Daily Archive: September 12, 2017

रोजगार मेले का आयोजन 15 सितंबर से होगा

गौतम बुद्ध नगर के डीएम बी एन सिंह ने जानकारी दी की आगामी 15 सितंबर को सुबह ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर स्थित सेवायोजन कार्यालय 11 में रोजगार मेले का आयोजन किया जायगा। आयोजित होने वाले रोजगार मेले में चार कंपनियां हिस्सा लेंगी इनके द्वारा प्राप्त विभिन्न प्रकार के स्थानों की नियुक्तियां विवरण के अनुसार हाईस्कूल, इंटरमीडिएट, स्नातक तथा आईटीआई की परीक्षा उत्तीर्ण अभ्यार्थियों हेतु पदों के स्थान खली है। इसी योग्यता के अभ्यर्थी जिनकी आयु 18 से 30 वर्ष है एवं सेवायोजन विभाग के पोर्टल पर पंजीकृत अभ्यर्थी ही रोजगार मेले में भाग ले सकेंगे। उन्होंने बताया कि जो बेरोजगार व्यक्ति इस मेले का लाभ उठाना चाहते हैं वह 15 सितंबर को सुबह 11:00 बजे जिला सेवायोजन कार्यालय सूरजपुर ग्रेटर नोएडा गौतम बुद्ध नगर में अपने शैक्षिक मूल प्रमाण पत्रों के साथ भाग ले सकते हैं, और इस संबंध में अधिकतम जानकारी जिला रोजगार सहायता अधिकारी पदम वीर कृष्ण से प्राप्त की जा सकती है। जिलाधिकारी ने अधिक से अधिक जनसामान्य से इस मेले का लाभ उठाने के लिए आव्हान किया है।

#ब्रेकिंग : गलगोटिया यूनिवर्सिटी के पास बस की टक्कर से मोटरसाइकिल सवार युवक की मौत

दनकौर के गलगोटिया यूनिवर्सिटी के करीब एक युवक को बस ने टक्कर मार दी है।
सुचना के अनुसार युवक की मौके पर ही मृत्यु हो गई है।

मृतक के पास बरामद आधार कार्ड के अनुसार उसकी पहचान गाँव हसनपुर, बुलंदशहर निवासी मान सिंह के रूप में हुई है। प्राइवेट बस की इस टक्कर में मोटरसाइकिल बस के अंदर फंस गई और मृतक उछल कर दूर जा गिरा।

#ब्रेकिंग #ग्रेटरनोयडा : निवासियों को मिली बड़ी राहत, सीनियर सिटीजन सोसायटी में रजिस्ट्र ेशन पर लगी रोक हटी

ग्रेटर नोएडा की सबसे बड़ी हाऊसिंग सोसाइटी सीनियर सिटीजन सोसायटी का रजिस्ट्रेसन 2010 में आपसी विवाद के कारण रद्द कर दिया गया था। जिसके चलते एक हजार फ़्लैट खरीदारों के परिवार भविष्य को लेकर संकट में थे। आज नैनीताल हाईकोर्ट के आदेश पर देहरादून के डिप्टी रजिस्ट्रार ने आदेश जारी किया कि सीनियर सिटीजन सोसायटी का रजिस्ट्रेशन बहाल कर दिया गया है ।
इस फैसले के बाद इस तरह के विवादों में घिरी और दूसरी सोसायटी भी राहत की साँस ले सकती है आगे चल कर उन सोसायटी को राहत मिल सकती है

नहीं थम रहा जिले में अपराध, प्राधिकरण से चो री हुई सपा नेता की महंगी गाड़ी!

शहर में चोरों के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं। शासन प्रशासन की लाख कोशिशों के बावजूद भी क्राइम पर विराम नहीं लग पा रहा है।
जानकार सूत्रों के मुताबिक अभी अभी समाजवादी पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष प्रताप सिंह चौहान की फॉर्च्यूनर गाडी का चोरो ने सीसा तोड़कर ग्रेटर नोयडा प्राधिकरण कार्यालय से चोरी कर लिया है।

गाडी ग्रेटर नॉएडा प्राधिकरण के बाहर खड़ी थी जहाँ प्रतिदिन सैकड़ों गाड़ियां प्रतिदिन कड़ी रहती है। दिन -दहाड़े हुई इस घटना से लोगों में हड़कंप मचा हुआ है।

SAKIPUR PRIMARY SCHOOL GREATER NOIDA HAS NO SCHOOL TEACHER

साकीपुर प्राथमिक विद्यालय में पिछले 6 दिन से कोई भी अध्यापक नहीं आया है केवल हेड मास्टर जी ही कक्षाएं लेते हैं विद्यालय में लगभग 200 के करीब बच्चे हैं बच्चों के भविष्य को देखते हुए युवा शक्ति संगठन के कार्यकर्ता अब स्वयं ही बच्चों को दो-दो घंटे जाकर पढ़ा कर आते हैं संगठन ने बेसिक शिक्षा अधिकारी से टीचरों की मांग की थी परंतु उन्होंने यह लिखित रूप में दे दिया कि विद्यालय में 2 स्थाई अध्यापिका तथा एक प्रधानाचार्य है परंतु जो अध्यापिकाएं हैं वह केवल शिक्षा मित्र हैं और वह भी नहीं आ पा रही हैं

FORTUNER OF S P LEADER STOLEN FROM GREATER NOIDA AUTHORITY

Greater Noida शहर में चोरों के हौसले बुलंद शासन प्रशासन की लाख कोशिशों के बावजूद भी क्राइम पर विराम नहीं लग रहा है अभी अभी समाजवादी पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष प्रताप सिंह चौहान की फॉर्च्यूनर गाडी का चोरो ने सीसा तोड़कर ग्रेटर नोयडा प्राधिकरण कार्यालय से चोरी कर लिया है

यूपी पुलिस का एक और नया कारनामा, परिजनों क ो बिना बताया ही कर दिया बच्चे का अंतिमसंस्कार ।

जहाँ यूपी सरकार कोशिश कर रही है कि राज्य से अपराधों को ख़त्म किया जाये वहीँ राज्य की जनता के प्रहरी ही कानून से खिलवाड़ कर रहे है । ऐसा ही वक्या यूपी के ग्रेटर नोएडा क्षेत्र के दादरी थाना पुलिस द्वारा देखने को मिला है ।

आप को जानकारी के लिया बता दें की बीते 3 सितंबर को दादरी के नई आबादी का रहने वाला बच्चा भूरा लापता हो गया था। उनके परिजनों ने अपने बच्चे की थाने में गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिसके बाद बच्चे की तलाश दादरी पुलिस ने करनी शुरू कर दी ।

दादरी पुलिस को जंगल में बच्चे का शव मिला बच्चे की गला रेतकर हत्या की गई थी। और जंगल में शव को ठिकाने लगा दिया गया। बच्चे का शव मिलने के बाद उन्होंने बच्चे के परिजनों को बताए बिना ही उसका अंतिम संस्कार कर दिया। आज मृतक के कपड़ों से परिजनों ने शव की शिनाख्त की। पर परिजनों का आरोप है कि पुलिस ने किसी के दबाव में आ कर हमारे बच्चे का अंतिमसंस्कार कर दिया जब बच्चे का शव पुलिस को मिल गया था तो उन्हें क्यों नहीं हमें दिया। पुलिस की इस लापरवाह रवैये को देखते हुए परिजनों ने सैकड़ों लोगों के साथ मिल कर दादरी थाने का घेराव किया।