parichowk.com

parichowk.com-greater-noida-yamuna-expressway-news

BLOOD DONATION CAMP IN GREATER NOIDA

रोटरी क्लब ग्रीन ग्रेटर नोएडा द्वारा HIMT ( हरलाल ) इंस्टीटयूट ग्रेटर नोएडा में आज दिनांक 23/2/17 को सुबह 9:00 बजे से रक्त दान शिविर लगाया जा रहा है ।
आप से निवेदन है आप शिविर में पहुँच कर रक्त दान करें ।
और रक्त दान करने के लिए लोगो को प्रेरित कर इस सामाजिक कार्य में सहयोग करने का कस्ट करें ।
रक्त दान महा दान
साल में 4 बार रक्त दान कर सकते है ।
🙏🏻धन्यवाद🙏🏻
भगवान न करे आपको रक्त की जरुरत पड़े ।
अगर आपको या आपके परीचित को कभी रक्त की जरुरत होती है तो आप हमसे सम्पर्क कर सकते है ।

मुकुल गोयल
कोषाध्यक्ष
रोटरी क्लब ग्रेटर नोएडा
9899124499

पंजाब नेशनल बैंक के कर्मचारियों ने जनधन खा तधारकों के 4000 एटीएम कार्ड जंगल में ले जाकर जला ये

पंजाब नेशनल बैंक के कर्मचारियों ने जनधन खातधारकों के 4000 एटीएम कार्ड जंगल में ले जाकर जलाये

आजाद हिंद फौज के सोल्जर को क्षेत्रवासियों ने दी श्रद्धांजलि

आज ग्रेटर नॉएडा में आजाद हिंद फौज के सिपाही का गांव पाली में निधन हो गया। जिनकी उम्र 112 वर्ष थी । जिला सूचना अधिकारी राकेश चैहान ने बताया कि 112 वर्षीय रूमाल सिंह का राजकीय सम्मान के साथ पाली गांव में अंतिम संस्कार किया गया है । अंतिम संस्कार के समय जिला प्रशासन के आला अधिकारी व क्षेत्र के गणमान्य लोग उपस्थित रहे । स्वर्गीय रूमाल सिंह ने देश की आजादी के लिए आजाद हिंद फौज में काम किया था।

ग्रेटर नोएडा के सुत्याना गांव में 12 साल के बच्चे की गला रेत कर हत्या। बिटोरे में मिला शव । पुलिस मौके पर

ग्रेटर नोएडा के सुत्याना गांव में 12 साल के बच्चे की गला रेत कर हत्या। बिटोरे में मिला शव। पुलिस मौके पर

भा ति सी पु बल के उत्तरी-पष्चिम सीमान्त में पुरुस्कार वितरण समारोह

भा ति सी पु बल के द्वारा श्री राजेष कुमार तोमर को उत्तरी-पष्चिम सीमान्त मुख्यालय, चण्डीगढ़ के स्थापना दिवस के अवसर पर महानिदेषक प्रषस्ति पत्र प्रदान किया गया।

