Daily Archive: January 2, 2018

ग्रेटर नॉएडा में लगातार बढ़ रहा अतिक्रमण

ग्रेटर नॉएडा जिसे प्लान कर के बसाया गया और शहर को खुबशुरत बनाने में कोई कशर नहीं छोड़ी गई थी पर प्रशासन की अनदेखी के चलते जगह जगह रेहड़ी पटेहड़ी वालो का कब्ज़ा बढ़ता जा रहा है जिसके चलते शहर वासियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है |
शाम होते ही रेहड़ी पटेहड़ी वालो का बाजार गर्म हो जाता है और असामाजिक तत्वों व शराबियों का जमावड़ा लगने लगता है
शहर में बढ़ते अतिक्रमण को देख कर लगता है की अधिकारी दफ़्तरों से बाहर निकल कर देखना नहीं चाहते या उनके अधीन कर्मचारी अफ़सरों के नाम पर अवेध वसूली कर अतिक्रमण को बढ़ावा दे रहें हैं |
शहर के भीड़ भाड़ वाले इलाको को ही रेहड़ी पटेहड़ी वाले अपना कब्ज़ा जमाये हुए है ज्यादा तर अतिक्रमण का असर जगत फ़ार्म , परी चोक, तुगलपुर की ग्रीन बेल्ट असल प्लाज़ा से तेजा मार्केट तक, पी 3 मार्केट, वैनिश माल, के सामने , अल्फ़ा वन कमर्शियल बेल्ट, और ग्रेटर नोएडा के हर गोल चक्कर के साथ साथ प्रत्येक सेक्टर में हैं |
शहर की सामाजिक संगठन एक्टिव सिटीजन टीम व अन्य समाजी संगठनों द्वारा इनपर रोक लगाने के लिए शिकायत दर्ज करने पर प्रशासन की तरफ से कार्यवाही तो होती है पर स्टाफ़ के कर्मचारी पहलें ही रेहड़ी पटेहड़ी वालो की सूचित कर देते हैं और रेहड़ी पटेहड़ी वाले कार्यवाही होने से पहले ही अपनी डेली कुछ समय के लिए हटा लेते हैं |
कुछ जगहों पर ढाबे वालों ने बाँस बल्ली से होटल का रूप दे रखा हैं और पीसीआर व प्राधिकरण के कर्मचारी कुछ कहने या करने में भी अपने को अलग रखते हैं और प्राधिकरण की व्यावसायिक जगहों पर अतिक्रमण की औपचारिकता पुरी करते है जिससे प्राधिकरण की कमर्शियल व व्यापारियो को ही दिक़्क़त का सामना करना पढ़ता है अवेध ठेलियाँ व अवेध ठेलियों के ठेकेदार कुछ कर्मचारीयो के सहयोग से मलाई खाते है ये बेचारे प्राधिकरण के दुकानदार साल से साल परेशान रहते है। ऐसा ही हाल रहा तो ग्रेटर नॉएडा भी नॉएडा की तरह ही रेहड़ी पटेहड़ी वालो से घिरा और गंदगी से भरा मिलेगा |

शिक्षक के लिए हुआ श्रद्धांजलि सभा का आयोजन ।

ग्रेटर नोएडा के एक्सपोमार्ट गोलचक्कर पर विभिन्न कालेजो व विवि में पढ़ाने वाले शिक्षकों ने प्रोफ़ेसर डॉ जितेंद्र पाठक की आत्मा की शांति के लिए कैंडल मार्च निकल व दो मिनट का मौन रख मृतक की आत्मा की शांति के लिए प्राथना की साथ ही कालेजो की मनमानी का विरोध किया ।
शांति मार्च में एकेटीयू के पूर्व वीसी आरके खंडाल व दादरी विधायक तेजपाल नागर भी पहुंचे ।
जितेंद्र पाठक नॉलेज पार्क के एक कॉलेज में प्रोफेशर केपद पर नियुक्त थे पर कॉलेज प्रबंधन ने बिना नोटिस जारी किये उन्हें नौकरी सिनिकल दिया था बाद में जितेंद्र पाठक फरीदाबाद के एक कॉलेज में नौकरी करनी शुरू कर दी और बीमार होने के कारण कुछ दिनों तक वह नौकरी पर नहीं जा सके जिसके चलते उस कॉलेज प्रबंधन ने भी उन्हें नौकरी से निकल दिया जिससे जितेंद्र पाठक इतने हताश हुए की उन्होंने ट्रेन के सामने कूद कर आत्महत्या कर ली थी । इसी के चलते बड़ी संख्या पर कल शाम ग्रेटर नोएडा स्थित एक्सपोमार्ट गोलचक्कर पर एकत्रित हो कर कैंडल मार्च निकाला व चन्दा एकत्र कर पीड़ित परिवार की मदद करने का फैसला लिया ।
शांति मार्च में पहुंचे एकेटीयू के पूर्व वीसी आरके खंडाल ने कहा कि कॉलेज प्रबंधन की इस तरह की नीति बहुत ही निंदनीय है क्यों की शिक्षकों के ऊपर छात्रों का भविष्य संवारने की जिम्मेदारी होती है। दादरी विधायक तेजपाल नागर ने भी कालेज प्रबन्धको की मनमर्जी वाली नीति का विरोध किया और कहा कि कालेजो की इस तरह की मनमर्जी का खामियाजा शिक्षकों व उनके परिवार वालो को झेलना पड़ता है।
इस मौके पर निखिल, दिनेश कुमार, दीनानाथ, संदीप मलिक, रोहित पण्डे, एके सिंह, स्वदेश कुमार सिंह, और आरके तिवारी मौजूद रहे।

डीएम बी एन सिंह ने गिनाई 2018 की प्राथमिकताए ं, एयरपोर्ट किसान रहेंगे महत्वपूर्ण

2018 में शुरू होने के साथ गौतमबुद्ध नगर के डीएम बीएन सिंह ने कहा कि इस वर्ष सबसे महत्वपूर्ण जेवर एयरपोर्ट के साथ ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे रहेगा । इसे पूरा करने की पूरी कोशिश रहेगी साथ ही इसमें कोई रूकावट न आने पाए इसको भी तै करना पड़ेगा । किसानों की समस्या का भी समाधान प्रमुखता से किया जायेगा जिससे केंद्र सरकार और राज्य सरकार की लाभकारी योजनाओं का लाभ क्षेत्र की जनता उठा सके । शहर में बढ़ रही श्रमिको की समस्या का भी समाधान किया जायेगा और शराब माफिया, खनन माफिया, भूमाफिया के साथ बदमाशो के खिलाफ गुंडा ऐक्ट लगा कर सख्ती से कार्यवाही की जायेगी।