Daily Archive: March 7, 2019

आईटीएस इंजीनियरिंग काॅलेज, ग्रेटर नॉएडा में एसएमसी मैक्ट्रोनिक्स कप का हुआ आयोजन

आईटीएस इंजीनियरिंग काॅलेज में आज एसएमसी निगम प्राइवेट लिमिटेड द्वारा आयोजित ‘‘एसएमसी मैक्ट्रोनिक्स कप‘‘ का आयोजन किया गया जिसमें दिल्ली व एनसीआर के विभिन्न काॅलेजों से 45 टीमों ने भाग लिया, जिसमें पांच टीमों को कैपस स्तर पर अन्तिम दौर के लिए चुना गया।

श्री वेंकटेश बाला सुब्रमण्यम, प्रबंधक प्रशिक्षण, एसएमसी काॅरपोरेशन प्राइवेट लिमिटेड ने छात्रों को बताया कि मैक्ट्रोनिक्स इंजीनियरिंग की एक शाखा है जो उन उत्पादों को डिजाइन करने, निर्माण करने और बनाये रखने पर केन्द्रित है जिनमें यांत्रिक और इलेक्ट्रानिक्स दोनो घटक होते हैं। मैक्ट्रोनिक्स की अवधारणा को समझने के लिए कोई आज के आटोमोबाइल के बारे में सोच सकता है।

काॅलेज के अधिशासी निदेशक डाॅ विकास सिंह ने संबोधन करते हुए कहा कि रोजगार के लिए मैक्ट्रोनिक्स एक उभरता हुआ विकास का क्षेत्र है। आटोमोटिक्स के अतिरिक्त, मैक्ट्रोनिक्स पर भरोसा करने वाले उद्योगों में एयरोस्पेस, उपकरण डिजाइन और मरम्मत, बैंंिकंग, उर्जा और बिजली उत्पादन और वितरण, खेती, विनिर्माण, खनन और स्वास्थ्य सेवा शामिल है।
कार्यक्रम के संयोजक चेतन दीक्षित ने बताया कि अन्तिम दौर की पांच टीमों में से आईटीएस इंजीनियरिंग काॅलेज की इन्नोवेटिव इंजीनियरिंग टीम विजेता बनी।

विजेता टीम के छात्र मोहित और मुकेश को दस हजार का नकद पुरस्कार दिया गया और चयनित टीम को एस0एस0सी0 मैक्ट्रोनिक्स कप के राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता के लिए भेजा जायेगा।

 

डीपीएस ग्रेटर नॉएडा में ‘ईमान का इनाम’ वार्षिकोत्सव का हुआ आयोजन

 

सांस्कृतिक कार्यक्रम देश के भावी कर्णधारों के अंदर नैतिक संस्कारों को भरकर उन्हें देश का आदर्श नागरिक बनाने में सहायक होते हैं। नन्हे-मुन्नों की प्रस्तुतियाँ किसी प्रोफ़ेशनल आर्टिस्ट से ज़रा भी कम नहीं हैं। इन नन्हे- मुन्नों के अंदर छिपी प्रतिभा को निखारने में शिक्षक-शिक्षिकाओं एवं अभिभावकों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। ये उद्गार दिल्ली पब्लिक स्कूल में आयोजित ‘ईमान का इनाम’ कार्यक्रम में डी पी एस सोसाइटी के चेयरमैन श्री वी. के. शुंगलु जी ने प्रकट किए। वे बच्चों द्वारा प्रस्तुत श्लोक एवं वैदिक मंत्रों के गायन से भी अभिभूत दिखाई दिए। कार्यक्रम में कक्षा दो और तीन के लगभग पाँच सौ बच्चों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया। बच्चों की नृत्य, संगीत और गायन की प्रस्तुतियों से उपस्थित दर्शक मंत्रमुग्ध हो गए।

