21वी शताब्दी में एच.आर.पेशेवरो के क्षेत्र में चुनौतियों पर नैशनल सम्मेलन का आयोजन

21वी शताब्दी में एच.आर.पेशेवरो के क्षेत्र में चुनौतियों पर नैशनल सम्मेलन का आयोजन
ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क स्थित आई.टी.एस इन्जीनियरिंग काॅलिज में एम.बी.ए. विभाग द्वारा आज 21वी शताब्दी में एच.आर. पेशेवरो के मुद्दे और चुनौतियों पर नैशनल सम्मेलन का आयोजन किया गया।
कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथि पंकज दुबे, सी.ई.ओ. एंड डायरेक्टर एसेन्चर पाॅलोराईज के द्वारा द्वीप प्रज्जवलन के साथ किया गया। इस अवसर पर मुख्य वक्ता के रूप में रोहित झमभा, वी.पी. एण्ड एच.आर. एसेन्चर, आई.टी.एस द-एजूकेशन ग्रुप के उपाध्यक्ष सोहेल चडढ़ा, आई.टी.एस. इन्जीनियरिंग काॅलिज के अधिशासी निदेशक, डाॅ विकास सिंह, एम.बी.ए. विभागाध्यक्ष, डाॅ0 सुनीता शुक्ला, शिक्षकगण, छात्र तथा देश के विभिन्न विद्यालयों के विद्वान उपस्थित रहें। सभी अतिथिगण एवं मुख्य वक्ताओं को कार्यक्रम के संयोजक  एल.के. वर्मा एवं डाॅ0 पल्लवी ने गुलदस्ता देकर सम्मानित किया गया।
विभागाध्यक्ष डाॅ0 सुनीता शुक्ला ने कार्यक्रम के उद्देश्यों और मुख्य बिन्दुओं पर प्रकाश डाला। संस्थान के अधिशासी निदेशक, डाॅ विकास सिंह ने मुख्य अतिथि एवं वक्ताओं का स्वागत करते हुए, सेमिनार के दौरान मानव संससाधन पेशेवरों द्वारा प्रस्तुत शोध पत्रों और लेखों का संकलन है, जो ज्ञान और अनुसंधान विशेषज्ञता के विशाल पूल को साझा करने में एक लंबा सफर तय करेगा। सेमिनार देश से अकादमी और उद्योग के काई प्रतिष्ठित विद्वानों ने भाग लिया। संगोष्ठी के दौरान उप-विषयों पर एक पैनल चर्चा ’जनरेशन वाई के साथ कार्यस्थल के मुद्दे’ भी आयोजित की गई थी और इससे उभरी सिफारिशें 21वी शताब्दी में मुद्दों और चुनोतियों का सामना करने में सक्षम होंगे।

Leave a Reply