आईआईएमटी कॉलेज में सर्जिकल स्ट्राइक डे का हुआ आयोजन

जज्बा, जोश और जुनून ही एक व्यक्ति को देश का सच्चा सिपाही बनाते है। भारतीय आर्मी को ऐसे जवानों की हमेशा तलाश होती है। आर्मी में जाकर न सिर्फ देश की सेवा होती है बल्कि ये जीवन को सही तरीके से जीने का पाठ भी सिखाती है। जब जवान सीमा पर लड़ते है तो वहां कोई रनर अप नहीं होता, या तो आप विजय प्राप्त करते हैं या शहादत।

ये बातें रिटायर्ड मेजर जनरल जी. एस. तलवार ने कही। वो नॉलेज पार्क 3 स्थित आईआईएमटी ग्रुप ऑफ कॉलेज में छात्रों को सर्जिकल स्ट्राइक डे पर सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने छात्र-छात्राओं को प्रेरित करते हुए कहा कि सकारात्मक सोच से व्यक्ति जीवन में हर लक्ष्य प्राप्त कर सकता है।

आईआईएमटी ग्रुप ऑफ कॉलेज में सर्जिकल स्ट्राइक डे पर एक व्याख्यान का आयोजन किया गया। इस व्याख्यान में रिटायर्ड मेजर जनरल जी. एस. तलवार मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित थे। आईआईएमटी कॉलेज के निदेशक रिटार्यड ब्रिगेडियर ए के मिश्रा ने भी छात्रों को सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक डे का आयोजन इस बात का संकेत है कि भारतीय सेना ने लोगों के दिलों में अपनी जगह बनायी है।

आईआईएमटी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के निदेशक डॉ के के सैनी ने अतिथियों का स्वागत किया। अतिथियों को कॉलेज का मोमेंटो और तुलसी का पौधा प्रदान किया गया। आईआईएमटी कालेज ऑफ मैनेजमेंट के निदेशक डॉ राहुल गोयल ने कहा कि छात्रों को अपने दिल में देशभक्ति का जज्बा जगाने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि अपने लक्ष्य के प्रति शत प्रतिशत समर्पण ही व्यक्ति को दूसरों से अलग बनाता है। कार्यक्रम के अंत में उन्होंने सबका आभार व्यउक्तक किया और धन्य वाद दिया।

Leave a Reply