Daily Archive: April 25, 2017

आगामी 28 अपै्रल को अक्षय तृतीया पर्व पर बाल विवाह रोके जाने की कार्यवाही करें अधिकारी-डी एम

जिलाधिकारी एन पी सिंह ने सभी अपर जिलाधिकारी गण एवं उप जिलाधिकारी गणों को शासन से प्राप्त निर्देशों की जानकारी देते हुये आगामी 28 अपै्रल 2017 को अक्षय तृतीय पर्व पर बाल विवाह करने की कुप्रथा पर पूर्णतः अंकुश लगाने के निर्देश दिये है। उन्होनंे बताया कि रूढ़िवादी परम्परा के कारण समाज में कतिपय लोग/समुदाय अपने लड़के-लड़कियों का बाल विवाह कर देते है और प्रायः इस प्रकार के विवाह अक्षय तृतीया (आखा तीज) जैसे अवसरों पर सम्पन्न कराये जाते है और आगामी 28 अपै्रल को यह पर्व है।
डीएम ने इस सम्बन्ध में सभी अपर जिलाधिकारियों एवं उप जिलाधिकारियों को निर्देश दिये है उनके द्वारा अपने अपने क्षेत्र में इस कुप्रथा पर पूर्णतः अंकुश लगाने की कार्यवाही की जाये। उन्होनंे बताया कि बाल विवाह जैसी कुप्रथा को बाल विवाह (प्रतिषेध) अधिनियम 2006 में दिये गये उपबन्धों के अनुसार रोका जाना अनिवार्य है। इस अधिनियम के तहत बालिका 18 वर्ष एवं युवक 21 वर्ष की आयु से कम आयु में विवाह किया जाना अवैध है। सभी अधिकारियों द्वारा पूरे जनपद में इस अधिनियम को शक्ति के साथ पालन सुनिश्चित कराये जाने की कार्यवाही की जाये-राकेश चैहान सूचनाधिकारी।

प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के त हत 25 लाख तक का ऋण प्राप्त करंे युवा बेरोजगार-ड ीएम।

जिलाधिकारी एन पी सिंह ने जनपद के बेरोजगार युवक एवं युवती अपना स्वरोजगार आरम्भ करने के लिये प्रधान मंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम में 25 लाख रूपये तक का ऋण प्राप्त कर सकते है। इस योजना का लाभ उठाने के लिये लाभार्थियों को अपना ऋण आवेदन पत्र आगामी 20 मई 2017 तक जिला ग्रामोद्योग अधिकारी कार्यालय कक्ष संख्या 215 विकास भवन सूरजपुर जनपद गौतमबुद्धनगर में जमा कराना होगा और इस योजना में उनके कार्यालय से अधिकतम जानकारी भी प्राप्त की जा सकती है।
डीएम ने बताया कि इस योजना का लाभ उठाने वाले इच्छुक लाभार्थी डब्लूडब्लूडब्लू डाॅट केवीआईसी वैवसाईड से अपने लिये ऋण आवेदन पत्र अपलोड किया जा सकता है। उन्होनंे बताया कि इस योजना में प्राप्त आवेदनों का चयन जिला स्तरीय टास्क फोर्स समिति के माध्यम से किया जायेगा। अतः जो बेरोजगार इस योजना का लाभ उठाते हुये अपना स्वरोजगार आरम्भ करना चाहते है वह निर्धारित अवधि के दौरान अपना आवेदन पत्र आवश्यक रूप से जमा करा दे ताकि उन्हें आसानी के साथ इस योजना का भरपूर लाभ प्राप्त हो सकें।-राकेश चैहान सूचनाधिकारी।

जनपद के दिव्यांग गण प्रदेश सरकार द्वारा सं चालित योजनाओं का उठाये लाभ-डीएम।

जिलाधिकारी एन पी सिंह ने जनपद के समस्त दिव्यांग जनों का आहवान करते हुये जानकारी दी है कि उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा दिव्यांग जनों के लिये जो योजनायें संचालित की जा रही है उसमें मुख्यतः शादी प्रोत्साहन पुरस्कार योजना में जनपद के ऐसे दिव्यांक जिनकी शादी वर्ष 2016 एवं 2017 में हुयी है दिव्यांग युवक को 15 हजार एवं दिव्यांग युवती को 20 हजार रूपये का लाभ दिया जायेगा। इसीप्रकार ऐसे सभी दिव्यांग जन जिन्हें विगत तीन वर्षो में ट्राईसाईकिल नहीं मिली है उन्हें उपलब्ध करायी जायेगी। दोनों योजनाओं के पात्र लाभार्थियों के द्वारा अपने आवेदन पत्र अबिलम्ब रूप से कार्यालय जिला विकलांग जन विकास कमरा नम्बर 107 विकास भवन सूरजपुर गौतमबुद्धनगर में जमा करा सकते है। उन्होनंे बताया कि दोनों योजनाओं में प्रथम आवत प्रथम पावत के आधार पर लाभ दिया जायेगा।
डीएम ने कहा कि ऐसे दिव्यांग जिन्हें विकालांग पेंशन का लाभ प्राप्त हो रहा है उन्हें आधार कार्ड से लिंक करना होगा अन्यथा की स्थिति में उनकी पेंशन उनके खातों में पहुॅचना सम्भव नहीं होगां। सभी सम्बन्धित दिव्यांग जन अपने आधार कार्ड, बैंक पासबुक की छायाप्रति एवं दो पास पोर्ट साईज के फोटों तथा अपना मोवाईल नम्बर भी जिला विकलांग कार्यालय में उपलब्ध कराने की कार्यवाही करें। अन्यथा की स्थिति में उन्हें पेंशन का लाभ मिलना सम्भव नहीं होगा। दिव्यांग योजनाओं का लाभ उठाने के लिये लाभार्थी 40 प्रतिशत या उससे अधिक दिव्यांग हो और ग्रामीण क्षेत्र में 46080 तथा शहरी क्षेत्र में 56460 रूपये प्रति परिवार प्रति वर्ष आय निर्धारित है।-राकेश चौहान सूचनाधिकारी।

