आई टी एस डेंटल काॅलेज, ग्रेटर नोएडा में इंडियन आॅर्थोडोंटिक्स सोसाइटी की चार दिवसीय ने शनल कांफे्रस का हुआ आयोजन

आई टी एस डेंटल काॅलेज, ग्रेटर नोएडा में इंडियन आॅर्थोडोंटिक्स की 23वीं चार दिवसीय नेशनल कांफ्रेस का आयोजन 21 से 24 फरवरी 2019 तक होगा। इस अवसर पर संस्थान के प्रधानाचार्य डाॅ0 सचित आनंद अरोडा ने बताया कि भारत के अलावा श्री लंका, बांग्लादेश, मलेशिया, दक्षिणी अफ्रीका, हंगरी तथा इथोपिया से लगभग 2000 से अधिक प्रतिभागियों के भाग लेने की सम्भावना है।

चार दिवसीय इस सम्मेलन में विशेषज्ञों द्वारा दांतों के आधुनिक इलाज के तरीकों का आदान प्रदान किया जायेगा जिससे भविष्य में दंत मरीजों को फायदा होगा। सम्मेलन में मुख्य वक्ता के रूप में हंगरी के डाॅ पीटर बॅार्बले, यूके के डाॅ वारगन वेडर, एम्स, दिल्ली के दंत विभाग के निदेशक डाॅ ओपी खरबंदा, केजीएमसी, लखनऊ के आॅर्थोडांेटिक्स विभाग के विभागाध्यक्ष डाॅ प्रदीप टंडन, मौलान आजाद, दिल्ली के आॅर्थोडांेटिक्स विभाग की विभागाध्यक्षा डाॅ0 तुलिका त्रिपाठी एवं अन्य कई विशेषज्ञ दंत चिकित्सा के क्षेत्र में हो रहे नित नये बदलाव एवं इलाज के तरीकों को शामिल प्रतिभागियों से साझा करेंगे।

कार्यक्रम में आयोजन कमेटी के अध्यक्ष एवं आई टी एस डेंटल काॅलेज, ग्रेटर नोएडा के आॅर्थोडोंटिक्स विभाग के विभागाध्यक्ष डाॅ अनिल मिगलानी ने बताया कि इस कांफ्रेस में मुख्यतः टेढे-मेढे दांतों को अल्प समय में सीधा करना तथा बिना तार के अलाइनर सिस्टम के माध्यम से भी दांतों को सीधा करने के तरीके विशेषज्ञों द्वारा बताये जायेंगे जिससे कांफ्रेस में उपस्थित सभी प्रतिभागियों को मरीजों का इलाज करने में आसानी होगी।

Leave a Reply