39वीं वाहिनी भारत-तिब्बत सीमा पुलिस बल के लिये बड़ा गौरवपूर्ण रहा क्योंकि इस दिन वाहिनीं के सेनानी श्री राजेष कुमर तोमर, को उनके द्वारा किये गये सराहनीय कार्य हेतु श्री कृष्णा चौधरी,(भा.पु.से) महानिदेषक, भा0ति0सी0पु0 बल द्वारा प्रषस्ति पत्र प्रदान किया गया जो कि इस बल व 39वी वाहिनी एवं ग्रेटर नोएडा परिक्षेत्र के लिये बडी गर्व कि बात है। प्रषस्ति पत्र प्रदान करने के अन्य कारण यह भी हैं कि वाहिनीं को उच्च मुख्यालयों से जो भी कार्य दिये जाते हैं, उसे सेनानी महोदय द्वारा पूर्ण लगनता व ईमानदारी एवं कर्मनिष्ठा से पूर्ण किया जाता हैं, इसका तत्कालीन उदाहरण इस बल का स्थापना दिवस का सफल आयोजन लगातार तीसरी बार सेनानी 39वी वाहिनी की अध्यक्षता किया गया।श्री राजेष कुमार तोमर, सेनानी द्वारा समय-समय पर जवानों का मनोबल बढ़ाने हेतु अनेक कार्य किये जाते हैं जैसेः मेडिकल कैम्प, कम्पयूटर कोर्स, कैषलेस कक्षायें इत्यादि व हिमवीर व उनके परिवारो के मनोरंजन व उनके तनाव को दूर रखने के लियें भी वाहिनीं में समय-समय पर अनेक सांस्कृतिक व साहित्यक कार्यक्रमों का आयोजन भी करवाते रहते हैं।वाहिनीं में अनेक अत्यन्त महत्तवपूर्ण व्यक्तियों/सुप्रसिद्ध कलाकारो को निमन्त्रण दिया जाता हैं, जिससे हिमवीरों व उनके परिवारजनों को ऐसे विषेष कलाकारो से मिलने का मौका मिलता हैं एवं वाहिनी के जवानों का मनोबल बढा रहता है।सेनानी महोदय के अध्यक्षता में वाहिनी कैम्प परिसर के आस-पास के इलाको में भी अनेक कल्याणकारी कार्या में महत्वपूर्ण योगदान प्रदान किया जा रहा है। जैसेः-मुफ्त चिकित्सा कैम्प, मुफ्त जूडो कोर्स, महिलाओं को आत्म सुरक्षा हेतु कराते कोर्स करा कर भा0ति0सी0पु0 बल की साख को मजबूत किया हैं व इस समय आस-पास के ईलाको में भी भा0ति0सी0पु0बल की छवि अन्य बलो के मुकाबले काफी सदृढ़ हैं।

यमुना एक्सप्रेसवे पर सड़क हादसे में फैशन ड िजाइन अर्चना की मौत

आज ग्रेटर नॉएडा के यमुना एक्सप्रेसवे पर इलाहाबाद से दिल्ली लौट रही एक फैशन डिजाइन की सड़क हादसे में मौत हो गई।मिली जानकारी के अनुसार आल्टो कर में चार लोग सवार थे। रोहित श्रीवास्तव घायल सुनील वर्मा घायल हो गया है। साथ ही रोहित श्रीवास्तव ने बताया कि ऑल्टो कार डिवाइडर से टकरा कर दूसरी साइड में आगरा की तरफ जा रही और इंडिगो कार के ऊपर पलट गई। इंडिगो में एक जापानी सवार था। जो घायल हो गया है। जापानी टैक्सी लेकर दिल्ली से आगरा जा रहा था।टैक्सी छोड़कर जापानी दूसरी कार से आगरा चला गया।मर्तक अर्चना वर्मा मूल रूप से इलाहबाद की रहने बाली है और दिल्ली के कीर्तिनगर में फैशन डिजाइनर थी। अर्चना अपने परिवार बालो के साथ इलाहाबाद में अपने भाई की शादी में गई थीं। आज सुबह वे अपने भाई सुनील वर्मा और सुनील के साले रोहित श्रीवास्तव के साथ वापस लौट रही थीं। कार रोहित चला रहा था। जब वे जीरो प्वाइंट से कुछ पहले चूहड़पुर गांव पहुंचे तो उनकी आॅल्टो कार के नजदीक से निकली तेज रफ्तार स्काॅर्पियो के झोंके से रोहित धबरा गया। धबराहट में उसका कार से कंट्रोल छूट गया। कार डिवाइडर से टकराकर आगरा की ओर दूसरी लेन पर जा गिरी।इस दर्दनाक हादसे में अर्चना की मौके पर ही मौत हो गई