ध्यातव्य है कि श्री वी.के. शुंगलु जी को इसी वर्ष भारत सरकार ने ‘पद्म भूषण’ से सम्मानित किया है। कार्यक्रम में बच्चों ने श्री शुंगलु के व्यक्तित्व पर आधारित प्रस्तुति दी। विद्यालय की ओर से श्री शुंगलू को सम्मानित भी किया गया। कार्यक्रम में श्रीमती मधु शुंगलु जी की उपस्थिति ने भी बच्चों की हौसलाअफ़ज़ाई की।

इस अवसर पर शिक्षाविद् एवं विद्यालय के चेयरमैन प्रोफ़ेसर बी. पी. खंडेलवाल ने उपस्थित अभिभावकों को बच्चों के चरित्र निर्माण की एक महत्वपूर्ण कड़ी बताया।

कार्यक्रम में विद्यालय प्रधानाचार्या श्रीमती रेणु चतुर्वेदी ने कहा कि बच्चों के अंदर नैतिक संस्कार जगाने के लिए ये सांस्कृतिक कार्यक्रम उपयोगी होते हैं और इसके माध्यम से बच्चे खेल-खेल में इन संस्कारों को आत्मसात कर लेते हैं। उन्होंने श्री शुंगलु जी की उपस्थिति को बच्चों एवं विद्यालय परिवार के लिए सौभाग्य की बात बताया।

इस अवसर पर अतिथियों का स्वागत मुख्याध्यापिका श्रीमती मंजू वर्मा ने किया तथा धन्यवाद- ज्ञापन कॉर्डिनेटर श्रीमती शिल्पा गुप्ता एवं श्रीमती नायरा रिज़वी द्वारा प्रस्तुत किया गया।

नेफोवा सदस्यों ने पीवीवीएनएल अधिकारियों के साथ की बैठक

नेफोवा सदस्यों ने पीवीवीएनएल अधिकारियों के साथ की बैठक
मल्टीपोइंट कनेक्शन के लिए नेफोवा द्वारा चलाये जा रहे मुहीम के चलते आज नेफोवा सदस्यों ने पीवीवीएनएल अधिकारियों से मीटिंग की। नेफोवा सदस्य विकास कुमार द्वारा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ , ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा एवं उत्तर प्रदेश विद्युत् नियामक आयोग सचिव को मेल द्वारा मीटिंग का अनुरोध किया गया । जिससे मल्टी पॉइंट में आ रही परेशानियों को दूर किया जा सके।
मीटिंग अनुरोध को स्वीकार करते हुए पीवीवीएनएल  के अधिकारियो के साथ आज नेफोवा की मीटिंग संपन्न हुई , जिसमे कुछ महत्त्वपूर्ण सुझाव दिए गए । नेफोवा द्वारा दिए गए सुझावों पर विस्तृत चर्चा के बाद  पीवीवीएनएल के चीफ इंजीनियर वी एन सिंह ने नेफोवा के प्रस्तावों को स्वीकार किया और अनुमति के लिए अब उन सभी प्रस्तावों को उत्तर प्रदेश विद्युत् नियामक आयोग को भेजा जायेगा ।
स्वीकार किए सुझाव निम्न लिखित है ।
कन्वर्शन में आने वाले खर्च के आकलन के लिए एक स्वतंत्र एजेंसी नियुक्त की जाये न की बिल्डर द्वारा बताया गया खर्च माना जाये ।
बिल्डर द्वारा जो भी सिक्योरिटी राशि डिस्कोम के पास जमा की गयी है उस राशि का उपयोग भी मल्टी पॉइंट कन्वर्शन में किया जाये ।
उन्होंने बताया कि सभी बिल्डर का कनेक्शन लेने की तिथि से अब तक हर  6 माह  का ऑडिट किया जाये और यदि बिल्डर द्वारा  उपभोक्ताओं से वसूली गयी रकम और बिजली कंपनी को जमा की गयी रकम में यदि 5% से अधिक का अंतर आता है तो उस रकम को वसूल कर मल्टी पॉइंट कन्वर्शन में लगाया जाये ।
डिस्कोम द्वारा जो मीटर लगाया जाये उसकी कीमत ईएमआई द्वारा लिए जाने का विकल्प दिया जाये ।
मल्टी पॉइंट कन्वर्शन के लिए एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया जाये जिसमे बायर्स प्रतिनिधियो को भी शामिल किया जाये।
विकास कुमार ने मीटिंग में कहा कि मल्टी पॉइंट कनेक्शन में सबसे बड़ी दिक्कत इसके कन्वर्शन में आने वाला खर्च है । यदि डिस्कोम एवं  UPERC द्वारा बिल्डर द्वारा अभी तक ली गयी अतिरिक्त राशि की वसूली कर ली जाये तो उस राशि से ही आने वाले खर्च की अधिकांश भरपाई हो जायेगी । यदि  UPERC इस रकम को वसूलने के लिए ठोस कदम उठता है तो मल्टी पॉइंट कनेक्शन आसानी से सभी को मिल पायेगा ।
नेफोवा की तरफ से मीटिंग में विकास कुमार , दीपंकर कुमार एवम नेफोवा अध्यक्ष अभिषेक कुमार ने भाग लिया ।
डिस्कोम प्रतिनिधि के तौर पर मीटिंग में  पीवीवीएनएल  चीफ इंजीनियर वी एन सिंह एवं राकेश पांडेय ने भाग लिया

