ग्रेटर नोएडा : लोकसभा चुनाव से पहले जिले के नेताओ का झुकाओ बसपा की तरफ बढ़ा ,

ग्रेटर नोएडा : देश के आम चुनाव के लिए बिगुल बच चुका है । एक तरफ बीजेपी सशित सरकार है तो वही दूसरी तरफ विपक्ष भी गठबंधन का जुगाड़ लगाकर केंद्र में सरकार बनाने का जुगत लगा रहा है। और विपक्ष को मजबूत करने के लिए गौतमबुद्ध नगर सहित प्रदेश में सबसे ज्यादा टिकट के दावेदारों की लाइन बहुजन समाज पार्टी के दरबार मे लग रही है । खासतौर से सुप्रीमो मायावती के ग्रह जनपद गौतमबुद्ध नगर में इसका ज्यादा असर दिख रहा है । पार्टी ने गठबधन का वादा कर चुकी है। इसी बात से अंदेशा लगाया जा रहा है ये सीट उसी के खाते में जाएगी । और सांसद का सपना देखने वाले यही सोचकर बैठें है अगर बहनजी का आशीर्वाद मिल जाए तो जीत पक्की है । इसी बात से उतसाहित सपा व कॉंग्रेस, या बीजेपी के रूठे हुए नेता भी यही चाहते है कि उन्हें ये मौका मिले । वैसे बसपा अपना उम्मीदवार पहले ही धोषित कर चुकी है लेकिन जानकारों का ये कहना है कि समय आने पर टिकट कट भी सकता है। अगर प्रदेश में चुनाव के दौरान सपा, काँग्रेस लोकदल, व बसपा के साथ आपस मे गठबंधन होता है और जनपद से संयुक्त उम्मीदवार होता है । तो जनपद में भाजपा के सासंद डॉ महेश शर्मा को मुश्किल आ सकती है। रूठे हुए नेता यही मानकर चल रहे है अगर बसपा का साथ मिल जाए तो किस्मत चमक सकती है। क्योंकि जनपद में जीत कुछ अलग ही मायने रखती है।

Leave a Reply