Daily Archive: March 26, 2018

गलगोटिया विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ़ लॉ ने क िया समकालीन कानूनी मुद्दों पर गोष्ठी का आयोज न!

गलगोटिया विश्वविद्यालय के स्कूल आॅफ लाॅ के द्वारा समकालीन कानूनी मुद्दों पर एक दिवसीय अंतराष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी में मुख्य अतिथि के रूप में भारतीय लोक सभा सदस्य माननीया हीना गविट और गैस्ट आॅफ आॅनर सुमंत बत्रा शामिल हुए।

कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में भारत मे जामबिया की राजदूत मिस0 जूडिथ कंगोमा कपिजिमपंागा शामिल हुई। संगोष्ठी में देश भर से 55 स्कूल और विश्वविद्यालयों से 250 छात्रों और शिक्षाविद्दों ने भाग लिया। सेमीनार में कानूनी मुद्दो पर प्रकाश डाला। और मिस0 हिना गविट ने दर्शकों को ध्यान में रखते हुए समाजिक विकास में एक बडा योगदान राजनेताओं, समाज सेवकों,और सबसे अधिक योगदान भारत की कानूनी संस्थाओं का बताया।

इसी दोरान जामबियाई राजदूत ने भारत और जामबिया के राजनैतिक और व्यवाहरिक सम्बंधों के बारे में बताते हुए महात्मा गाॅधी के कथन का उद्याहरण देते हुए कहा कि जो भी भारतीयों से मिलता है। वो भारतीय संस्कृति और समाजिक स्थिति से भी परिचित होता है। इंसोल्ववेंसि के निदेशक सुमंत बत्रा ने यंग लीगल आॅफ प्रोफेसनल इन अटैंडैंसी पर चर्चा की। स्कूल आॅफ लाॅ की डीन डाॅ0 किरण गार्डनर ने कार्यक्रम की रूप रेखा के बारे में बताया।

संगोष्ठी का धन्यवाद ज्ञापन प्रो0 उत्कर्ष यादव ने किया। कार्यक्रम में समकालीन कानूनी मुद्दों पर लिखित विश्वविद्यालय की बुक का विमोचन किया गया। इस दोरान चांचलर सुनील गलगोटिया, सीईओ ध्रुव गलगोटिया, प्रो0 उत्कर्ष यादव, प्रो0 निजाम खाँ, आदि लोग मोजूद रहे।

BIMTECH’s CSR branch lays down foundation stone for Women-Children Exclusive Library at Gautam Buddh Nagar Jail

On 23rd March CSR branch of BIMTECH foundation and Rangnath society for social welfare and library development had laid down the foundation stone for the construction of library for women prisoners and children’s in the district jail of Gautam Budh Nagar.

During the inauguration ceremony mentor of BIMTECH foundation Shakti Doli wife of DIG Jail remained present at the event along with her children. She also shares similar concerns about the prisoners and also had a conversation with Dr. Harivansh Chaturvedi, Director of BIMTECH over the same topic fees days back.

Speaking at the event Dr Harivansh Chaturvedi detailed that in earlier phase these women and children’s library will be constructed only in those jails where library by BIMTECH foundation is all ready existing. Further detailing about the library he told that this library is one of its kind in the country which will be managed completely by women prisoners.

स्टाफ समीक्षा बैठक दौरान जिलाधिकारी ने तत ्परता से कार्य करने के दिए निर्देश

जिलाधिकारी ने समीक्षा करते हुये अधिकारियों को निर्देश दिये कि जिस भी विभाग में डेटा एन्ट्री आपरेटर की आवश्यकता है, तत्काल उनके द्वारा आॅपरेटर की नियुक्ति की जाये, ताकि जनता की समस्याओं के निस्तारण मे किसी भी प्रकार की कोई देरी न हो, और तत्काल उनकी समस्याओं का निस्तारण संभव हो सके। डीएम ने कलैक्ट्रेट परिसर के कर्मचारियांे व बाहर से आने वाली जनता की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुये, टाॅयलेट, पीने के पानी, उनके बैठने की व्यवस्था के सम्बन्ध में निर्देश देते हुये कहा कि तत्काल इन सभी समस्याओं का निस्तारण कराया जाये, ताकि कर्मचारियांे व जनता को किसी प्रकार की समस्या न हो।

उन्होंने समीक्षा करते हुये सम्बन्धित अधिकारियों को यह भी निर्देश दिये कि कलैक्ट्रेट कर्मचारियों को जल्द से जल्द सरकारी आवासों का आबंटन किया जाये, ताकि कर्मचारी को बाहर किराये पर रहने की जरूरत न पडे़। कलैक्ट्रेट परिसर व तहसील स्तर पर जो भी कमरों की आवश्यकता है, उनका निर्माण तत्काल कराया जाये। डीएम ने आईजीआरएस से सम्बन्धित अधिकारी से फीडबैक के सम्बन्ध में समीक्षा करते हुये पाया कि 90 प्रतिशत लोग आईजीआरएस पर किये गये निस्तारण से संतुष्ट नही है।

डीएम ने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देश दिये कि जनता के असुतंष्ट होने के कारणांे का पता लगाते हुये जाॅच करायी जाये और सम्बन्धित अधिकारी के विरूद्ध कार्यवाही सुनिश्चित की जाये। वही उन्होंने यह भी कहा कि सभी अधिकारियों के द्वारा जनता की शिकायतों के निस्तारण में गंभीरता बरती जाए और समस्त अधिकारियों को किसी भी माध्यम से जनता की शिकायत प्राप्त हो उसके निस्तारण में तत्परता से कार्रवाई करते हुए उसका निस्तारण कर संबंधित शिकायतकर्ता को भी अवगत कराया जाए । इस कार्य में किसी भी स्तर पर लापरवाही क्षम्य नहीं होगी।

एनकाउंटर में मारा गया एक लाख का इनामी श्रवण चौधरी

नोएडा एनकाउंटर स्पेशलिस्ट एसएसपी अजयपाल शर्मा के चार्ज संभालते ही जिले की पुलिस हरकत में आ गई है। सात दिनों में 6 मुठभेड़ हो चुकी हैं। इनमें 6 बदमाश दबोचे गए हैं, जबकि एक लाख का एक इनामी मारा गया है। रविवार सुबह एनकाउंटर में मारा गया श्रवण चौधरी भी 50 हजार से ज्यादा इनाम राशि वाले वॉन्टेड में शामिल था। दूसरी ओर सिग्मा सेक्टर में रविवार रात हुए एनकाउंटर में पुलिस की गोली से घायल दिनेश 25 हजार का इनामी था। इन दो बड़ी कामयाबियों के बाद अब पुलिस के निशाने पर जिले के 291 बदमाश हैं, जो अलग-अलग थानों में वॉन्टेड हैं। एसएसपी शर्मा ने बताया है कि सभी थानों को टारगेट दे दिया गया है।