मौत को दावत देता पी 3 के पास नाले पर बना पुल

*मौत को दावत देता पी 3 के पास नाले पर बना पुल*

सरकारी तंत्र तब जागता है जब कोई हादसा हो जाता है । इसका ताज़ा उदाहरण है फेज 2 में यूनीपोल से दब कर महिला की मौत । मौत के बाद सरकारी तंत्र ने रातों रात जिले के सारे अवैध पोल हटवा दिए ।

ऐसा ही कोई हादसा, पी 3 के पास नाले पर बने पुल पर, जब किसी को अपना ग्रास बनाएगा तब आंखें खुलेंगी सरकारी तंत्र की । तब कुछ जूनियर अधिकारी दिखावे के लिए ससपेंड होंगे और फिर कुछ दिन के बाद कोई दूसरा हादसा ।

इस पुराने, लो हाइट और नैरो पुल में कोई अच्छाई नहीं है । बस खामियां ही खामियां हैं ।

संभवतः ये पुल ग्रेटर नोएडा की स्थापना के समय बना होगा । उस समय इस सड़क पर इतना यातायात नहीं होगा । अब ये सड़क दिल्ली और नोएडा से जोड़ने वाली व्यस्ततम सड़कों में से एक है । ग्रेटर नोएडा के पूर्वोत्तर के सभी सेक्टर, इसी पुल के माध्यम से, एक्सप्रेस वे होते हुए, सीधे दिल्ली, नोएडा और आगरा से जुड़े हुए हैं । इस पुल की कुछ खामियां –

√ ये पुल बहुत ही सकरा है ।
√ इस पुल पर पैदल यात्रियों के लिए कोई भी पथ नहीं है ।
√ पुल से ही सटी, हुई ऐन आर आई को जाती, एक सर्विस लेन है जो सदैव ही उल्टी दिशा में चलने वाले दुःसाहसी लोगों को आकर्षित करती है ।
√ पुल की रेलिंग बहुत ही कमज़ोर व नीची है ।
√ इस पुल पर गाड़ी धीमी चलाने, उल्टी दिशा में न चलने, पैदल/सायकल यात्रियों को वरीयता व सम्मान देने जैसी कोई भी सलाह-पट्टियां नहीं लगी हुई हैं ।

गौतम बुद्ध नगर के अधिकारियो, निवेदन है कि मेरे द्वारा लिखे उपरोक्त विन्दुओं पर विचार करें और इस पुल का नव-निर्माण करा कर कोई बड़ा हादसा होने से पहले ही रोक लें । पहले भी इस स्थान पर कई हादसे हो चुके हैं । लोगों की जान अब आपके ही हाथ में है ।

निवेदक
हरेन्द्र भाटी
एक्टिव सिटीजन टीम

Leave a Reply