सेक्टर के पार्कों में चलाया ‘स्वच्छ भारत अभियान’

सेक्टर के पार्कों में चलाया 'स्वच्छ भारत अभियान'
आज सेक्टर बीटा वन मे एक्टिव सिटीजन टीम के पदाधिकारियों और सेक्टर वासियों ने संयुक्त रूप से सेक्टर के पार्कों की बदहाल स्थिति को देखते हुए सफाई अभियान चलाया। इस अभियान के तहत आज बीटा सेक्टर स्थित जापनीस पार्क मे सफाई कार्य किया गया।
एक्टिव सिटीजन टीम के सदस्य हरेंद्र भाटी ने बताया कि आज सेक्टर वासियों ने जापनीस व अन्य सेक्टर के सभी पार्को में सफाई अभियान चलाया। इसी प्रकार का सफाई अभियान आने वाले दिनों में सेक्टर के अन्य भागों में भी चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि समस्त सेक्टर वासियों से अपील है कि इस अभियान में ज्यादा से ज्यादा भागीदारी सुनिश्चित करें, और अपने सेक्टर के पार्कों को सुंदर बनाने मे योगदान दे।
उन्होंने कहा कि ग्रेटर नोएडा देश के सबसे हरित शहरों में से एक है इस की हरियाली को  बरकरार रखना हम सबकी संयुक्त जिम्मेदारी है। इन पार्कों का प्रयोग आपके और हमारे द्वारा तथा हमारे बच्चों द्वारा ही किया जाता है।
आज इस सफ़ाई अभियान मे एक्टिव सिटीजन टीम व शहर वासियों ने भी सहयोग किया।
इस मौक़े पर।हरेन्द्र भाटी, किशन, सुनील, आयुष, गुड्डू, आशिश पासवान, आदि लोग मौजूद रहे।

नाबालिग छात्रा को अगवा करने वाले 2 गिरफ्ता र , जेवर थाने का मामला

नाबालिग छात्रा को अगवा करने का मामला, पुलिस ने छात्रा को सकुशल बरामद किया, बहला-फुसला कर ले गया था छात्र को युवक, जेवर थाना पुलिस ने 2 को गिरफ्तार किया।

दहेज़ की मांग पूरी न होने के कारण पत्नी की गला दबाकर की हत्या

दहेज़ की मांग पूरी न होने के कारण पत्नी की गला दबाकर की हत्या

ग्रेटर नोएडा :- पति ने की पत्नी की हत्या, दहेज़ की मांग पूरी न होने के चलते महिला की गला दबाकर हत्या. एक साल पहले हुई थी शादी, पुलिस ने शव क़ब्ज़े में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा, जांच में जुटी पुलिस, थाना कासना क्षेत्र के अंसल गोल्फ़ लिंक सोसाइटी की घटना।