Daily Archive: December 9, 2017

P3 SECTOR PARK IN GREATER NOIDA NEEDS URGENT REPAIRS

*विषयसेवा में संबंधित विभाग/अधिकारीगण
हॉर्टिकल्चर विभाग
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण

*विषय:- सेक्टर पी 3 में खस्ता हालत में पड़े पार्को के संबंध में*
मोहदय
अवगत कराना चाहता हु कि लगभग 2 वर्ष से ज्यादा समय से सेक्टर पी 3 में पेड़ों की छटाई नही हो पाई है जिससे पेड़ सड़को पर झुके हुए है जिससे कई बार वाहन चालक विशेषकर टू व्हीलर चालक बचने के चक्कर मे अन्य वाहन में टकरा जाते है एव चोटिल होते रहते है एव ज्यादातर स्ट्रीट लाइट इनसे ढक गयी है जिसकी वजह से लाइट जलने के बावजूद भी सड़को पर अंधेरा रहता है जिससे महिलाये बुजुर्ग एव बच्चे अंधेरे में डूबे मार्ग से चलने में सुरक्षित महसूस नही करते ।दूसरी सबसे महत्वपूर्ण एव बड़ी समस्या सेक्टर में खस्ताहाल पड़ी पार्को की स्थिति है जिसकी तरफ मैं हॉर्टिकल्चर विभाग का घ्यान केंद्रित करना चाहता हु एव अवगत कराना चाहता हु की निरंतर सिकायत के बाद भी आज तक हम सेक्टर के पार्को की स्थिति नही सुधार पाए ,लगता है जैसे ग्रेटर नोएडा जैसे शहर में पार्को की क्या भूमिका एव महत्त्व है प्राधिकरण भूल ही गया है हमारे शहर की सुंदरता पार्को एव पेड़ो से ही दिख पड़ती है जिसके लिए सरकार इनके रखरखाव के लिए करोड़ो रूपये खर्च करती है जोकि आम जनता का पैसा है और आम जनता ही इन सुविधाओं का लाभ नही उठा पा रही है जैसे कि:
*बच्चे पार्क में जगह जगह घास गायब ओर कचरा होने की वजह से एव पार्को से नदारद झूलो की वजह से खेल कूद नही पाते ।
*फुटपाथ टूटे पड़े होने की वजह से एव खराब पड़ी लाइट के वजह से महिलाएं एव बुजुर्ग पार्क में नही जा पाते ।
*पार्को में प्रवेश द्वार छतिग्रस्त होने की वजह से आवारा पशु सेक्टर के पार्को में प्रवेश कर पेड़ो को तोड़ते है एव गंदगी मचाते है ।
*अत्यंत संघर्ष के बाद पार्को में डस्टबीन तो लगा दी गयी परंतु नियमित रूप से उन्हें खाली कराने की कोई व्यवस्था प्राधिकरण द्वारा नही कराई गई ।
समय समय पर सभी सामाजिक संघटन एव आर डब्ल्यू ऐ के पदाधिकारीगण समस्या विभिन्न माध्यमो से अपनी सिकायत एव विचार प्राधिकरण के मध्य रखते रहते है परंतु कोई खास कार्यवाही अम्ल में नही लायी जाती काफी लंबे समय से हम भी पी 3 के कई खास विषयो पर अनुरोध दर्ज करा रहे है पर कोई कार्यवाही किसी भी तरह की नही अमल में लायी जाती ।
अतः मेरे ग्रेनो प्राधिकरण के अधिकारियों से नम्र निवेदन है कि हमारी समस्या सुनकर अपने कर्तव्यों का पालन करते हुए आम जन को उनको प्राप्त सुविधाएं मुहैया प्रदान करने का कष्ठ करे ।
धन्यवाद
*आपका आभारी /निवेदक*

