पीसी गुप्ता मामले में सीबीआई जांच की संस् तुति, आने वाले समय में हो सकते हैं बड़े खुलासे

यमुना प्राधिकरण में हुए 126 करोड़ के घोटाले की जाँच अब सीबीआई को सौप दी गयी है। आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले में सीबीआई जाँच की मंजूरी दे दी। कुछ दिनों पहले ही इस घोटाले के मुख्य आरोपी और यमुना प्राधिकरण के पूर्व सीईओ पिसी गुप्ता को मध्य प्रदेश के दतिया से गिरफ़्तार किया गया था।

गिरफ़्तारी के बाद से ही ये कयास लगाए जा रहे थे की पूछताछ के बाद कई और नाम सामने आ सकते है। हुआ भी ऐसा ही पर उन नामों में से किसी की गिरफ़्तारी नहीं हो पायी। कयास लगाए जा रहे थे कि शुरुआती तेजी के बाद पिसी गुप्ता मामले में चुप्पी के पीछे कई रसूखदारों की लगातार की जा रही सिफारिशें हो सकती है।

हालांकि जाँच को प्रभावित होता देख सरकार ने अब सीबीआई जाँच का फैसला लिया है। अब देखने वाली बात ये होगी की जांच किस दिशा में आगे बढ़ती है और कौन – कौन से नए नाम सामने आते है।

अगर अब तक की पूछताछ की बात करी जाए तो यूं तो पुलिस पिसी गुप्ता के बताएं नामों का खुलासा करने से बच रही है पर विश्वशनीय सूत्रों ने इस कड़ी में कई चौंकाने वाले नामों के होने की बात कही है। माना जा रहा है की सीबीआई जांच होने पर कई सफेदपोशों के चेहरे से नकाब उतर सकता है।

Leave a Reply