5 दिवसीय निःशुल्क योग शिविर सम्पन्न

ग्रेटर नोएडा नगर इकाई तथा आरोग्य भारती के संयुक्त तत्वावधान में 5 दिवसीय निःशुल्क योग प्रक्षील शिविर आज सम्पन्न हुआ। इस योग प्रशिक्षण शिविर का आयोजन दिनांक 18 अप्रैल से सैक्टर . 36एगेट न0 4 चल रहे राम कथा जो 16 अप्रैल से चल रही है और 23 अप्रैल को सम्पन्न होगीए के पंडाल में किया गया। जिसमें योग विशेषज्ञ इं0 राम औतार तायल बी0ई0;सिविलद्धए एमण्एण् ;योगद्ध प्रान्तीय सचिव ;मेरठ प्रांतद्ध आरोग्य भारती द्वारा विभिन्न प्राणायाम भस्त्रिका कपालभाति अनुलोम.विलोम भ्रामरी उदगीथ उज्जायी आदि प्राणायाम क्यों करें कब करें कैसे करें विस्तार से समझाया गया व अभ्यास कराया गया। विभिन्न प्राणायामों के साथ भिन्न भिन्न रोगों जैसे सर्वाइकल सियाटिका डायबिटीज बी पी थायराइड मोटापा तनाव आदि के निदान में सहायक योगासन जैसे गोमुखासन वक्रासन अर्धमतस्यासन अग्निसार क्रिया त्रिबन्ध मण्डूकासन मर्कटासन मकरासन आदि को भी विस्तार से समझाया गया व अभ्यास कराया गया। तथा तनाव मुक्ति हेतु आवर्तन ध्यान ;बलबसपब उमकपजंजपवदद्ध का अभ्यास कराया गया। प्रशिक्षण शिविर में 100 से ऊपर लोगों ने हिस्सा लिया । प्रशिक्षण के समापन पर धन्यवाद देते समय सेवा भारती के जिला मंत्री मयंक पाण्डेय ने सुखीए सम्पन्न तथा विकासशील रहने के लिए योग एवं प्राणायाम को जीवन का अभिन्न हिस्सा बनाकर योग के विस्तार के लिए लोगों को सपथ दिलायी।
समापन कार्यक्रम में प्रो राजीव नाथए प्रो सुनील मिश्राए अवधेश पाण्डेयए कौशल जी जिला प्रचारकए ईण् रामपाल प्रांतीय संरक्षक सेवा भारती आदि लोग उपस्थित रहे ।

शारदा यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ़ बेसिक साइं सेज एंड रिसर्च के द्वारा विश्व पृथ्वी दिवस क ा समापन

शारदा यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ़ बेसिक साइंसेज एंड रिसर्च के द्वारा विश्व पृथ्वी दिवस का समापन आज हो गया | भारत सरकार के पृथ्वी विज्ञानं मंत्रालय के सहयोग से आयोजित इस कार्यक्रम के दौरान कई प्रतियोगिताएं हुई | इस वर्ष के विश्व पृथ्वी दिवस का थीम था " सस्टेनेबल अर्थ " | आज समापन समारोह के दौरान पृथ्वी विज्ञानं मंत्रालय के निदेशक डॉ जयवीर सिंह ने मुख्य अतिथि के तौर पर सम्बोधित करते हुए कहा की भारत सरकार ग्लोबल वार्मिंग सहित कई क्षेत्रों में सकारात्मक कार्य कर रही है | डीन डॉ भास्कर भटाचार्य, प्रो राजेश कुमार ने भी उपस्थित छात्रों को सम्बोधित करते हुए पृथ्वी को बचाने का आह्वाहन किया | उन्होंने कहा की कल आपका है एवं हम जो भी कर रहे हैं आपके लिए ही हो रहा है | पर्यावरण को ठीक रखने की जिम्मेदारी हमसब की है |
इसके पहले आज कई कार्यक्रम आयोजित किये गए जिसमे जिले के 12 स्कूलों के विद्यार्थिओं ने भाग लिया | वाद विवाद प्रतियोगिता, निबंध लेखन, पेंटिंग प्रतियोगिता मॉडल मेकिंग इत्यादि कई कार्यक्रम आयोजित किये गए | निबंध लेखन का विजेता सुमरविल्ले स्कूल के अब्बाश गहलोत रहा| एपीजे स्कूल के तनीषा गुप्ता, सुकृति शर्मा, मुश्कान शर्मा ने मॉडल मेकिंग में प्रथम स्थान प्राप्त किया |
डॉ सुमन कुमार ने आये हुए अतिथिओं का धन्यवाद् दिया तथा अर्थ साइंस मंत्रालय को मदद करने के लिए धन्यवाद् देते हुए कहा की अगर हमें इस तरह मंत्रालय सहयोग करता रहा तो हमारे विधार्थी किसी भी ऊंचाई को छू सकते हैं |