Daily Archive: October 10, 2017

CRIMINALS LOOTED CAR IN GREATER NOIDA

ग्रेटर नोएडा के इकोटेक 3 थाना इलाके में कार सवार बदमाशों ने एक प्राइवेट कंपनी के gm से ब्रेजा कार लूटी हत्यार बंद बदमासो ने दिया घटना को अंजाम ।

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने अल्फ़ा में चलाय ा अतिक्रमण हटाओ अभियान

ग्रेटर नोएडा जिसे बहुत ही प्लान कर के बसाया गया था आज वह चारो तरह अतिक्रमण का शिकार होता जा रहा है जिसको देखते हुए आज ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने अतिक्रमण हटाओ आंदोलन चलाया और आज एक टीम ग्रेटर नॉएडा के अल्फ़ा 1 में के सी मार्किट और कॉमर्सियल बेल्ट में अतिक्रमण हटाने के लिये जेसीबी और पुलिस फोर्स लेकर पहुंची । पर पहले से ही वहां रोज लगने वाली रेहड़ी पठारी हटा गई थी। और कॉमर्सियल बेल्ट स्थित एम्स हॉस्पिटल को भी नोटिस जारी किया गया और सात दिनों की मोहलत दी गई।
आज का अतिक्रमण हटाओ आंदोलन नोटिस – चेतावनी और बात चीत तक सीमित रह गई और किसी भी अतिक्रमण करने वाले के खिलाफ कोई भी ठोस कारवाही नहीं की गई।

ग्रेटर नोएडा के डेल्टा 1 में स्थित पेट्रोल पम्प के सामने लगी कार में आग

ग्रेटर नोएडा के डेल्टा 1 में स्थित पेट्रोल पम्प के सामने आज करीब 4 बजे एक सिडान कार में आग लग गई । बताया जा रहा है कि कार में आग लगने के तुरंत बाद कार चालक सुरक्षित बहार निकल आये थे ।


फायर विभाग को इसकी जानकारी दे दी गई थी। पर जब तक दमकल की गाड़ी वहाँ पहुंची तब तक आग पूरी कार को अपनी चपेट में ले लिया था । दमकल की गाड़ी ने कार में लगी आग को बुझा तो दिया पर तब तक कार पूरी तरह से जल चुकी थी।
कार में आग किन कारण से लगी इसका पता अभी नहीं चल पाया है ।

ग्रेटर नोएडा के साइड 5 की थर्माकोल बनाने वा ली कंपनी में लगी भीषण आग

ग्रेटर नोएडा के साइड 5 में स्थित एक थर्माकोल की प्लेट बनाने वाली कंपनी में आज शाम 5 बजे करीब आग लगने से अफरा तफरी मच गई आग इतनी भीषण थी की कुछ ही मिनटों में पूरी कंपनी को अपनी चपेट में ले लिया ।


कंपनी में काम कर रहे कर्मचारियों ने तुरंत इसकी सुचना फायर विभाग को दी गई और समय रहते सारे कर्मचारियों को सकुशल कंपनी से बाहर निकल लिया गया । दमकल विभाग की करीब 8 से 10 गाड़ियों ने करीब 2 घंटे बाद कंपनी में लगी आग पर काबू पा लिया।


कंपनी में आग किन कारणों से लगी अभी इसका पता नहीं चल पाया है पुलिस व फायर विभाग इसकी जांच में जुट गए है।

#Breaking : Police Encounter in Greater Noida, One criminal wounded, Another Manage To Flee

A police encounter took place this afternoon in Sigma-2, Greater Noida. Police personnel and Criminals exchanged fire in which a criminal named Joginder alias Jogi is said to have received bullet injuries. However he has been captured and admitted to hospital. The criminal is said to be out of danger.

Another criminal managed to flee from the spot. Police is searching the area to look for the other criminal.

More details awaited.

विदेशी युवक ने सोशलमीडिया पर दोस्ती कर मह िला को लगाया दो लाख का चूना

ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर कोतवाली क्षेत्र स्थित एक सोसाइटी में रहने वाली युवती से फेसबुक में विदेशी युवक ने दोस्ती कर दो लाख तेईस हजार रूपए की ठगी कर ली।

युवती शिवानी सिंह मूलरूप से अलीगढ़ की रहने वाली है वह नॉएडा की एक कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर है सेक्टर 137 में फ्लैट लेकर रही है ।

युवती ने अपने साथ हुई दोलख तेईस हजार रुपयों की हुई ठगी की शिकायत एसएसपी से कर बताया कि एक महीने पहले उसकी दोस्ती सोशलमीडिया में फेसबुक के माध्यम से एक विदेशी युवक से हुई उस युवक ने अपना नाम लुइस ब्रेन्स व इंग्लैंड का रहने वाला बताया । और हमारी दोस्ती धीरे धीरे कुछ दिनों में और गहरी होती गई और हमने आपस में मिलने का फैसला लिया । फिर लुइस ब्रेन्स ने उससे कहा कि वो एक अच्छे गिफ्ट के साथ भारत आ कर मुझसे मिलेगा फिर बीते तीन अक्टूबर को शिवानी को फोन आया और फोन करने वाले व्यक्ति ने कहा कि वह मुम्बई एयरपोर्ट का चीफ सिक्योरटी अफसर बोल रहा है। इंग्लैण्ड से लुइस ब्रेन्स भारत आये है वह आप को अपना दोस्त बता रहे है। लेकिन लुइस के पास यलो कार्ड नहीं है। अधिकारी के बाद लुइस ब्रेन्स भी फोन पर बात कर बताया कि उसके पास यलो कार्ड नहीं है उसके पास 70 हजार विदेशी पाउंड है पर एयरपोर्ट पर भारतीय मुद्रा की मांग की जा रही है उसके बाद लुइस ब्रेन्स ने दो बार में यलो कार्ड के बहाने व कस्टम ड्यूटी के बहाने से दो लाख तेईस हजार रूपए अपने खाते में जमा करा लिया। लुइस ब्रेन्स ने यह भी कहा कि जल्द ही मुझसे मिल कर मेरे रूपए वापस कर देगा । लुइस ब्रेन्स ने कहा कि मुंबई एयरपोर्ट से निकल कर वह सीधा मुझसे मिलने आ रहा है।

पर जब रात तक लुइस नहीं आया तो मुझे चिंता होने लगी और मई पूरी राह नहीं सोई और अगली सुबह मुझे फिर से फ़ोन आया और इस बार आरबीआई का नाम ले कर लुइस के नाम पर मनी एक्सचेंज के लिये एक लाख नौ हजार रुपयों की मांग की गई पर इस बार मुझे शक हुआ । की लुइस अभी तक मुम्बई से मेरे पास नहीं आया है और लुइस के नाम पर रुपयों की डिमांड बढ़ती जा रही है। फिर मैंने आरबीआई की हेल्पलाइन पर फोन कर पता किया तो आरबीआई की तरफ से मुझे बताया गया कि आरबीआई कभी भी फोन पर रुपयों की मांग नहीं करता जिसके बाद मुझे समझ में आया की मुझेसे दोस्ती कर लुइस ब्रेन्स नाम के युवक ने ठगी की है। जिस पर पीड़िता शिवानी सिंह की शिकायत पर एसएसपी ने तुरन्त चांज करने का भरोसा दिया।