Daily Archive: October 13, 2017

ग्रेटर नोएडा चेयरमैन आलोक भटनागर ने सेक् टर गामा 1 का किया निरीक्षण!

रोहित शर्मा
ग्रेटर नोएडा : ग्रेटर नोएडा के गामा वन की समस्याओं को लेकर आज ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के चेयरमैन राहुल भटनागर ने गामा वन सेक्टर का दौरा किया | दरसल ग्रेटर नोएडा के गामा वन के निवासियों ने सेक्टर में बढ़ रही जन समस्याओं की जानकारी ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण तक पहुँचायी थी | जिसको लेकर आज ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के चेयरमैन राहुल भटनागर निवासियों की जनसमस्या से अवगत हुए |


साथ ही गामा वन की निवासियों का कहना है की हमारे सेक्टरों में बहुत सी जन समस्या बढ़ चुकी है जिसका काफी समय उसका समाधान नहीं हुआ , जैसे की पार्कों में घास बढ़ रही है , सड़को पर स्ट्रीट लाइट न जलने से देर रात में कोई भी बड़ी घटना हो सकती है , सेक्टरों में आवारा जानवरों का घूमना, जैसे की अभी फ़िलहाल में बंदरो का आतंक बढ़ता ही जा रहा है जिससे कई लोग घायल हो चुके है | वही इन समस्याओ को सुनकर ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के चेयरमैन राहुल भटनागर ने इन समस्याओं का जल्द से जल्द निस्तारण करने का निवासियों को आश्वासन दिया | साथ ही प्राधिकरण के अधिकारीयों को इन सभी समस्याओं का जल्द से जल्द हल करने का आदेश भी दिया |

जिला प्रशासन ने सरकारी डॉक्टर्स की प्राइव ेट प्रैक्टिस पर लगाया प्रतिबंध, पकड़े जाने पर होगी सख्त कार्यवाही

जिलाधिकारी गौतम बुद्ध नगर ब्रजेश नारायण सिंह ने जनपद के समस्त सरकारी चिकित्सकों को आगाह करते हुए कहा है कि शासन के निर्देश के अनुपालन में कोई भी सरकारी डॉक्टर प्राइवेट प्रैक्टिस नहीं कर सकता। जिसके संबंध में समस्त डॉक्टर्स संज्ञानित हैं। उन्होंने कहा कि चिकित्सक का कार्य समाज में बहुत ही सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है और सभी चिकित्सक मरीज की पीड़ा को दूर करते हैं । अतः जनपद गौतम बुद्ध नगर के सभी सरकारी चिकित्सक इस महत्व को समझें और अपनी ड्यूटी पर समय पूर्वक उपस्थित होते हुए उत्तर प्रदेश सरकार एवं शासन के माध्यम से जन स्वास्थ्य के लाभार्थ हेतु चलाई जा रही संपूर्ण योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं। उन्होंने सभी सरकारी चिकित्सकों को आगाह करते हुए सचेत किया है कि यदि कोई सरकारी डॉक्टर प्राइवेट प्रेक्टिस करते हुए पाया जाता है तो इसे शासन के निर्देशों का उल्लंघन मानते हुए उनके विरुद्ध जिला प्रशासन की ओर से कार्यवाही करने के लिए बाध्य होना पड़ेगा। जिलाधिकारी ने इस संबंध में जनपद वासियों का भी आव्हान किया है कि उनके संज्ञान में यदि कहीं पर यह आता है सरकारी चिकित्सक समय पर अपनी ड्यूटी पर उपस्थित नहीं हो रहे हैं या प्राइवेट प्रैक्टिस कर रहे हैं तो इस संबंध में डीएम वार रूम तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं संबंधित उप जिलाधिकारी को अवगत करा सकते हैं, ताकि सम्बन्धित चिकित्सक के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई की जा सके। जिलाधिकारी ने इस संबंध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी को भी निर्देश दिए हैं कि उनके द्वारा सभी सरकारी अस्पतालों में इस संबंध में व्यापक स्तर पर होल्डिंग एवं बैनर लगा कर प्रचार प्रसार किया जाए और जन-सामान्य से फीडबैक आने पर संबंधित डॉक्टर के विरुद्ध कार्रवाई प्रस्तावित की जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि सरकारी डॉक्टर्स की प्राइवेट प्रैक्टिस पर प्रतिबंध लगाने के उद्देश्य से जिला स्तर पर शासन के निर्देश के अनुपालन में कमेटी का गठन करते हुए उसकी बैठक भी नियमित रूप से प्रभावी की जाए ताकि इस प्रथा पर पूर्ण रुप से अंकुश लगाया जा सके।

ग्रेटर नॉएडा में बंदरो का आतंक ,युवक को किय ा लहूलुहान काटा कान

ग्रेटर नोएडा में बंदरो ने आतंक मचाया हुआ है । जिसको लेकर बच्चो का घर से निकलना दुर्लभ हो गया है । दरसल ग्रेटर नोएडा में बंदरों का भयंकर आतंक देखने को मिला है | जहां एक खूंखार बंदर ने दादरी के सरकारी अस्पताल में तैनात डॉक्टर के ड्राइवर पर हमला कर दिया हमले में ड्राइवर बुरी तरह जख्मी हो गया,बंदर का हमला इतना भयंकर था की उसका कान फट गया और वो मिनटों में ही लहूलुहान हो गया आनन् फानन में उसको हॉस्पिटल में पहुंचाया गया जहा पर उसका इलाज चल रहा है। दो दिन पहले ही बंदरो ने एक डॉक्टर को भी अपना निशाना बनाया था और हमला कर घायल कर दिया था। आए दिन हो रहे बंदर के हमले से पूरा सरकारी अस्पताल कैंपस डर के साए में जीने को मजबूर है।