Daily Archive: November 10, 2018

बन्द अपार्टमेंट फ्लैट में लगी आग, नाकाम दिखा सोसाइटी का अग्निशमन यंत्र

ग्रेटर नोएडा की सुपरटेक सोसाइटी में बंद पड़े फ्लैट में लगी आग
 
ग्रेटर नोएडा के दादरी थाना क्षेत्र के अंतर्गत सेक्टर ओमीक्रोन-1 स्थित सुपरटेक सिज़ार सोसाइटी के बंद फ्लैट में अचानक आग लगने से हड़कंप मच गया। सोसाइटी में बिल्डर द्वारा लगाए गए अग्निशमन यन्त्र की सच्चाई भी इस दौरान देखने को मिली जब सोसाइटी में रहने वाले लोगों ने आग लगते देख अग्निशमन यन्त्र से आग बुझाने की कोशिश की लेकिन उसमे से पानी की जगह हवा निकलने लगी। 
 
दरअसल सुपरटेक सिज़ार सोसाइटी के फ्लैट नंबर 701 में एक परिवार रहता है जो कि फ्लैट में ताला लगाकर खरीदारी करने बाजार चले गए। उनके जाते ही फ्लैट में आग लग गयी।  बताया जा रहा है शॉर्ट सर्किट के कारण बंद फ्लैट में आग लगी है। हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है। 
 
पड़ोसियों ने जब फ्लैट में आग लगते देखी तो उन्होंने फ्लैट में रहने वाले व्यक्ति को कॉल करे इसकी सूचना उनको दी। आनन-फानन में फ्लैट मालिक मौके पर पहुंचे, तब तक पड़ोसियों ने दरवाजा तोड़ दिया था और आग पर काबू पाने में जुटे हुए थे। लोगों ने सोसाइटी में लगे अग्निशमन यन्त्र से आग बुझाने की कोशिश की लेकिन पानी की पाइपलाइन से पानी नहीं निकला जिसके बाद मौके पर मौजूद सभी लोगों ने बाल्टी से पानी भरकर आग पर काबू पाया लेकिन तब तक अंदर रखा काफी सामान जलकर राख हो चुका था। 
 
आग बुझाने के दौरान फ्लैट मालिक के हाथ भी आग से झुलस गए। लोगों का कहना है कि अगर वो लोग बिल्डर की सुविधाओं के भरोसे रहते तो आग फ़ैल सकती थी जिससे आसपास के फ्लैटों में भी आग लग सकती थी। 
 
सोसाइटी में रहने वाले लोगों ने सुपरटेक बिल्डर के खिलाफ दादरी थाने में तहरीर दी है। 

पटाखों की अवैध रूप से बिक्री करने वाले लोगों पर की जाएगी कार्रवाई

पटाखों की अवैध रूप से बिक्री करने वाले लोगों पर की जाएगी कार्रवाई
सुप्रीम कोर्ट एवं केंद्रीय प्रदूषण बोर्ड दिल्ली के निर्देशों के तहत जनपद में पटाखों की बिक्री एवं चलाने को लेकर जिला प्रशासन सक्रियता के साथ दोषियों के खिलाफ कार्रवाई कर रहा है।
इसी को लेकर अब जिला प्रशासन की ओर से दीपावली के अवसर पर जिन लाइसेंस धारकों के द्वारा पटाखों की बिक्री में न्यायालय के आदेशों का उल्लंघन किया गया है, उनके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने की तैयारी जिला प्रशासन की ओर से की जा रही है। जिला अधिकारी ने इस संबंध में नगर मजिस्ट्रेट एवं उप जिलाधिकारियों को पत्र लिखकर कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं।
वहीं दूसरी ओर जिलाधिकारी ने समस्त जनपद वासियों का आह्वान करते हुए कहा है कि इस समय पूरे जनपद में पटाखों की बिक्री करने के लिए कोई भी लाइसेंस धारक अधिकृत नहीं है। यदि कोई व्यक्ति पटाखे बेचता हुआ पाया जाएगा या कोई खरीदते हुए पाया जाएगा तो माननीय न्यायालय के आदेशों के अनुक्रम उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी जाएगी।

दिवाली पर सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का उल्लंघन करने को लेकर प्रशासन सख्त, नोएडा में 38 और लोगों के खिलाफ की कार्रवाई

दिवाली पर सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का उल्लंघन करने को लेकर प्रशासन सख्त, नोएडा में 38 और लोगों के खिलाफ की कार्रवाई
दिवाली पर आतिशबाजी को लेकर न्यायालय के आदेशों का पालन सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से अधिकारियों द्वारा अपने अपने स्तर पर कार्रवाई सुनिश्चित की जा रही है। नोएडा क्षेत्र में आतिशबाजी करने के संबंध में सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की अवहेलना करने, प्रदूषण फैलाने एवं शांति भंग करने के संबंध में जिला प्रशासन की ओर से निरंतर रूप से कार्रवाई की जा रही है।
इसी को लेकर नगर मजिस्ट्रेट नोएडा शैलेंद्र कुमार मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि आतिशबाजी करने में माननीय न्यायालय की अवहेलना करने को लेकर 38 और लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई है।
उन्होंने बताया कि थाना-20 के अंतर्गत 20 लोगों के खिलाफ, थाना फेस 3 में 6, थाना 39 में 7 एवं थाना 24 में पांच व्यक्तियों के विरुद्ध न्यायालय के आदेशों का उल्लंघन करने पर कार्रवाई की गई है। सभी के द्वारा माननीय न्यायालय के आदेशों की अवहेलना करते हुए आतिशबाजी की जा रही थी और शांति भंग करने तथा प्रदूषण फैलाने में संबंधित व्यक्तियों के खिलाफ प्रशासन एवं पुलिस विभाग के अधिकारियों द्वारा कार्रवाई की गई है।
नगर मजिस्ट्रेट ने समस्त जनपद वासियों का आह्वान किया है कि माननीय न्यायालय के आदेशों के अनुक्रम में आतिशबाजी करने का समय समाप्त हो चुका है और इस संदर्भ में बार बार जनता को जागरूक किया जा रहा है। अतः कोई भी व्यक्ति अब पटाखे न छोड़ें, यदि कहीं पर माननीय न्यायालय के आदेशों की अवहेलना होते हुए पाई जाएगी तो पटाखे छोड़ने वालों के विरूद्ध इसी प्रकार कार्रवाई प्रस्तावित की जाएगी।
वहीं नगर मजिस्ट्रेट ग्रेटर नोएडा गुंजा सिंह ने भी जानकारी दी है कि ग्रेटर नोएडा क्षेत्र के थाना सूरजपुर के द्वारा 5 लोगों के खिलाफ तथा थाना कासना में 2 लोगों के खिलाफ नियमों का उल्लंघन करने पर पटाखे छोड़ने वालों के खिलाफ कार्रवाई की गई है।