**आदित्य भाटी (एडवोकेट)
समाजसेवी**

।।।।।।।।।। सत्यमेव जयते ।।।।।।।। में*
मोहदय
अवगत कराना चाहता हु कि लगभग 2 वर्ष से ज्यादा समय से सेक्टर पी 3 में पेड़ों की छटाई नही हो पाई है जिससे पेड़ सड़को पर झुके हुए है जिससे कई बार वाहन चालक विशेषकर टू व्हीलर चालक बचने के चक्कर मे अन्य वाहन में टकरा जाते है एव चोटिल होते रहते है एव ज्यादातर स्ट्रीट लाइट इनसे ढक गयी है जिसकी वजह से लाइट जलने के बावजूद भी सड़को पर अंधेरा रहता है जिससे महिलाये बुजुर्ग एव बच्चे अंधेरे में डूबे मार्ग से चलने में सुरक्षित महसूस नही करते ।दूसरी सबसे महत्वपूर्ण एव बड़ी समस्या सेक्टर में खस्ताहाल पड़ी पार्को की स्थिति है जिसकी तरफ मैं हॉर्टिकल्चर विभाग का घ्यान केंद्रित करना चाहता हु एव अवगत कराना चाहता हु की निरंतर सिकायत के बाद भी आज तक हम सेक्टर के पार्को की स्थिति नही सुधार पाए ,लगता है जैसे ग्रेटर नोएडा जैसे शहर में पार्को की क्या भूमिका एव महत्त्व है प्राधिकरण भूल ही गया है हमारे शहर की सुंदरता पार्को एव पेड़ो से ही दिख पड़ती है जिसके लिए सरकार इनके रखरखाव के लिए करोड़ो रूपये खर्च करती है जोकि आम जनता का पैसा है और आम जनता ही इन सुविधाओं का लाभ नही उठा पा रही है जैसे कि:
*बच्चे पार्क में जगह जगह घास गायब ओर कचरा होने की वजह से एव पार्को से नदारद झूलो की वजह से खेल कूद नही पाते ।
*फुटपाथ टूटे पड़े होने की वजह से एव खराब पड़ी लाइट के वजह से महिलाएं एव बुजुर्ग पार्क में नही जा पाते ।
*पार्को में प्रवेश द्वार छतिग्रस्त होने की वजह से आवारा पशु सेक्टर के पार्को में प्रवेश कर पेड़ो को तोड़ते है एव गंदगी मचाते है ।
*अत्यंत संघर्ष के बाद पार्को में डस्टबीन तो लगा दी गयी परंतु नियमित रूप से उन्हें खाली कराने की कोई व्यवस्था प्राधिकरण द्वारा नही कराई गई ।
समय समय पर सभी सामाजिक संघटन एव आर डब्ल्यू ऐ के पदाधिकारीगण समस्या विभिन्न माध्यमो से अपनी सिकायत एव विचार प्राधिकरण के मध्य रखते रहते है परंतु कोई खास कार्यवाही अम्ल में नही लायी जाती काफी लंबे समय से हम भी पी 3 के कई खास विषयो पर अनुरोध दर्ज करा रहे है पर कोई कार्यवाही किसी भी तरह की नही अमल में लायी जाती ।
अतः मेरे ग्रेनो प्राधिकरण के अधिकारियों से नम्र निवेदन है कि हमारी समस्या सुनकर अपने कर्तव्यों का पालन करते हुए आम जन को उनको प्राप्त सुविधाएं मुहैया प्रदान करने का कष्ठ करे ।
धन्यवाद
*आपका आभारी /निवेदक*

**आदित्य भाटी (एडवोकेट)
समाजसेवी**

।।।।।।।।।। सत्यमेव जयते ।।।।।।।।

ग्रेटर नोएडा 65000 का इनामी बदमाश मुठभेड़ के बाद दादरी पुलिस ने मार गिराया एक दरोगा सहित ए क पुलिसकर्मी घायल

ग्रेटर नोएडा 65000 का इनामी बदमाश मुठभेड़ के बाद दादरी पुलिस ने मार गिराया एक दरोगा सहित एक पुलिसकर्मी घायल

ग्रेटर नोएडा के दादरी थानाक्षेत्र के आमका रोड पर हुई मुठभेड़

ग्रेटर नोएडा – पुलिस और बदमाशो में मुठभेड़, एक बदमाश गोली लगने से घायल एक फरार। दो पुलिस कर्मी भी मामूली रूप से घायल। दादरी पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़। दादरी कस्बे के आमका रोड की घटना।

गलगोटिया विश्वविद्यालय ‘एमर्जिंग इस्सयूज इन इनटेलैक्चुअल प्रोपर्टी राईटस’ पर कार्यशा ला का हुआ आयोजन

