श्री राम ने शिव धनुष को 50 फिट की ऊँचाई पर खण् डित किया गया ।

श्री रामलीला कमेटी ग्रेटर नोएडा द्वारा विजय महोत्सव 2018 का आयोजन UPSIDC साइट 4 के सेंट्रल पार्क ग्रेटर नोएडा में किया जा रहा है ।

मीडिया प्रभारी विनोद कसाना ने बताया कि आज गणेश जी कि आरती से रामलीला प्रारम्भ हुई सीता जी को मेहन्दी लगाने कि रस्म हुई ।
सभी देश देशान्तर के राजा मिथिला मेँ स्वयंवर में शामिल होते है और सभी राजा धनुष पर अपना बल आजमाते हैँ इस स्वंम्बर मे लंका नरेश रावण भी धनुष को उठाने के लिए चलते है तभी वाणासुर उसे समझाते हैं कि उसे अहंकार वाली बातें नहीं करनी चाहिये परन्तु रावण धनुष पर जोर लगाता हैं और तभी आकाशवाणी होती हैं कि रावण तेरी बहन को मधु दैत्य उठाकर ले गया तब रावण वापस चला जाता हैं जब किसी से धनुष नहीं टूटता हैं तो जनक क्रोधित होकर कुछ कड़वे वचन कह देते हैँ तो लक्ष्मण क्रोधित होते हैं ।
इसके पश्चात श्री राम विश्वामित्र की आज्ञा से जैसे ही धनुष को उठाते हैँ ।
दर्शको से भरा पूरा प्रांगण में जय श्री राम जय श्री राम जय सिया राम जय सिया राम के नारों से पूरा प्रांगण गुज उठता है ।
इसके पस्चात राम सीता का विवाह होता हैं धनुष के टूटने की आवाज सुनकर परशुराम क्रोधित होकर जनकपुर पहुंचते हैं और लक्ष्मण परशुराम के सम्वाद ने लोगों को तालिया बजाने पर मजबूर कर दिया दर्शको ने यह सब काफी सराहा ।
राम जी परशुराम को शांत करते हैँ फिर चारों भाइयों का विवाह होता हैं जनक और सुनयना चारों राजकुमारियों को विदा करते हैँ और अयोध्या मेँ चारों राजकुमारियों का स्वागत होता हैँ और आरती के साथ समापन होता हैं
रामलीला मन्चन देखने लिए आज ग्राउंड में लगभगव 10000 से ज्यादा संख्या में दर्शक उपस्थित रहे ।
दर्शको ने मेले में भी पूरा मनोरंजन किया ।
मेले में मनोरंजन के पूरे साधन लगाये गये है व खाने पीने की तरह तरह की दुकाने भी मेले में लगाई गयी है ।
रामलीला मन्चन में 55 फिट का धनुष 50 फिट की हाईट पर आज तीसरे वर्ष भी खंडित किया गया ।

इस मौके पर अध्यक्ष सरदार मंजीत सिंह , महासचिव बिजेंद्र सिंह आर्य, मनोज गर्ग, सौरभ बंसल, विनोद कसाना, धर्मपाल भाटी , ओम प्रकाश अग्रवाल , के के शर्मा,कुलदीप शर्मा, मुकुल गोयल, अमित गोयल, हरेन्द्र भाटी, जतन भाटी, श्यामवीर भाटी, मनोज यादव , कपिल गुप्ता , अनिल चौधरी ,विकास आर्य,प्रमोद मास्टर जी, अतुल जिंदल , रिंकू आर्य ,निवाश तंवर सहित अन्य लोग मौजूद रहे।आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply