Daily Archive: May 15, 2017

माननीय मुख्य मंत्री के प्राथमिकता वाले क ार्यक्रम गढ्ढा मुक्त सड़क के तहत डीएम बीएन सि ंह ने किया सड़कों का तूफानी दौरा।

जिलाधिकारी बीएन सिंह के द्वारा माननीय मुख्य मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार के सर्वोच्च प्राथमिकता वाले कार्यक्रम गढ्ढा मुक्त सड़क को आगामी 15 जून तक पूर्ण कराने के उद्देश्य से आज प्रातः 6 बजे से ही सड़कों का तूफानी दौरा करते हुये विभागीय अधिकारियों को कार्य में तेजी लाकर सड़कों को गढ्ढा मुक्त कराने के आदेश मौके पर ही दिये।
डीएम श्री सिंह द्वारा अपने सघन भ्रमण के दौरान जेवर तहसील में स्टेट हाई-वे सिकंदराबाद पलवल मार्ग, पीएमजीएसवाई के सड़क जेवर से झुप्पा, आकलपुर से हसनपुर मार्ग, झाझर से भोले के मन्दिर मार्ग तथा पीएमजीएसवाई की सड़क मेहंदीपुर से मकनपुर का तूफानी स्थलीय निरीक्षण किया। उन्होनें निरीक्षण के दौरान पाया कि सिकन्दराबाद पलवल मार्ग में बहुत संख्या में गढढे बने है। उसके बाद उन्होनें जेवर से झुप्पा सड़क का निरीक्षण किया जहॉ पर सड़क बहुत ही खस्ता हालत में मिली। इस सड़क का निरीक्षण करते हुये उन्होनें ग्राम छतंगा कला के ग्रामीणों की समस्याओं का भी अनुश्रवण किया जहॉ उन्हें बताया गया कि विगत दो माह से गॉव में विद्युत पोल क्षतिग्रस्त हो गया था बार बार शिकायत करने के बाद भी विभाग के अधिकारियों द्वारा ठीक नहीं कराया गया। जिलाधिकारी ने तत्काल मौके से ही अधीक्षण अभियन्ता विद्युत को कडे़ निर्देश दिये कि आज ही गॉव में जाकर ग्रामीणों की समस्या का निराकरण करते हुये उन्हें रिर्पोट प्रस्तुत की जाये। यहॉ पर उन्हें पात्रों को पेंशन भी न मिलने की शिकायत की गयी और गॉव में सफाई कर्मी द्वारा सफाई न किये जाने के बारे में जानकारी दी। इस सम्बन्ध में भी कार्यवाही के लिये जिलाधिकारी द्वारा सम्बन्धित अधिकारियों को मौके से ही फोन करते हुये निर्देश दिये गयंे।
उसके उपरान्त उन्होनें आकलपुर से हसनपुर मार्ग का निरीक्षण किया जहॉ पर पैच मरम्मत का कार्य किया गया है यह कार्य मानकों के अनुरूप सही पाया गया और सड़क गढ्ढा मुक्त पायी गयी। झाझर से भोले के मंदिर वाला मार्ग भी सही मिला उसमें ग्राम एक स्थान पर मेहंदीपुर गॉव में गढ्ढा पाया गया जिसे तत्काल ठीक करने के आदेश अभियन्ताओ को दिये गये। पीएमजीएसवाई की सड़क मेंहदीपुर से मकनपुर खादर मार्ग की भी खस्ता हालत मिली जिस पर विभागीय अधिकारियों के द्वारा मरम्मत कार्य आरम्भ करा दिया गया है।
जिलाधिकारी ने लोक निर्माण विभाग एवं पीएमजीएसवाई के अधिशासी अभियन्ताओं को मौके पर निर्देश देते हुये कहा कि उनके द्वारा अपने विभागीय कार्यो में तेजी लाते हुये सभी कार्यो को पूर्ण करते हुये सड़कों को 15 जून तक गढ्ढा मुक्त बनाया जाये और यह भी आगाह किया कि उनके द्वारा समय समय पर सभी निर्माण कार्यो की जॉच स्वयं की जायेगीं। अतः सभी कार्य गुणवत्ता के साथ पूरे करायें। जेवर झुप्पा मार्ग पर उन्हें ओवरलोडिंग वाहन संचालित होते हुये मिले इस सम्बन्ध में एसडीएम एवं परिवहन विभाग को संयुक्त कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये।-राकेश चौहान सूचनाधिकारी।

सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मृत्यु को ल ेकर डीएम बीएन सिंह गम्भीर, जेवर टोल प्लाजा का सुबह 6 बजे किया औचक निरीक्षण

जिलाधिकारी बीएन सिंह जनपद में सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली जनसामान्य की मृत्यु को लेकर बहुत ही गम्भीर है और सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के लिये उनके द्वारा गम्भीरता के साथ प्रयास आरम्भ किये गये है। इसी कड़ी हमें आज उन्होंनें सुबह 6 बजे जेवर टोल प्लाजा पर पहुॅचकर उनके कार्यालय का स्थलीय निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होनें पाया कि यमुना एक्सप्रेस हाईवे पर जितने भी वाहन संचालित होते है उन सभी का रिकार्ड टोल प्लाजा पर एक साफ्टवेयर पर उपलब्ध हो जाता है जिससे प्रत्येक वाहन की स्पीड का पता चलता है। ज्ञातव्य हो कि सम्बन्धित हाईवे पर वाहनों की गति के मानक निर्धारित है जिसमें छोटी गाडि़यों के लिये 100 किमी प्रति घण्टा और बडे़ वाहनों के लिये 60 कि0मी0 प्रति घण्टा की स्पीड से वाहनों का संचालन होना चाहिये। डीएम के द्वारा विगत सप्ताह जब अपने आवास पर जिला परिवहन सलाहकार समिति एवं सड़क सुरक्षा समिति की बैठक की तो उनके सम्मुख चौकाने वाले ऑकड़े प्रस्तुत हुये जिसमें अपै्रल माह में यमुना एक्सप्रेस वे पर 1 लाख 56 हजार वाहनों द्वारा ओवर स्पीड वाहनों का संचालन किया गया। और पुलिस एवं परिवहन विभाग के माध्यम से मात्र 286 चालान ही ओवर स्पीड के किये गये। इस बिन्दु को जिलाधिकारी द्वारा बहुत ही गम्भीरता से लिया गया और आज सुबह 6 बजे अचानक जेवर टोल प्लाजा पहॅुच गये और उनके द्वारा यह ऑकडे़ सही पाये गये। जिलाधिकारी ने टोल प्लाजा के अधिकारियों को निर्देश दिये कि उनके द्वारा प्रति दिन पुलिस, परिवहन एवं उनकी स्वयं की मेल पर प्रति दिन ओवर स्पीड वाहनों के भेजे जाये ताकि सभी ओवर स्पीड वाहनों का चालान किया जा सकें।

एसटीएफ ने किया सुन्दर भाटी गैंग का सक्रीय सदस्य विजय नागर गिरफ्तार

एसटीएफ उत्तर प्रदेश को कुख्यात अपराधी सुन्दर भाटी गैंग के सक्रिय सदस्य एवं एक होटल व्यवसायी की हत्या की सुपारी लेकर हत्या की साजिश रचने वाले अपराधी विजय नागर को जनपद-गौतमबुद्धनगर से गिरफ्तार करने में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त हुई।

