Daily Archive: March 14, 2017

खेरली मोड से शुरू हुई , जेवर के विकास की शुर ूआत

विगत वर्षों से खेरली मोड, जोकि मा0 पूर्व विधायक जी का आवासी क्षेत्र भी है, से सिकन्द्राबाद जाने वाले मार्ग पर भीषण जल भराव और कीचड के चलते लोगों का जीना दुश्वार हो रहा है। यह रास्ता दिल्ली और नोएडा से कई जनपदों को जोडने वाला रास्ता है, यहां आये दिन सडक की दुर्दशा से यात्री और क्षेत्रीय जनता त्रस्त है। आज दिनांक 14 मार्च 2017 को जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह, ग्रेटर नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी श्री दीपक अग्रवाल से वार्ता की और 01 सप्ताह के अंदर इस मार्ग को गडढा मुक्त किये जाने की अपेक्षा की। महाप्रबधंक परियोजना ग्रेटर नोएडा के निर्देश पर अधिशासी अभियंता की टीम ने खेरली मोड का दौरा कर, एक दो दिन में ही कार्य प्रारम्भ किये जाने का आश्वासन दिया है।
वहीं यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण के मुख्य प्रशासनकि अधिकारी डा0 अरूणवीर सिंह से मुलाकात कर जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने जेवर को जाम मुक्त किये जाने, प्राधिकरण की तरफ से कन्या महाविधालय बनाये जाने हेतु जल्द से जल्द बोर्ड मीटिंग में प्रस्ताव पास कराकर कार्य प्रारम्भ कराये जाने की अपेक्षा की है। साथ ही यमुना प्राधिकरण में परियोजनाओं से सम्बन्धित अधिकारियों से स्पष्ट लहजे में कहा है कि ’’एक सप्ताह के अंदर रबूपुरा होते हुए ग्रेटर नोएडा से जेवर को जोडने वाले मिर्जापुर रोड, रूस्तमपुर मार्ग व रबूपुरा से पारसौल मार्ग के निर्माण तथा रबूपुरा के आस-पास जल निकासी के प्रावाधान हेतु निर्देशित किया।’’
जेवर विधायक धीरेन्द्र सिंह ने कहा कि ’’क्षेत्र की जनता अपनी समस्या और विकास के कामों की सूची व्हाटसएप्प अथवा ईमेल के माध्यम से या मिलकर उपलब्ध कर दें, जिससे कि किये गये वादों को अमलीजामा पहनाया जा सके व जेवर क्षेत्र को प्रगति के पथ पर अग्रसर किया जा सके।’’

समसारा विद्यालय के प्रतिनिधि शामिल हुए डि जास्टर मैनेजमेंट की कार्यशाला में समसारा विद ्यालय , ग्रेटर नॉएडा.

दिनांक 14/03/2017 – समसारा विद्यालय के प्रबंधकीय अधिकारी ग्रुप कैप्टेन अनिल पांडेय जी ने मंगलवार को नॉएडा में स्थित डिजास्टर मैनेजमेंट (DISASTER MANAGEMENT ) की तरफ से आयोजित कार्यशाला में भाग लिया । जिसमें जिला शिक्षा अधिकारी , फायर ब्रिगेड अधिकारी और सभी 101 विद्यालयों की प्रधानाचार्याओं ने भाग लिया | जिसका मुख्य उद्देश्य था विद्यालयों में समय – समय पर आपातकालीन स्थितियों से निपटने के लिए कार्यवाही करना या भिन्न कार्यशालाओं का आयोजन करवाना । जिससे कि विद्यार्थी आपातकालीन स्थितियों के आने पर सही व् उचित कार्यवाही कर अपनी व् अपने साथियों की रक्षा कर सके । इस कार्यशाला के तहत गौतम बुद्ध नगर के जिलाअधिकारी डॉक्टर एन. पी. सिंह जी ने यह आदेश दिया कि अप्रैल माह के अंत में नॉएडा व् ग्रेटर नॉएडा के सभी विद्यालय इस तरह की किसी भी गतिविधि का आयोजन अपने-अपने विद्यालयों में करें । यह इसलिए भी आवश्यक है कि दिल्ली व् एन . सी . आर के सभी क्षेत्र सिस्मिक जोन चार के अन्तर्गत आते हैं , जो कि भूकंप के लिए अत्यधिक संवेदनशील क्षेत्र हैं | भिन्न ड्रिलों के जरिये विद्यार्थी ऐसी परिस्थितियों में सजग रहना सीखें और बिना घबराये इनका सामना करना सीखें । समसारा विद्यालय समय – समय पर आपातकालीन स्थितियों से निपटने का प्रशिक्षण देने हेतु इस तरह की कार्यशालाओं का आयोजन करता आया है । विद्यालय के दौरान ही अचानक फायर ड्रिल व् भूकंप ड्रिल का सजीव आयोजन होता आया है । जिससे कि समसारा विद्यालय का प्रत्येक विद्यार्थी प्रत्येक आपातकालीन स्थिति का सामना करने में सक्षम बन सके और ऐसी परिस्थितियों में अपने आत्मबल पर अडिग रहे ।

उधार के पैसे माँगने पर पड़ा महँगा

गौतम बुद्ध नगर के दनकौर में अचानक से बबाल मच गया जब एक व्यक्ति अपने पैसे जो दूसरे को उधार दिए थे लेकिन उस व्यक्ति को ही पीट दिया जिसने उधार दिए थे। आपको बता दे की दनकौर के उस्मानपुर गांव निवासी एक व्यक्ति ने पड़ोस में रहने वाले दो लोगों पर उधार के पैसे मांगने पर मारपीट करने का आरोप लगाया है। पीड़ित ने आरोपियों के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज कराया है। उस्मानपुर गांव निवासी इमामुद्दीन ने बताया कि उसके पड़ोस के रहने वाले फौजी ने एक माह पहले उससे करीब 21 हजार रुपये उधार लिए थे। रविवार को जब उसने अपने उधार के पैसे मांगे तो फौजी ने अपने परिजन अबरार के साथ मिलकर लाठी डंडों से उसकी पिटाई कर दी। वही मोके पर पहुची पुलिस ने मामले को शांत करवाया वही पुलिस के अधिकारियो का कहना है की मामले की जाँच की जा रही है |अगर जाँच में कोई दोषी पाया गया उसके खिलाफ क़ानूनी कार्यवाही की जाएगी