आज गलगोटिया विश्वविद्यालय में स्कूल आॅफ लाॅ के द्वारा एमर्जिंग इस्सयूज इन इनटेलैक्चुअल प्रोपर्टी राईटस (बौद्धिक सम्पदा अधिकारों में उभरते मुद्दों) के विषयों पर एक दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें एएमयू, यूपीईएस देहरादून, एमेटी, एमएस यूनिवर्सिटी बडोदा सहित 70 विद्ववविद्यालयों के छात्रों ने भाग लिया। सेमिनार का सुभारम्भ मुख्य अथिति माननीय न्यायधीश प्रतिभा एम0 सिंह दिल्ली हाई काॅर्ट ने दीप प्रज्वलित करते हुए किया। डाॅ0 बी0 सी0 राठौर डिप्टी रजिस्ट्रार मिनिस्ट्री आॅफ काॅमर्स भारत सरकार गैस्ट आॅफ आॅनर के रूप में उपस्थित रहे।

कार्यक्रम में माननीय न्यायधीश ने अपने अभिभाषण में छात्रों को सम्भोधित करते हुए आपीआर के विषय में विस्तार से चर्चा की। और बताया कि महिला अधिवक्ताओं को इस क्षेत्र में अपना करियर कैसे बनाना चाहिए। डाॅ0 बी0 सी0 राठौर ने ट्रेड मार्क 2017 के रूल और रेगूलेशन से छात्रों को अवगत कराया। कार्यशाला के पहले सैशन की शरूआत करते हुए आॅरीजन आईपी सोल्यूसन की सीईओ मिस0 बिन्दू शर्मा ने मनोरंजन इंडस्ट्री और आॅनलाईन पायरेसी के बारें में बताया। आॅरीजन आईपी सोल्यूसन के ही सिनियर एडवाईजर मि0 रघुराम ने पेटेंट टैक्नोलाॅजी ट्रांस्फर, ट्रेडमार्क, और सायबर स्पेस के इस्सयूज के बारे में बताया। सेमिनार के दौरान गलगोटिया विश्वविद्यालय के कुलपती सुनील गलगोटिया, सीईओ ध्रंुव गलगोटिया, वीसी रेनू लूथरा, रेनू गार्डनर डीन स्कूल आॅफ लाॅ आदि उपस्थित रहे।

लॉटरी में कार नहीं ली , फर्जी कॉल से दी अपहर ण की धमकी

ग्रेटर नोएडा :लॉटरी के जरिये कार का झांसा देकर फर्जी कॉल से ठग ने का प्रयास किया गया। और कार ना लेने पर अपहरण की धमकी भी गयी। पुलिस अब उस फर्जी कॉल और मैसेज की जांच पड़ताल में लग गयी है। मामला कासना थाने का है। एक सॉफ्टवेयर इंजिनियर और उनकी पत्नी को एक कॉल आई और बताया गया कि लॉटरी में कार निकली है। उन्होंने जब कार लेने से इनकार किया तो उन्हें धमकी दी गई कि अगर वे वाहन नहीं लेते तो उनका अपहरण कर लिया जाएगा। पीड़ित की शिकायत पर कासना थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है। इंजिनियर की पत्नी गर्भवती है और धमकी मिलने से वह डिप्रेशन में चली गई हैं इंजिनियर सौरभ सिंह ने पुलिस को बताया कि पत्नी के मोबाइल पर एक मेसेज आया जिसमें लिखा था कि कंपनी ने उनके नंबर को लॉटरी के लिए चयनित किया है। लॉटरी में उन्हें कार दी जाएगी। इसके बाद उन्हें एक ईमेल भी आया जिसमें भी कार निकलने की बात कही गई। सौरभ ने बताया कि आरोपियों ने कई बार फोन किए और अंत में कहा कि अगर कार नहीं ली जाएगी तो दोनों पति-पत्नी को अगवा कर लिया जाएगा। सौरभ ने बताया कि उनकी पत्नी 8 महीने की गर्भवती हैं और धमकी से डिप्रेशन में चली गई हैं। उन्होंने बताया कि कुछ महीने पहले भी उनके साथ ऐसा ही हुआ था जिसके बाद मोबाइल नंबर बदलना पड़ा था। कासना के एसएचओ ने बताया कि जिस नंबर से कॉल की गई है और उसका लोकेशन बिहार का आ रहा है। पीड़ित की शिकायत की जांच की जा रही है। जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा

गौड़ सिटी डबल मर्डर केस में बेटे ने कबूला, पढ़ाई पर मां की डांट से था नाराज, इसलिए की हत्या I