गिरफ्तार अभियुक्त का विवरण-
विजय नागर पुत्र हरस्वरूप निवासी ग्राम जुनैदपुर की मढ़ैया, थाना-दनकौर, गौतमबुद्धनगर
बरामदगी का विवरण-
1- एक अदद तमन्चा .12 बोर
2- एक अदद जिन्दा कारतूस .12 बोर
दिनांकः30-04-2017 को एस0टी0एफ0, उत्तर प्रदेश को सूचना प्राप्त हुई कि थाना- बसन्तकुंज, साउथ दिल्ली में कुछ अपराधी गिरफ्तार किये गये हैं, जिनसे पूछताछ पर जनपद गौतमबुद्धनगर में एक होटल व्यवसायी की हत्या की सुपारी लेने के प्ररकण में महत्वपूर्ण तथ्य प्रकाश में आये हैं। इस सम्बन्ध में दिल्ली पुलिस के अधिकारियों से समन्वय स्थापित करने पर ज्ञात हुआ कि थाना-बसन्तकुंज, साउथ दिल्ली में अभियुक्त 1-मनीष खारी निवासी ग्राम इलावास थाना फेज-2, गौतमबुद्धनगर, 2-संजय कुमार निवासी ग्राम खेड़ी भनौता, जनपद गौतमबुद्धनगर 3-चैनपाल गुर्जर निवासी ग्राम दिलावास, जनपद गुड़गांव, 4-अशोक कुमार निवासी ग्राम डेरा फतेहपुर बेरी, दिल्ली 5-हरिराम उर्फ मिन्टू निवासी ग्राम दिलावास, गुड़गावं, 6-संदीप कुमार उर्फ ढोला निवासी ग्राम फतेहपुर बेरी, दिल्ली 7-चमन प्रकाश निवासी फतेहपुर बेरी, दिल्ली 8-विजेन्द्र उर्फ खपाटा निवासी फतेहपुर बेरी, दिल्ली को गिरफ्तार किया गया है, जिनसे पूछताछ पर कुख्यात अपराधी रवि निवासी ग्राम रूपवास, जनपद-गौतमबुद्धनगर को सुन्दर भाटी गैंग के सदस्य विजय नागर निवासी ग्राम जुनैदपुर की मढ़ैया, थाना-दनकौर, जनपद-गौतमबुद्धनगर द्वारा एक होटल व्यवसायी की हत्या की सुपारी दिलायी गयी है, जिसमें उपरोक्त शूटर्स को सुपारी के 12 लाख रूपये प्राप्त भी हो चुके हैं। विजय नागर द्वारा स्वयं आगरा एवं नौएडा में उस होटल व्यवसायी की रैकी करायी गयी है तथा होटल व्यवसायी द्वारा प्रयोग की जा रही गाड़ि़यों को चिन्हित किया गया है, परन्तु उक्त घटना को कारित करने से पूर्व ही उक्त शूटर्स गिरफ्तार हो गये और घटना को अन्जाम नहीं दे सके। इस सम्बन्ध में दिल्ली पुलिस अधिकारियों द्वारा अभियुक्त विजय नागर की तलाश हेतु उत्तर प्रदेश पुलिस से सहयोग की अपेक्षा की गयी।
इस प्रकरण की गम्भीरता को दृष्टिगत रखते हुए श्री अमित पाठक, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, एस0टी0एफ0, उ0प्र0 लखनऊ द्वारा श्री राजीव नारायण मिश्र, अपर पुलिस अधीक्षक के निर्देशन एवं श्री राजकुमार मिश्रा, पुलिस उपाधीक्षक, एसटीएफ पश्चिमी गौतमबुद्धनगर के निकट पर्यवेक्षण में टीमें गठित कर अभिसूचना संकलन एवं कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया, जिसके अनुपालन में उनके द्वारा अभियुक्त विजय नागर की तलाश हेतु टीमें गठित कर अभिसूचना संकलन की कार्यवाही प्रारम्भ की गयी।
अभिसूचना संकलन के दौरान दिनांक 13.05.2017 को विश्वसनीय स्रोत के माध्यम से अभियुक्त विजय नागर के जनपद-गौतमबुद्धनगर के थाना-नॉलेजपार्क क्षेत्र में मौजूद होने की सूचना प्राप्त हुई। इस सूचना को विकसित करते हुए एस0टी0एफ0 टीम द्वारा थाना-नॉलेजपार्क पुलिस को सहयोग हेतु साथ लेकर मुखविर द्वारा बताये स्थान शारदा यूनिवर्सिटी, गोल चक्कर, थाना नॉलेजपार्क, ग्रेटर नौएडा, जनपद गौतमबुद्धनगर पहुॅचकर घेराबन्दी की गयी तथा अभियुक्त विजय नागर उपरोक्त को दिनांकः13-05-2017 की सायंकाल गिरफ्तार कर लिया गया, जिससे उपरोक्त बरामदगी हुई।
गिरफ्तार अभियुक्त विजय नागर से पूछताछ पर ये तथ्य भी प्रकाश में आये कि विजय नागर उपरोक्त पूर्व में ग्रेटर नौएडा, जनपद-गौतमबुद्धनगर से हत्या के प्रयास, अपहरण, वाहन चोरी व सरिया चोरी के अपराधों में जेल जा चुका है तथा कुख्यात अपराधी सुन्दर भाटी गैंग का करीबी एवं सक्रिय सदस्य है। होटल व्यवसायी की हत्या की साजिश रचने के दौरान उसने अपने परिचित कुख्यात अपराधी रवि रूपवास से सम्पर्क कर शूटर्स की व्यवस्था करने को कहा था। इस पर रवि रूपवास ने संजय निवासी खेड़ी भनौता के माध्यम से शूटर्स की व्यवस्था की थी, परन्तु उपरोक्त शूटरों के गिरफ्तार हो जाने के कारण वे इस घटना को अन्जाम नही दे सके। विजय नागर उपरोक्त से गहन पूछताछ के आधार पर षड़यन्त्र में सम्मलित अन्य सदस्यों के सम्बन्ध में अभिसूचना संकलन किया जा रहा है।
अभियुक्त विजय नागर का अपराधिक इतिहास –
क्रस अ0सं0 धारा थाना जनपद
1 647/12 147/148/149/307/364/511/504/506/34 भादवि व 7 क्रि0ला0एक्ट कासना गौतमबुद्धनगर
2 191/15 323/504/506 भादवि व 3(1)10एस0सी0 /एस0टी0एक्ट कासना गौतमबुद्धनगर
3 176/15 186/353/307/147/148/149 भादवि0 व 25 आर्म्स एक्ट बसन्त कुन्ज साउथ दिल्ली

