कौशल्या वर्ल्ड स्कूल में विरासत की धूम

कौशल्या वर्ल्ड स्कूल में अंतर्विद्यालयी प्रतियोगिताओं पर आधारित विरासत कार्यक्रम का आयोजन अत्यधिक जोश एवं उत्साह के साथ किया गया। कार्यक्रम में ग्रेटर नोएडा के लगभग पच्चीस विद्यालयों के प्रतियागियों ने भाग लिया।
प्रतियोगिताओ के शुभारंभ से पूर्व विद्यालय के छात्र प्रतिनिधियों ने सभी प्रतिभागियों एवं शिक्षकों को तिलक लगाकर उनका स्वागत किया तत्पश्चात विद्यालय की डायरेक्टर श्रीमती मुक्ता मिश्रा ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया तथा सभी आगंतुक शिक्षकों तथा छात्रों का हार्दिक स्वागत किया।
विद्यालय की उपप्रधानाचार्या श्रीमती लीज़ा रॉय मलिक ने अपने स्वागत भाषण से प्रतियोगी विद्यालयों के शिक्षकों तथा प्रतियोगी छात्रों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि विद्यालय के इस कार्यक्रम की सफलता संपूर्ण विद्यालयों के प्रतिभागियों की उपस्थिति से ही संभव है। उन्होंने सभी विद्यालयों के शिक्षकों को कार्यक्रम में शामिल होने एवं छात्रों के सर्वंगीण विकास में भूमिका निभाने हेतु भागीदारी के लिए उन्हें धन्यवाद दिया।
कार्यक्रम में उपस्थित प्रतिभागी स्कूलों के अघ्यापकगण ने स्कूलसिनेमा के अंर्तगत शिक्षकों के लिए विशेष रूप से निर्मित सिनेमा को देखा जो शिक्षण कौशल के विकास के लिए महत्वपूर्ण हैं।इसके द्वारा छात्रों में निहित विविध कौशलों को पहचानने में सहायता मिलेगी तथा कक्षा शिक्षण में गुणवत्ता आएगी। विद्यालय की डायरेक्टर श्रीमती मुक्ता मिश्रा ने दर्शाई गई फिल्म पर परिचर्चा करते हुए शिक्षको को बताया कि वे इन कौशलों का प्रयोग कक्षा शिक्षण में करे।
कौशल्या वर्ल्ड स्कूल में इस प्रकार की अंतर्विद्यालयी प्रतियोगिताएॅं आयोजित होती रहती हैं।जिनका उद्देश्य प्रत्येक छात्र की प्रतिभा को पहचान कर उसका सर्वांगीण विकास करना है। विरासत के अंतर्गत दो दिन तक चलने वाली प्रतियोगिताओं में पहले दिन-कला प्रतियोगिता, फैंसी ड्र्ैस प्रतियोगिता,सोलो नृत्य प्रतियोगिता,सैलेड मेंकिंग प्रतियोगिता, पॉट डिज़ाइनिंग प्रतियोगिता,वादविवाद प्रतियोगिता, कॉलाज मेंकिंग प्रतियोगिता, हास्य कविता प्रतियोगिता,कविता वाचन प्रतियोगिता,एडमैड शो प्रतियोगिता,आदि प्रतियोगिताएॅं आयोजित की गई जिसमें विभिन्न विद्यालयों के छात्रों ने पूरे उत्साह के साथ अपनी भूमिका निभाई तथा प्रतियोगिता को जीतने का प्रयास किया।
प्रतियोगिता में सर्वोत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले प्रतियोगी छात्रों को पुरस्कारों से सम्मानित किया जाएगा।
कौशल्या वर्ल्ड स्कूल की चेयरपरसन श्रीमती कुशल सिंह ने प्रतियोगी छात्र-छात्राओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि ऐसी प्रतियोगिताएॅं शिक्षण एवं अध्ययन में अहम भूमिका निभाने के साथ-साथ जीवन कौशल सिखाती है।
दूसरे दिन की प्रतियोगिताएॅं कल समय पर पुनः आरंभ होंगी । तत्पश्चात विजेता छात्रों को पुरस्कृत किया जाएगा।