Daily Archive: July 18, 2017

खुले गड्ढे और नालों को भर पाने में अथॉरिटी अभी भी नाकाम

कई हादसों और अपीलों के बाद भी ग्रेटर नॉएडा के सेक्टर्स की व्यवस्था अभी भी जर्जर बानी हुई है और कई इलाके दुर्घटना के लिए तैयार नजर आते हैं।

ग्रेटर नॉएडा प्राधिकरण के अधिकारी सेक्टर की समस्याओं पर ध्यान नहीं दे रहें जिस कारण सेक्टर वासियों में भरी रोष है। बार बार शिकायत करने पर भी कुछ समस्या ऐसी हे जो कभी भी दुर्घटना का कारण बन सकती है। बीटा-1 निवासी हरिंदर भाटी ने बताया की सेक्टर बीटा १ मे जगह जगह खुदे पड़े है गड्ढे जिन में बारिश के पानी से मच्छर पनप रहे हे जो जानलेवा बीमारियों को आमंत्रित कर रहे हैं।

अथॉरिटी की लापरवाही का खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ रहा है। ओमीक्रान सेक्टर में कुछ दिन पहले नाले में गिरने से 2 साल के मासूम बच्चे की जान चली गई थी। इस प्रकार की दुर्घटना से उस परिवार पर क्या बीतती हे ये वो ही जान सकते हे बाद में अफ़सोस के सिवा कुछ हाथ नही लगता। बरसात की वजह से नाले में पानी भर गया था। शहर के लोगों ने विभिन्न सेक्टरों में गडढे और उन में पानी भरा होने की सूचना अधिकारियों को दे रखी है परन्तु कोई गंभीर कार्यवाही नहीं नजर आ रही है।

बीटा १ सेक्टर में सी—12 मकान के सामने पिछले बीस पच्चीस दिनों से ये गडढा खुदा पड़ा हुआ है अथॉरिटी की तरफ से किया गया था। अभी तक भरा नही गया है। जिसकी वजह से कोई भी अनहोनी कभी भी हो सकती है।

इसके अलावा इसी सेक्टर बीटा—1 सी—272 मकान के पास में नाला भी खुला हुआ है। पहले भी इस नाले में पशु गिर चुके है। कभी भी यहां बड़ा हादसा हो सकता है। नाला खुला होने की वजह से बदबू आती है। बदबू आने की वजह से आस—पास रहने वाले लोगों को जीना मुहाल हो गया है। कई बार अथॉरिटी अफसर और ठेकेदारों से शिकायत की जा चुकी है। उसके बाद भी कोई एक्शन नही लिया जा रहा है।

लोगों को अभी भी प्राधिकरण से उम्मीद बाकी है की देर हे सही पर आवश्यक कदम जरूर उठाए जायेंगे।

प्रदेश सरकार के महत्वपूर्ण कार्यक्रम तहस ील दिवस का सभी तहसीलों में आयोजन, 179 शिकायतें द र्ज 11 का मौके पर निस्तारण।

गौतमबुद्धनगर 18 जुलाई, 2017

जिलाधिकारी बीएन सिंह के निर्देशन में प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजना के तहत जनपद की सभी तहसीलों में तहसील दिवस का आयोजन सम्पन्न हुआ। जनपद की तीनों तहसीलों में 179 शिकायतें दर्ज हुई जिसके सापेक्ष 11 शिकायतों का अधिकारियों के माध्यम से मौके पर निस्तारण करा दिया गया है। जिलाधिकारी किसानों के हितार्थ अपने न्यायालय में व्यस्त होने के कारण उनके स्थान पर दादरी तहसील में अपर जिलाधिकारी प्रशासन कुमार विनीत के द्वारा तहसील दिवस की अध्यक्षता की गयी। इस अवसर पर एडीएम ने जनता की शिकायतों का अनुश्रवण किया और अधिकारियों को निर्देश दिये कि तहसील दिवस में जो शिकायतें जनता की दर्ज हुयी है उनका निस्तारण पूर्ण गुणवत्ता के साथ करते हुये उसकी सूचना शिकायत कर्ता को भी उपलब्ध करायी जाये। उन्होनें यह भी निर्देश दिये कि सभी अधिकारियों के द्वारा निस्तारण तत्परता के साथ इस प्रकार किया जाये कि प्रत्येक शिकायत में ए श्रेणी प्राप्त हो।

सदर तहसील दिवस के अवसर पर उपजिलाधिकारी अंजनी कुमार सिंह के द्वारा जनता की समस्यायें सुनी गयी यहॉ पर 25 शिकायतें दर्ज के सापेक्ष 1 का मौके पर निराकरण कराया गया। जेवर तहसील में भी तहसील दिवस में 63 शिकायतें दर्ज हुयी और 3 का मौक पर निस्तारण अधिकारियों मे द्वारा किया गया-राकेश चौहान सूचनाधिकारी गौतमबुद्धनगर।

अब निजी व सरकारी दफ्तरों में कार्यरत महिला ओं का उत्पीड़न करने वालों की खैर नहीं

ग्रेटर नोएडा – अब निजी व सरकारी दफ्तरों में कार्यरत महिलाओं का उत्पीड़न करने वालों की खैर नहीं। जिला प्रशासन ने हर दफ्तर में वहीं के कर्मचारियों की एक कमेटी बनाने का निर्णय लिया है। यह कमेटी जिला प्रशासन के संपर्क में रहेगी। कमेटी प्रशासन को नियमित रिपोर्ट भी देगी। जनपद में ऐसे तमाम संस्थान हैं, जिनमें महिला कर्मचारी काम करती हैं। ऐसे संस्थानों पर जिला प्रशासन और पुलिस की नजर रहेगी। वहीं संस्थान की हर गतिविधि पर सतर्कता से नजर रखने के लिए एक कमेटी रहेगी।

कमेटी के पदाधिकारियों की सूची जिलाधिकारी के दफ्तर में मौजूद रहेगी। कमेटी लगातार जिला प्रशासन के संपर्क में रहेगी। अपर जिलाधिकारी कुमार विनीत ने बताया कि प्रदेश सरकार ने महिलाओं का उत्पीड़न रोकने के लिए दिशा निर्देश दिए हैं।
धारा-1 के नियम-14 के तहत कार्यस्थल पर महिलाओं के उत्पीड़न के तहत वार्षिक रिपोर्ट जिलाधिकारी के दफ्तर में उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं, जिसके तहत कुछ संस्थानों ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट जिलाधिकारी कार्यालय में दी है।
वहीं जिन संस्थानों में महिलाएं कार्य कर रही हैं, उनमें एक कमेटी का गठन भी किया जाना है। कमेटी का गठन करके एक सप्ताह के अंदर जानकारी जिलाधिकारी के दफ्तर में देनी है।

ग्रेनो के 100 गांवों को फ्री वाई-फाई, हर रोज 5 घंटे |

ग्रेनो के 100 से अधिक गांवों को अगले महीने से फ्री इंटरनेट सेवा मिलेगी। ग्राम प्रधानों के प्रस्ताव पर केंद्र सरकार की डिजिटल विलेज योजना के तहत इन गांवों को फ्री वाई-फाई सुविधा से लैस किया जा रहा है।