मशीन लर्निंग तकनीक के व्यावहारिक उपयोग पर कार्यशाला का आयोजन

आज के युग में डाटा को लेकर गंभीर समस्याओं का समाधान खोजने के लिए नॉएडा इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी संस्थान के एम.सी.ए. विभाग द्वारा दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला का उद्देश्य नई कंप्यूटर भाषा पाइथन का प्रयोग कर मशीन लर्निंग के क्षेत्र में महारत हासिल करना है|

कार्यशाला का उद्घाटन संस्थान के कार्यकारी उपाध्यक्ष श्री रमन बत्रा, निदेशक डॉ. अजय कुमार, निदेशक एम्. सी. ए. डॉ. सरोज सिंह, निदेशक प्रोजेक्ट एंड प्लानिंग, डॉ. प्रवीण पचौरी, विषय विशेषज्ञ डॉ. श्वेता एवं डॉ. वसुधा, प्रो. रितेश रस्तोगी एवं प्रो. विनीत वर्मा ने दीप प्रज्वलित कर किया|

कार्यशाला में आये सौ से अधिक प्रतिभागियों को व्यावहारिक ज्ञान और अनुभव प्रदान करने के लिए जी. डी. गोयनका विवि से प्रो. श्वेता मोंग्या एवं मानव रचना अंतरराष्ट्रीय संस्थान से प्रो. वसुधा अरोरा को बुलाया गया| उन्होंने तकनीकी बरीकिओं से सभी प्रतिभागियों को अवगत कराया| प्रतिभागियों ने कार्यशाला के दौरान स्वयं कोडिंग कर मशीन लर्निंग की जटिलताओं को सुलझाने का तरीका सीखा| प्रो. वसुधा ने तकनीकी पर व्यवहारिक ज्ञान से सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया| प्रो. श्वेता ने प्रतिभागियों को वर्तमान में मशीन लर्निंग के क्षेत्र में हो रहे नए प्रयोगों के विषय में अवगत कराया और जीवन के विभिन्न आयामों में यह तकनीक कैसे प्रभाव डालेगी और कौन से प्रभाव जीवन को कठिनाइओं में डाल सकते हैं, उनका समाधान खोजने के लिए प्रतिभागियों को प्रेरित किया|

Leave a Reply