जी एल बजाज, ग्रेटर नोएडा में पाॅवर, एनर्जी, इनवायरमेंट पर हुआ अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन

 

पाॅवर, एनर्जी, इनवायरमेंट और इंटलीजेंट कंट्रोल पीईईआईसी-2018 पर आईईईई अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन 13-14 अप्रेल, 2018 को जी एल बजाज परिसर, ग्रेटर नोएडा में ससम्पन्न हुआ। डाॅ. ए. पी. मित्तल सदस्य सचिव – एआईसीटीई, नई दिल्ली, डाॅ. एस. एन. सिंह वाईस चांसलर-एम.एम.एम.यूटी, गोरखपुर, श्री पंकज अग्रवाल उपाध्यक्ष-जी.एल बजाज, डाॅ. राजीव अग्रवाल निदेशक: जीएलबीआईटीएम, डाॅ. एन. के. शर्मा डीन एवं हेड, डाॅ. पी. के. साधु आईआईटी-धनबाद, डाॅ. नीरज शर्मा सलाहकार-जीएसटी, नईदिल्ली तथा डाॅ. आशीष श्रीवास्तव उपाध्यक्ष-आईईईई यूपी सेक्शन का स्वागत करते हुए दूसरे दिन का सम्मेलन शुरु किया गया।

पांच सौ से अधिक शोध-पत्र इस सम्मेलन में प्राप्त हुए जिनमें से गहन निरक्षण के बाद 169 शोध-पत्र सम्मेलन में प्रस्तुत किये गये। सभी चयनित शोधपत्र आईईईई एक्प्लोर में प्रकाशित किये जायेंगे। सम्मेलन में अपने उद्बोधन के दौरान एआईसीटीइ – सदस्य सचिव, डाॅ. ए. पी. मित्तल ने कहा कि ‘‘सक्षम प्रौद्योगिकियों ने न केवल उन्नत सुविधाओं और संशोधित समय सीमाएं लाकर तकनीकी संसाधनों में सुधार किया है बल्कि हमारे संसाधनों, ऊर्जा और बचत में एक प्रगतिशील भूमिका निभाई है। उन्होंगे आगे बताया कि इस तरह के सम्मेलन छात्रों की बौद्धिक क्षमता एवं विचारशक्ति को बढ़ावा देते हैं तथा मैं जी.एल.बजाज संस्थान को इस सम्मेलन को आयोजित करने के लिए बधाई देता हूँ।’’

श्री पंकज अग्रवाल ने अपने संबोधन में कहा कि यह अब एक उच्च समय है कि इस दुनिया को बेहतर जगह बनाने के लिए पेशेवरों के बीच अनुसंधान गतिविधियों को बढ़ावा दिया जाए। नतीजतन जो लोग शिक्षण और शोध से जुड़े हैं, उन्हें इस तरह के अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन के माध्यम से अपनी विशेषज्ञता को निखारते रहना चाहिए।

डाॅ. राजीव अग्रवाल ने अतिथियों का स्वागत किया और कहा कि पाॅवर, पर्यावरण एवं ईन्टीलीजेन्ट कंट्रोल की दुनिया काम करने के लिए एक रोमांचक क्षेत्र है और हम इस तरह के आयोजन भविष्य में भी करते रहेंगे। डाॅ. एन. के. शर्मा ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रेषित किया। कार्यक्रम का समापन रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम के बाद हुआ।

Leave a Reply