Daily Archive: October 4, 2017

एमएसएक्स मॉल ग्रेटर नॉएडा में आयोजित हुआ फैशन शो, पारम्परिक वेशभूषा की दिखी झलक !

01 अकटूवर को कॉलेज के प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं के लिए ‘फैशन शो" का आयोजन शहर के MSX mall , साईट – 4 ग्रेटर नोएडा में किया गया, इसमें प्रतियोगी अलग -अलग राज्यों के पारम्परिक वेशभूषा के साथ जब एक साथ रैम्प पर कैट वाक की तो पूरा भारत एक ही मंच पर दिखा। इसमें कुमारी परी,दक्षिता भारद्वाज,मान्या,मास्टर जॉनी, शौर्य एवम् शशांक चौधरी इत्यादि ने भाग लिया।


एरो मीडिया के सौजन्य से ऐरो मीडिया के निदेशक कमल श्रीवास्तव ने बताया ग्रेटर नोएडा में पहली बार ऐसा फैशन शो आयोजित किया है जिसमें नृत्य ,नाटक ,गायन, वाधय संत का मंचन भी हुआ |
आयोजक कमल श्रीवास्तव ने बताया आयोजन का उद्देश्य छात्र-छात्राओं को एक ऐसा प्लेटफार्म देना जहाँ वो अपना टैलेंट प्रस्तुत कर सकें और फैशन शो के जरिये अपने वेशभूषा से रूबरू हों। विजेताओं को कैश प्राइज,ट्रॉफी, मेडल और सर्टिफिकेट प्रदान किये गएे।


इसमें विशेष सहयोग मैडम अंशु श्रीवास्तव, मैडम अनामिका चौधरी,डॉक्टर शशिकला,मैडम अंतिमा शर्मा (सीनियर कोरियोग्रफर & मेंटर) एवम् अंकित,सुधीर(सहयोगी कोरियोग्रफर & मेंटर), शंभू एवम् आलोक ने दिया। मुख्य अतिथि सुश्री श्वेता डागर(मिस वर्ल्ड वाइड, सुपर मॉडल २०१७) माननीया जज़ सुश्री दुर्गेश्वरी एवम् श्री कमलेश चौधरी,श्री विक्टर जॉन श्री सचिन खटाना जी रहे।

प्लेसमेंट एजेंसी से रखे गए नौकर ने पहले ही दिन नॉएडा के घर में की लाखों की चोरी !

नौकर ने ही किया घर साफ

. नौकर का पहला दिन था घर में काम करने का
. 5 घंटे में ही ले उड़ा 11 लाख रूपए समेत सोने के 4 सिक्के
. प्लेसमेंट एजेंसी के द्वारा रखा गया था नौकर
. घर में लगे सीसीटीवी की फुटेज में दोपहर के 2: 30 में घर से बहार जाता दिख रहा है नौकर
. प्लेसमेंट एजेंसी के पास नहीं है नौकर किशनपाल का कोई आईडी कार्ड व डाकुमेंट

नॉएडा के सेक्टर 122 के डी ब्लॉक में परिवार के साथ रहने वाले कारोबारी दिव्यांशु जैन अपने दिव्यांग भाई और घर की देख रेख के लिये एक प्लेसमेंट एजेंसी से ऑनलाइन संपर्क कर नौकर की आवश्यकता के बारे में बात की तो प्लेसमेंट एजेंसी से सुरेश नाम के शख्स ने 18 हजार रूपए महीने की सैलरी में 1 अक्टूबर नौकर भेजने की बात कही थी।

एजेंसी द्वारा दी गई तारीख 1 अक्टूबर को दिव्यांशु के पास सुबह 9 बजे किशन पाल नाम का शख्स काम करने आ गया । किशन पाल ने अपना निजी निवास इलाहबाद का बताया और घर का काम करना शुरू कर दिया ।

दिव्यांशु को काम के सिलसिले से बहार जाना पड़ा दिव्यांशु के घर से जाने के बाद घर में उसकी माँ और दिव्यांग भाई ही थे किशनपाल ने मौके का फायदा उठाते हुए उसने दिव्यांशु की माँ से सफाई करने के बहाने से ऊपर के रूम की चाभी ले ली और ऊपर के रूम जा कर अलमारी का लॉक तोड़ कर उसमें रखे 11 लाख और 4 सोने के सिक्के लेकर फरार हो गया ।

कुछ देर बाद दिव्यांशु की माँ ने किशन पाल को आवाज लगाई और उसे इधर उधर घर में देखने पर उसका कोई अता पता नहीं मिला तो माँ ने दिव्यांशु को फोन कर इसकी जानकारी दी। घटना के बाद दिव्यांशु ने प्लेसमेंट एजेंसी को इसकी खबर की तो एजेंसी ने बताया कि उनके पास किशन पाल की कोई आईडी नहीं है क्योंकि उसे दूसरी एजेंसी से बुलाया गया था ।
दिव्यांशु ने घर में हुई चोरी की शिकायत फेज 3 पुलिस थाने में लिखवाई और प्लेसमेंट एजेंसी के ऊपर भी मिलीभगत का आरोप लगाया।

दिव्यांशु के शिकायत के आधार पर पुलिस मामले की जाँच में जुट गई है और प्लेसमेंट एजेंसी से भी पूछताछ की जायेगी।

गौतम बुद्ध नगर के पूर्व डीएम एनपी सिंह ने श ुरू की थी बेहतरीन पहल, सरकार की संस्तुति के बा द अब पूरे उत्तर प्रदेश में होगी लागू

गौतम बुद्ध नगर के पूर्व जिलाधिकारी एन पी सिंह द्वारा गरीब स्कूली छात्रों के लिए पिछले जाड़ों में शुरू की गई जूते और स्वेटर बांटने की पहल को अब प्रदेश सरकार बड़े पैमाने पर अपनाने जा रही है ।

उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री श्रीकांत शर्मा ने इस विषय पर जानकारी देते हुए बताया कि, "1 करोड़ 48 लाख 49 हजार 145 छात्र-छात्राओं को जूता, मोजा और स्वेटर दिया जाएगा। इस पर 2 अरब 66 करोड़ 53 लाख राशि खर्च की जाएगी" ।

गौतम बुद्ध नगर में इस योजना की शुरुआत डीएम एन पी सिंह ने सरकारी स्कूलों के औचक निरीक्षण के बाद करी थी जब उन्हें जाड़ों में कई छात्र बिना स्वेटर- जूते के नजर आए थे । इस अनूठी पहल की शुरुआत डी एम एन पी सिंह ने अपना मासिक वेतन दे कर की थी जिसे बाद में कई अधिकारियों और संस्थाओं का सहयोग मिला ।