आईआईएमटी कॉलेज के छात्रों ने निकाली ‘‘जल बचाओ और कल बनाओ’’ जारूकता रैली

ग्रेटर नोएडा : नॉलेज पार्क 3 स्थित आईआईएमटी कॉलेज ऑफ लॉ द्वारा विश्व परिदृश्य की ज्वलंत समस्या ‘‘जल बचाओ और कल बनाओ’’ नामक विषय पर गांव सलेमपुर गुर्जर ग्रेटर नोएडा में एक जारूकता रैली अभियान तथा व्याख्यान का आयोजन किया गया, जिसमें गांव सलेमपुर गुर्जर तथा आस पास के अन्य गांव के संभ्रांत नागरिक भी उपस्थित रहे।
 कॉलेज के लगभग 200 छात्रों तथा अध्यापकों ने ग्रामीणों को ‘जल बचाओ’ अभियान के लिए प्रेरित किया। महाविद्यालय की उपनिदेशिका डा. मोनिका रस्तोगी ने कहा कि जल संकट तो हमारी भूलों और लापरवाहियों से ही उपजा है। हम अनावश्यक रूप से तथा अधिक मात्रा में जल का दोहन कर रहे हैं। दैनिक उपयोग में आवश्यकता से अधिक मात्रा में जल का अपव्यय करने की आदत ने जल संकट बढ़ा दिया है। बढ़ती जनसंख्या के कारण भी जल का उपभोग बढ़ता जा रहा है।
कार्यक्रम की शुरूआत महाविद्यालय के चीफ प्राक्टर डा धीरेंद्र सिंह द्वारा उपस्थित जन-समूह को ‘जल संरक्षण’ की उपयोगिता से अवगत कराकर की गयी। एलएल.बी. के विभागाध्यक्ष प्रशांत मावी ने पेय-जल की उपयोगिता दर्शाते हुए समाज के प्रत्येक सजग व्यक्ति को समाज का मार्गदर्शक बनने का आह्वान किया। डा. मुनीश कुमार शर्मा ने मानवीय जीवन में जल की उपयोगिता एवं जल-संग्रह की विभिन्न संभावित विधियों की जानकारी दी।
 छात्रों में संजीव आर्या, रजनीश कुमार, तथा शुभ श्री पांडेय आदि ने भी अपने विचार व्यक्त कर पेय जल की निरंतर हो रही कमी पर चिंता व्यक्त की। इस अवसर पर ओमवीर प्रधान ,  मेंबर शर्मा, ब्रह्म सिंह , जय पाल सिंह , जयवीर सिंह , धरमवीर सिंह भाटी एवं सतीश सेठ आदि गणमान्य ग्रामीण जन, महिलायें , प्रोफेसर आशु गुप्ता, प्रोफेसर शैलेष त्रिपाठी, प्रोफेसर पंखुड़ी व प्रोफेसर कौशिकी आदि उपस्थित रही। कार्यक्रम के अन्त में महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने वृक्षारोपण कर एवं गांव गांव घूमकर जन-जागरण रैली द्वारा जल संरक्षण के प्रति जागरूक किया।
आईआईएमटी कॉलेज ऑफ लॉ के निदेशक डा पंकज द्विवेदी ने इस जन जागरूकता कार्यक्रम के लिए कॉलेज के शिक्षकों और विद्यार्थियों को बधाई दी।

Leave a Reply