गिरफ्तार अभियुक्त को थाना-नॉलेजपार्क, ग्रेटर नौएडा, गौतमबुद्धनगर में दाखिल कर उसके विरूद्ध मु0अ0सं0 175/2017 धारा 25 आर्म्स एक्ट पंजीकृत कराया गया है। अग्रिम विधिक कार्यवाही स्थानीय पुलिस द्वारा की जा रही है।

Delay In Metro Connectivity Infuriates residents of Greater Noida west

There is a problem for the residents of Noida Greater Noida, so far there is no metro connectivity. The Authority has recently announced that the Metro project will have to wait until the loans are recovered from the brokers. The people living in Gaur City and buyers of some other projects on Saturday and Sunday tweeted on this issue, which made it trending on Twitter. For this he used the #Metrodilvadoyogiji.
According to buyers, residents of Greater Noida West had sold them home with the promise of having metro connectivity there early on. He says that heavy traffic here is a big problem. More apartments will be built in the coming years, for which Metro connectivity is necessary. Amarjit Rathore, resident of Gaur City, said that while returning to the office morning and evening, noida extension Residents suffer from traffic problems. The only way to solve this problem is metro. It is not a suitable option to put this plan in the cold.
Association of home buyers, Nephova (Noida Extension Home Byers Welfare Association) has planned to raise this issue with Noida Authority. Nephova President Abhishek Kumar said that we are going to meet the CEO on Tuesday about this problem. Metro is very important for the residents here.