ग्रेटर नोएडा वेस्ट के गौड़ सिटी-2 स्थित 11 एवेन्यू में मां-बेटी की हत्या के बाद फरार नाबालिग बेटे की वाराणसी से गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा किया है। ग्रेटर नोएडा पुलिस ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दावा किया कि मां और बहन की हत्या किशोर ने ही की थी और उसने जुर्म कबूल कर लिया है। पुलिस ने बताया कि वह पढ़ाई पर मां की डांट और छोटी बहन को मिल रहे ज्यादा प्यार से गुस्सा था। पुलिस के मुताबिक, नाबालिग लड़के ने बताया कि उसने घटना वाली रात पहले अपनी मां पर बैट से हमला किया और बहन जग गई तो उसको भी मारा। पूरी तसल्ली करने के लिए बैट के बाद उसने कैंची और पिज्जा कटर से भी मां और बहन पर वार किया।

गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय में विवादित निय ुक्तियों पर कड़ी कार्यवाही की मांग

गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय में विवादित नियुक्तियों का विषय फिर सुर्खियों में है। अब विश्वविद्यालय के पूर्व शिक्षक व जीबीयू बचाओ मंच के संयोजक रहे डा० विकास पंवार ने माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर बसपा व सपा शासन के दौरान हुई सभी गलत नियुक्तियों पर कड़ी कार्यवाही की माँग की है।ध्यान रहे कि गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय में शिक्षकों की नियुक्तियों व पुस्तकों की खरीद को लेकर माननीय लोकायुक्त महोदय द्वारा की गई जाँच में बहुत से शिक्षकों की नियुक्ति गलत पाई थी जिसका एक प्रतिवेदन माननीय लोकायुक्त द्वारा माननीय मुख्यमंत्री को 2013 में भेजा गया था। डा० विकास पंवार का कहना है कि इस प्रतिवेदन पर अभी तक सरकार द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गयी है।

डा० पंवार के अनुसार बसपा व सपा शासन के दौरान हुई अनियमितताओं व गलत नियुक्तियों से सम्बन्धित तथ्यों की जानकारी वर्तमान कार्यवाहक कुलपति डा० प्रभात कुमार को दी गई थी लेकिन डा० प्रभात कुमार व रजिस्ट्रार डा० अशोक कुमार के कार्यकाल में अनियमितता घटने के बजाय बढ रही है।लोकायुक्त की जाँच में आरोपी बनाये गये डीन डा० आनंद सिंह का कार्यकाल 1 वर्ष के स्थान पर 3 वर्ष का कर दिया गया है और उन्हें विनियमित करने का आश्वासन कुलपति व रजिस्ट्रार द्वारा दिया जा रहा है।डा० विकास पंवार के अनुसार बहुत से गैर शैक्षणिक कर्मचारियों की नियुक्ति भी विज्ञापन व वैधानिक प्रक्रिया के बिना विश्वविद्यालय में पूर्व सरकारों के दौरान की गई है।उन्होंने माननीय मुख्यमंत्री योगी जी से मांग की है कि सभी गलत नियुक्तियों में नियुक्त शिक्षकों व कर्मचारियों को हटाया जाये।व साथ ही गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय में स्थायी कुलपति की नियुक्ति शीघ्र ही की जाये।डा पंवार का दावा है कि विश्वविद्यालय में अधिकांश नियुक्तियां गलत है और सही नियुक्त शिक्षकों व कर्मचारियों का शोषण व उत्पीड़न होता है।

ग्रेटर नोएडा: माँ बेटी मर्डर केस में गायब ब ेटे को पुलिस ने बनारस से किया बरामद

ग्रेटर नॉएडा के गौर सिटी में माँ और एक मासूम बेटी की हत्या निर्मम तरीके से कर दी गयी हत्या के बाद से ही घर से बेटा जो की 10 क्लास में पढ़ता है वो घर से वारदात से गायब था। आज ग्रेटर नॉएडा के थाना बिसरख पुलिस ने उस बच्चे को बनारस से बरामद कर लिया। अंजलि अग्रवाल और उनकी बेटी की हत्या के बाद से अंजलि का मोबाइल गायब था जो की अंजलि अग्रवाल के बेटे के पास से बरामद हुआ हुआ है। बेटे ने अपने पिता को २ बार अपनी माँ के मोबाइल से कॉल किया और बताया में मुगलसराय में हूँ और एक बार और कॉल किया और कहा में बनारस में हूँ पिता ने इसकी जानकारी फ़ौरन पुलिस को दी और पुलिस ने बच्चे को शकुसल बरामद कर लिया।