मनाया गया महिल ा दिवस

गलगोटियाज विश्वविद्यालय ने दिखायी महिला शक्ति की झलक स्कूल आफ मीडिया में प्रतिभाओं ने छुआ आकाश ग्रेटर नोयडा। गलगोटियाज विश्वविद्यालय में बुधवार को महिला दिवस पर आयोजित विशेष कार्यक्रम ‘टाइम टू फ्लाई हाई’ में प्रतिभाओं का हुनर आसमान छूता नजर आया। इस मौके पर रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों, महिलाओं पर फिल्म प्रदर्शन के साथ पोस्टर मेंकिंग और एंकरिंग प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया। विजेताओं को कुलपति रेनू लूथरा ने पदकों से नवाजा। गलगोटियाज विश्वविद्यालय के स्कूल आफ मीडिया एंड कम्यूनिकेशन स्टडीज की फिल्म रुपैया में समाज से जख्मी महिलाओं का पूरी ताकत के साथ वापस जंग में लौटना दिखाया गया। ‘शी इज यू’ फिल्म में भारत की नारी शक्ति की झलक पूरी शिद्दत से नजर आयी। महिला शक्ति पर छात्राओं अरुन्धति, राइमा, अनामिका, ज्योति और श्रुति के सामूहिक नृत्य ने जमकर तालियां बटोरी। अभिषेक के रैप को भी जमकर वाहवाही हासिल हुई। पोस्टर ‘वार आफ वूमन’ प्रतियोगिता में ऋत्विक ने महिलाओं पर हो रहे अमानवीय अत्याचारों को संवेदना के साथ कैनवास पर उतारा जिसके लिए उनको कार्यकारी कुलपति रेनू लूथरा ने स्वर्ण पदक से सम्मनित किया। रजत पदक रिद्धि और कांस्य पदक भावना को मिला। एंकरिंग प्रतियोगिता में प्रतिभागियों ने महिला होने का मतलब एक अलग ही अंदाज में बताया। आजिम अली को कुलपति ने स्वर्ण पदक से नवाजा। आकाश सिंह को रजत और ज्योति सिंह को कांस्य पदक हासिल हुआ। इस अवसर पर कुलपति रेनू लूथरा ने कहा कि इतिहास और वर्तमान इस बात का गवाह है कि विपरीत परिस्थितियों में महिलाओं ने जमकर ताकत दिखाई है। उन्हांने कहा कि महिलाएं उस टी बैग की तरह है जो गर्म पानी में अपना असल रंग दिखाती हैं। एचआर हेड शिल्पी चंद्रा ने इस अवसर पर कहा कि समाज को नारी शक्ति की जरूरत है और गलगोटियाज विश्वविद्यालय ने हमेशा ही महिला शक्ति को बढ़ावा दिया है। नारियों की संवेदना पर जोर देते हुए पत्रकारिता विभाग के कार्यकारी संकायाध्यक्ष प्रो. अमिताभ श्रीवास्तव ने कहा कि दुनिया और मानवता के विकास के लिए महिलाओं का विकास जरूरी है। निर्णायक मंडल में आशिया सिद्दीकी गोपा भारद्वाज, डा. किरन राय, प्रो. अमिताभ श्रीवास्तव, डा. हरीश कुमार शामिल थे। कार्यक्रम का समन्वयन प़त्रकारिता विभाग की अध्यापिकाओं आकांक्षा सिंह और गरिमा मिश्रा ने किया। विद्यार्थी समन्वयन अनिमेष तरुण, कमल अग्रवाल, आदेश श्रीवास्तव, जूली और आरिश अहमद ने किया। अंजलि और संकेत ने कार्यक्रम का प्रभावी संचालन किया।